NDTV Khabar

IND vs SA: भुवनेश्‍वर कुमार ने दक्षिण अफ्रीका दौरे में तेज गेंदबाजों के लिए इस बात को माना चुनौती

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ क्रिकेट सीरीज में स्विंग गेंदबाज भुवनेश्‍वर कुमार मेजबान टीम के लिए प्रमुख चुनौती साबित हो सकते हैं. भारतीय टीम प्रबंधन को उम्‍मीद है कि यूपी के तेज गेंदबाज भुवनेश्‍वर कुमार अपने स्विंग से दक्षिण अफ्रीकी बल्‍लेबाजों के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं.

25 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs SA: भुवनेश्‍वर कुमार ने दक्षिण अफ्रीका दौरे में तेज गेंदबाजों के लिए इस बात को माना चुनौती

भुवनेश्‍वर कुमार अपनी स्विंग गेंदबाजी से विपक्षी बल्‍लेबाजों की कठिन परीक्षा लेते हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, कूकाबूरा गेंद से बॉलिंग करना होगा चुनौतीपूर्ण
  2. लंबे स्‍पैल फेंकने पर है भारतीय तेज गेंदबाजों का ध्‍यान
  3. स्विंग गेंदबाजी से टीम इंडिया के लिए ट्रंप कार्ड हो सकते हैं भुवी
केपटाउन:
टिप्पणियां

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ क्रिकेट सीरीज में स्विंग गेंदबाज भुवनेश्‍वर कुमार मेजबान टीम के लिए प्रमुख चुनौती साबित हो सकते हैं. भारतीय टीम प्रबंधन को उम्‍मीद है कि यूपी के तेज गेंदबाज भुवनेश्‍वर कुमार अपने स्विंग से दक्षिण अफ्रीकी बल्‍लेबाजों के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं. वैसे, भुवी का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में ‘अतिरिक्त उछाल’ मिलना अच्छा बदलाव है लेकिन लाल कूकाबूरा गेंद से गेंदबाजी करना चुनौतीपूर्ण होगा. दो शिफ्ट में हुए शुरूआती अभ्यास सत्र के बाद भारतीय टीम ने वेस्टर्न प्रोविंस क्रिकेट क्लब में हवा और नमी भरे मौसम के कारण इंडोर अभ्यास किया.

भारतीय तेज गेंदबाजों का अभी तक ध्यान लंबे स्पैल की गेंदबाजी पर लगा हुआ है क्योंकि 5 जनवरी से न्यूलैंड्स में शुरू होने वाले पहले टेस्ट के बाद से उन्हें पूरी सीरीज में लंबे स्पैल में गेंदबाजी करनी होगी. भुवनेश्वर ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, ‘जब आप दक्षिण अफ्रीका का दौरा करते हो तो आपके दिमाग में सबसे पहली चीज आती है ‘उछाल भरा विकेट. लेकिन फिर भी यह निश्चित नहीं होता कि आपको मैच में किस तरह की पिच मिलेगी.’जहां बल्लेबाजों को उछाल भरी पिच पर अनुकूलित होने में दिक्कत होगी तो गेंदबाजों को कूकाबूरा से गेंदबाजी करने में सामंजस्य बिठाना होगा. भुवी ने कहा, ‘जब बल्लेबाजों की बात होती है तो उछाल से निपटना काफी अहम है. लेकिन गेंदबाजों के लिए भी यह महत्वपूर्ण होता है. कूकाबूरा से गेंदबाजी करना सबसे कठिन है. 25-30 ओवर के बाद यह ज्यादा कुछ नहीं करती, इसलिए हम इस तरह के हालात के अनुसार तैयारी की कोशिश कर रहे हैं.’उन्‍होंने कहा कि तेज गेंदबाजी आक्रमण ने अभी मैच के लिए रणनीति बनाना शुरू नहीं किया है और उनका ध्यान लंबे स्पैल की गेंदबाजी पर है. इस स्विंग बॉलर ने कहा, ‘हमने अभी तक योजना के बारे में बात नहीं की है. ध्यान सिर्फ बेसिक्स पर है. हो सकता है पहले टेस्ट के शुरू होने से दो दिन पहले हम ऐसा करेंगे. हम देखेंगे कि बल्लेबाजों के अनुसार कैसे रणनीति बनाए. ’भुवनेश्वर ने कहा, ‘हमने टेस्ट की लय में आने के लिये दो अभ्यास सत्र किए. टेस्ट मैच में छह घंटे का खेल होगा इसलिए हमने दो बार गेंदबाजी की. हम चाहते थे जहां तक संभव हो,लंबे समय तक गेंदबाजी करें. ’भारत ने दक्षिण अफ्रीका में अभी तक कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है लेकिन पिछले दो वर्षों से टीम काफी अच्छा खेल रही है और इस दौरान उसने दोबारा नंबर एक रैंकिंग भी हासिल की.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की तारीफ
भुवनेश्वर को लगता है कि मौजूदा शानदार फॉर्म के चलते भारतीय टीम के पास दक्षिण अफ्रीका में अपना रिकॉर्ड सुधारने का अच्छा मौका है. उन्होंने कहा, ‘हर कोई आत्मविश्वास से भरा है. हम जानते हैं कि हमारे पास दक्षिण अफ्रीका में सीरीज जीतने का बढ़िया मौका है लेकिन ऐसा करने के लिए हमें अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा. हमने पिछले दो वर्षों में काफी अच्छा किया है और हमें पूरा भरोसा है कि हम इन हालात में अच्छा करेंगे.’  (इनपुट:भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement