NEET Counselling 2020: कब से शुरू होगी नीट काउंसलिंग? यहां जानिए एडमिशन से जुड़ी जानकारी

NEET Counselling 2020: नीट काउंसलिंग 2020 की रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन मोड में की जाएगी. 

NEET Counselling 2020: कब से शुरू होगी नीट काउंसलिंग? यहां जानिए एडमिशन से जुड़ी जानकारी

NEET Counselling 2020: नीट काउंसलिंग 2020 की रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन मोड में की जाएगी. 

नई दिल्ली:

NEET Counselling 2020: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) नीट 2020 परीक्षा का रिजल्ट जारी कर चुकी है. NEET परिणाम 2020 की घोषणा के बाद अब एमबीबीएस (MBBS) और बीडीएस (BDS) कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए चिकित्सा परामर्श समिति (MCC) की ओर से स्वास्थ्य विज्ञान महानिदेशालय (DGHS) NEET काउंसलिंग 2020 का शेड्यूल जारी करेगा. नीट काउंसलिंग की तारीखें अक्टूबर के अंत में जारी होने की उम्मीद है. नीट काउंसलिंग 2020 की रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन मोड में की जाएगी. 

अखिल भारतीय NEET 2020 काउंसलिंग के दौरान NEET योग्य उम्मीदवारों के लिए लगभग 317 MBBS और 22 डेंटल ESIC सीटें AIQ कोटा के तहत उपलब्ध होंगी.

NEET काउंसलिंग प्रक्रिया में कुल 235 मेडिकल कॉलेज भाग लेंगे. NEET 2020 काउंसलिंग के कुल तीन राउंड आयोजित किए जाएंगे, जिसमें मोप-अप राउंड भी शामिल होगा. काउंसलिंग का मोप-अप राउंड केवल डीम्ड / सेंट्रल यूनिवर्सिटी और ESIC कॉलेज के लिए आयोजित किया जाएगा. 

NEET Results 2020: नीट के टॉपर शोएब आफताब को ओडिशा के मुख्यमंत्री ने किया कॉल, उज्ज्वल भविष्य की दीं शुभकामनाएं

NEET Counselling 2020: ये है नीट काउंसलिंग की प्रक्रिया

1. रजिस्ट्रेशन
काउंसलिंग के लिए सबसे पहले Mcc.nic.in पर रजिस्टर करें. उम्मीदवारों को अपना रोल नंबर, पंजीकरण संख्या, नाम, माता का नाम और जन्म तिथि डालनी होगी.

2. काउंसलिंग की फीस
उम्मीदवारों को नीट काउंसलिंग प्रक्रिया में योग्य होने के लिए निर्धारित समय के भीतर काउंसलिंग की फीस का भुगतान करना होगा. फीस का भुगतान क्रेडिट कार्ड / डेबिट कार्ड या इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से किया जा सकता है. 

3. एक्सरसाइजिंग और लॉकिंग च्वॉइस
अपनी पसंद का कोर्स चुनें और कॉलेज / संस्थान की प्राथमिकताएं बताएं. 

4. सीट अलॉटमेंट लिस्ट
प्रत्येक राउंड के बाद नीट सीट अलॉटमेंट का रिजल्ट जारी किया जाएगा. 

Newsbeep

कब और कैसे हुई नीट की परीक्षा?
नीट की परीक्षा के लिए कुल 15.97 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था. इनमें से 85 फीसदी से 90 फीसदी परीक्षार्थियों ने एग्जाम दिया था. इस साल करीब 14.37 लाख से अधिक उम्मीदवार महामारी के बावजूद 13 सितंबर को प्रवेश परीक्षा में शामिल हुए थे.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कंटेनमेंट जोन में होने के चलते जो छात्र परीक्षा नहीं दे पाए थे उनके लिए 14 अक्टूबर को फिर से परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले परीक्षार्थियों को देश के सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में संचालित एमबीबीएस व बीडीएस कोर्सेज में एडमिशन मिलेगा.