दिल्ली में एंटी डस्ट कैम्पेन, पर्यावरण मंत्री ने कहा- सहयोग नहीं करने वालों को मिलेगा सबक

दिल्ली में फिक्की सभागार के डिमोलिशन स्थल पर अनियमितता पाई गई. उस पर 20 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया

दिल्ली में एंटी डस्ट कैम्पेन, पर्यावरण मंत्री ने कहा- सहयोग नहीं करने वालों को मिलेगा सबक

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

दिल्ली (Delhi) के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Environment Minister Gopal Rai) ने कहा है कि प्रदूषण (Pollution) के खिलाफ युद्ध चल रहा है. इसके तहत डस्ट प्रदूषण को कम करने के लिए एंटी डस्ट कैम्पेन (Anti Dust Campaign) जारी है. अलग-अलग क्षेत्रों में 14 टीमें डस्ट के मापदंड का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ़ काम कर रही हैं. उन्होंने कहा कि मैंने खुद कई साइटों की विजिट की, जहां से इसे लेकर शिकायतें आई थीं. खास तौर से 20 हजार वर्ग मीटर से बड़ी साइटों की मैंने विजिट की. फिक्की सभागार के डिमोलिशन स्थल पर अनियमितता पाई गई. उस पर 20 लाख रुपये का जुर्माना लगा.

गोपाल राय ने कहा कि कल की विजिट में रास्ते में एक साइट दिखी जो 20 हजार स्क्वेयर मीटर से कम की थी. कल जिन दो साइटों का निरीक्षण किया वहां पर एंटी स्मॉग गन लगी थी. कई जगह पता चला है कि 20 हजार से कम की साइटों पर भी मानकों का उल्लंघन हो रहा है. अब कोई भी साइट, जहां काम हो रहा है, वो चाहे प्राइवेट हो या सरकारी, सबको पांच चीजों की गारंटी देनी होगी. 10 मीटर की हाइट का टिन शेड लगाना होगा. ग्रीन तिरपाल से टीन शेड को कवर करना होगा. कार्यस्थल के अंदर और बाहर नियमित पानी का छिड़काव करना होगा. कार्यस्थल के अंदर भी मिट्टी को नेट से ढंकना होगा. किसी भी गाड़ी से कंस्ट्रक्शन मटेरियल लाया जा रहा हो तो उसे ढंककर लाया जाए और चक्कों को भी लगातार धोया जाए.

उन्होंने कहा कि गाड़ियों के जरिए जो मिट्टी सड़कों पर आती है, वो टूटते-टूटते पीएम 10 के रूप में आ जाती है और सांसों में चली जाती है, जो खतरनाक होता है. हम सबसे इस मामले में सहयोग चाहते हैं और कोई सहयोग न करने की जिद पर उतारू हैं, तो हमारी भी जिद है कि उनकी जिद नहीं चलने देंगे.

Newsbeep

वायु प्रदूषण को लेकर दिल्ली सरकार अलर्ट, पर्यावरण मंत्री ने NCRTC की निर्माण साइट पर लगाया 50 लाख का जुर्माना

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राय ने कहा कि आज से 13 हॉट स्पॉटों की माइक्रो मॉनिटरिंग शुरू की गई है. साउथ एमसीडी में 7, नॉर्थ एमसीडी में 5 और ईस्ट एमसीडी में 2 हॉट स्पॉट हैं. इसके लिए 9 डीसी को नोडल ऑफिसर बनाया गया है. आज एक महत्वपूर्ण मीटिंग की है, 14 तारीख तक सभी डीसी अपने एरिया की सभी एजेंसियों के लोगों के साथ मीटिंग करेंगे. जो एजेंसियां कोऑपरेट नहीं कर रह रही हैं, उन पर कार्रवाई करेंगे.  ग्रीन ऐप लॉन्च होने से पहले ऐप के बैकएंड की तैयारी अलग-अलग एजेंसियों के साथ मिलकर कम कर रहे हैं. कल से बायो डिकम्पोजर के छिड़काव की शुरुआत करेंगे. नरेला क्षेत्र के हिरनकी गांव से मुख्यमंत्री छिड़काव की शुरुआत करेंगे.