NDTV Khabar

पेशावर आतंकी हमले में बुरी तरह घायल नवाज दुनिया भर के लिए बना मिसाल, कर रहा है ये काम

पाकिस्तान में तीन साल पहले सुबह के समय हुआ था स्कूल में आतंकवादी हमला, घटना में मारे गए थे 132 बच्चे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेशावर आतंकी हमले में बुरी तरह घायल नवाज दुनिया भर के लिए बना मिसाल, कर रहा है ये काम

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: अगर आपमें दृढ़इच्छा शक्ति हो और आप किसी बाधा को पार करने  का माद्दा रखते हैं तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता. ऐसा ही कुछ कर दिखाया है अहमद नवाज ने. वह पेशावर स्कूल में हुए आतंकवादी हमले में बुरी तरह घायल हो गया था. हमले में घायल होने के बाद नवाज कई महीनों तो आईसीयू में जिंदगी और मौत से लड़ता रहा. बावजूद इसके उसने पढ़ाई नहीं छोड़ी. अपनी दृढ़ इच्छा शक्ति की वजह से ही नवाज आज दुनिया भर में आतंकवाद के खिलाफ लड़ रहे लोगों के लिए मिसाल बन गया है. इस घटना के तीन साल पूरे होने पर नवाज ने एक इमोशनल ट्वीट किया.
 

यह भी पढ़ें: मुंबई के ऑटो रिक्शा चालक की बेटी सीए परीक्षा में टॉपर

नवाज ने लिखा कि आतंकवादियों ने हमारे स्कूल पर हमला कर मेरे 132 दोस्तों की हत्या की.  वो (आतंकवादी) सोचते होंगे कि हम डर गए और आगे अपनी पढ़ाई जारी नहीं रखेंगे.  लेकिन वह हमें नहीं डरा पाए. इस हमले ने मुझे डराने की जगह मुझे और ताकत दी कि मैं अपनी पढ़ाई को जुनून के साथ पूरा कर पाऊं. उनके इस  ट्वीट को दुनिया भर से सराहा जा रहा है.
 

नवाज ने लोगों से अपील की है कि वह आतंकवाद के खिलाफ आवाज उठाएं. उन्होंने कहा कि हमें चाहिए हम डरे बगैर वो काम करें जिससे हमारे बच्चों का भविष्य बेहतर हो. हमें बच्चों को शिक्षत करना जरूरी है.बैगर ऐसा किए हम अपने अंदर के डर को खत्म नहीं कर पाएंगे.

टिप्पणियां
VIDEO: एक साथ 16 लोगों ने भरी सपनों की उड़ान


मेरे साथ जो हुआ मैं उससे डरा नहीं और मैने अपनी पढ़ाई जारी रखी. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement