NDTV Khabar

एनडीटीवी के संस्थापकों के ख़िलाफ़ कार्रवाई मीडिया की आज़ादी का पूरी तरह उल्लंघन

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एनडीटीवी के संस्थापकों के ख़िलाफ़ कार्रवाई मीडिया की आज़ादी का पूरी तरह उल्लंघन

बुनियादी अधिकारों का पूरी तरह उल्लंघन करते हुए और मीडिया को लगातार शर्मनाक ढंग से ये चेतावनी देते हुए कि पूरी तरह दंडवत होने से कम उन्हें कुछ भी मंज़ूर नहीं है, एनडीटीवी के संस्थापकों राधिका और प्रणय रॉय को आज देश से बाहर जाने से रोक दिया गया. उन्हें एक सप्ताह बाहर रहना था और 15 तारीख़ को उनकी वापसी का टिकट था. उनको एक ऐसे फ़र्ज़ी और बेबुनियाद भ्रष्टाचार के मामले को आधार बना कर रोका गया है जो सीबीआई ने दो साल पहले उनकी कंपनी आरआरपीआर द्वारा आईसीआईसीआई बैंक से लिए गए एक लोन को लेकर दर्ज किया था जो समय से पहले सूद समेत पूरी तरह वापस कर दिया गया था. इस मामले को एनडीटीवी के संस्थापकों और उनकी कंपनी द्वारा दिल्ली हाइकोर्ट में चुनौती दी गई जहां ये मामला दो साल से लंबित है. इस मामले में राधिका और प्रणय रॉय पूरी तरह सहयोग कर रहे हैं और वे लगातार देश से बाहर आते-जाते रहे हैं तो ये संकेत देना हास्यास्पद है कि उनका बाहर जाना ख़तरनाक हो सकता है. अधिकारियों ने आज की कार्रवाई के बारे में न अदालत को जानकारी दी जहां ये मामला लंबित है, न राय दंपति को. मीडिया मालिकों पर छापों के साथ ये भी मीडिया को एक चेतावनी है कि वो उनके पीछे चले या नतीजा भुगते.