NDTV Khabar

बीएमसी के सड़क निर्माण के 58 फीसदी काम अधूरे : कैग रिपोर्ट

महाराष्ट्र विधानसभा में पेश की गई कैग रिपोर्ट से पता चलता है कि मुंबई की सड़कें कितनी बदहाल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीएमसी के सड़क निर्माण के 58 फीसदी काम अधूरे : कैग रिपोर्ट

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. 2013 से 2017 तक शहर में 843.93 किलोमीटर सड़कें बननी थीं
  2. केवल 397.77 किलोमीटर सड़कों का ही काम पूरा हो सका
  3. बीएमसी के पास बजट के करीब 1387 करोड़ रुपये बकाया
मुंबई: मुंबई में भारी मानसून के बाद सड़कों पर उभरे गड्ढों से जहां लोग परेशान हैं और बीएमसी प्रशासन पर सवाल उठा रहे हैं, वहीं शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा में कैग रिपोर्ट पेश की गई जिससे पता चलता है कि वाकई मुंबई की सड़कें कितनी बदहाल हैं.

कैग की और से पेश की गई रिपोर्ट में बताया गया है कि 2014 के मास्टर प्लान के मुताबिक साल 2013 से साल 2017 के बीच बीएमसी को शहर में 843.93 किलोमीटर सड़कों का निर्माण और मरम्मत का काम पूरा करना था लेकिन केवल 397.77 किलोमीटर सड़कों का ही काम पूरा हो सका.

रिपोर्ट में बताया गया है कि बीएमसी को सड़कों के निर्माण और मरम्मत का जो लक्ष्य दिया गया था उसमें से अब भी 58 फीसदी काम अधूरा रह गया है साथ ही पूरे बजट में से बीएमसी के पास अब भी करीब 1387 करोड़ रुपये की राशि बकाया रह गई है.

यह भी पढ़ें : मुंबई से सटे कल्याण में खराब सड़कें बनीं हादसों की वजह, डढ़े महीने में 5 मौतें

ठेकों में हुई धांधली
कैग रिपोर्ट में बताया गया है कि शहर में सड़क के निर्माण और मरम्मत के लिए दिए गए ठेकों में गड़बड़ी होने के कई लक्षण साफ़ नज़र आते हैं. नियम के अनुसार किसी भी मरम्मत और रखरखाव के लिए कई ठेकेदार बोली लगाते हैं और सबसे कम पैसों में सड़कों की देखभाल करने की बोली लगाने वाले को ठेका दिया जाता है. लेकिन मुंबई की कई सड़कों पर ऐसा नहीं हुआ है और सबसे कम बोली लगाने वाले को ठेका देने के बजाय किसी दूसरे ठेकेदार को सड़कों के रखरखाव का काम दिया गया है.

निष्पक्ष जांच कराई जाए
कैग रिपोर्ट के सामने आने के बाद अब विपक्ष ने प्रशासन को घेरना शुरू कर दिया है. बीएमसी में विरोधी पक्ष नेता रवि राजा ने इस पूरे मामले में मुख्यमंत्री से निष्पक्ष जांच कराने की मांग की है और साथ ही सीमित समय में रिपोर्ट पेश कर गुनहगारों पर कार्रवाई करने की मांग भी की है.

यह भी पढ़ें : बारिश में दिल्ली और मुंबई के बुरे हाल पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को लगाई फटकार

नहीं है कैग रिपोर्ट की कोई जानकारी...
हालांकि बीएमसी में सत्ता में बैठी शिवसेना ने अब तक कैग रिपोर्ट नहीं मिलने का दावा किया है.  लेकिन बीएमसी के स्थाई समिति के अध्यक्ष और शिवसेना नेता यशवंत जाधव ने कहा कि जहां पर भी सड़कों के निर्माण और मरम्मत की ज़रूरत होगी, वो बीएमसी की ओर से किया जाएगा. साथ ही शिवसेना नेता ने यह भी कहा कि अगर सड़कों की ठेकेदारी देने में कोई भी धांधली की जानकारी मिलती है, तो दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

टिप्पणियां
VIDEO : सड़कों पर जानलेवा गड्ढे

मुंबई के आसपास अब तक हुईं 6 मौत
मुंबई से सटे कल्याण इलाके में खराब सड़क और सड़कों पर मौजूद गड्ढों के कारण अब तक पांच लोग अपनी जानन गंवा चुके हैं और नवी मुंबई में भी खराब सड़क के कारण एक की मौत हो चुकी है. ऐसे में देश की सबसे अमीर महानगरपालिका में  सड़क के 58 फीसदी काम अधूरे रहने के कारण अब प्रशासन पर कई सवाल उठना शुरू हो गए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement