IIT Bombay ने कोरोनावायरस के चलते लिया बड़ा फैसला, हॉस्टल में एंट्री-एग्जिट पर लगाया बैन

Coronavirus: आईआईटी बॉम्बे ने नए आदेश में कहा है कि जो भी स्टूडेंट्स अभी तक हॉस्टल में हैं वो 20 मार्च की शाम तक हॉस्टल को खाली कर दें.

IIT Bombay ने कोरोनावायरस के चलते लिया बड़ा फैसला, हॉस्टल में एंट्री-एग्जिट पर लगाया बैन

Coronavirus: आईआईटी बॉम्बे ने स्टूडेंट्स को हॉस्टल खाली करने के दिए आदेश.

खास बातें

  • आईआईटी बॉम्बे ने स्टूडेंट्स को हॉस्टल खाली करने के दिए आदेश.
  • सभी एकेडमिक काम 31 मार्च तक रोक दिए गए हैं.
  • कोरोनावायरस से एहतियात के तौर पर ये फैसला लिया गया है.
नई दिल्ली:

IIT Bombay: कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए सरकार से लेकर तमाम यूनिवर्सिटी, स्कूलों और कॉलेजों ने बचाव के लिए कड़े फैसले लिए हैं. आईआईटी, बॉम्बे (IIT Bombay) ने अब छात्रों के हॉस्टल खाली करने की डेडलाइन भी जारी कर दी है. आईआईटी बॉम्बे ने नए आदेश में कहा है कि जो भी स्टूडेंट्स अभी तक हॉस्टल में हैं वो 20 मार्च की शाम तक हॉस्टल को खाली कर दें.

इस मसले पर मंगलवार को आईआईटी बॉम्बे के डायरेक्टर शुभाशीष चौधरी ने इमरजेंसी मीटिंग करके ये नई एडवाइजरी जारी की. हालांकि, इंटरनेशनल स्टूडेंट्स को इस नए नियम से बाहर रखा गया है. साथ ही अगर किसी की हेल्थ कंडीशन बिगड़ती है तो उन पर भी यह नियम लागू नहीं होगा. लेकिन इसके लिए एडमिनिस्ट्रेशन से परमिशन लेगी पड़ेगी.

31 मार्च तक सभी काम बंद

कोरोना (Coronavirus) के खतरे को देखते हुए आईआईटी बॉम्बे ने रिसर्च वर्क से लेकर सभी एकेडमिक काम 31 मार्च तक रोक दिए हैं. लेबोरेटरीज और लाइब्रेरीज भी बंद रखी गई हैं. जो छात्र कैंपस में मौजूद हैं डिपार्टमेंट और एकेडमिक एरिया में उनकी एंट्री पर भी बैन लगाया गया है. किसी भी बाहरी शख्स को हॉस्टल में आने की परमिशन नहीं है.

आईआईटी की तरफ से बताया गया है कि अगर ये बैन आगे बढ़ाया जाता है तो स्टूडेंट्स की इसकी जानकारी दे दी जाएगी. साथ ही मौजूदा सेमेस्टर के लिए डिस्टेंस मोड पर लेक्चर भी लिए जा सकते हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)