NDTV Khabar

IND VS SA: ...क्या विराट कोहली कर पाएंगे कमाल?.. दिग्गज हो चुके हैं फेल!

प्रतिबंध के वजह से 21 साल तक क्रिकेट से दूर रहने के बाद 1991 में जब दक्षिण अफ्रीका ने भारत का दौरा किया तब दक्षिण अफ्रीका के प्रदर्शन के ऊपर सबकी नजर थी, उस वक्त टीम इंडिया का कमान मोहम्मद अजहरुद्दीन के हाथ में थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND VS SA: ...क्या विराट कोहली कर पाएंगे कमाल?.. दिग्गज हो चुके हैं फेल!

विराट कोहली का फाइल फोटो

खास बातें

  1. कोहली के सामने विराट चुनौती?
  2. क्या खत्म हो पाएगा 26 साल का सूखा?
  3. पांच जनवरी से है पहला टेस्ट मैच
नई दिल्ली: प्रतिबंध के वजह से 21 साल तक क्रिकेट से दूर रहने के बाद 1991 में जब दक्षिण अफ्रीका ने भारत का दौरा किया तब दक्षिण अफ्रीका के प्रदर्शन के ऊपर सबकी नजर थी, उस वक्त टीम इंडिया का कमान मोहम्मद अजहरुद्दीन के हाथ में थी. भारत के खिलाफ इस सीरीज में दक्षिण अफ्रीका ने साबित कर दिया था की वह कोई कमजोर टीम नहीं है. साउथ अफ्रीका इस सीरीज को 2-1 से जरूर हार गया था लेकिन भारत की घरेलू मैदान पर साउथ अफ्रीका के खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया था. इसके बाद टीम इंडिया के दिग्गज कप्तानों ने दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया, लेकिन उन्हें वहां कामयाबी नहीं मिली. और अब सभी की निगाहें टीम विराट पर लगी हुई हैं. 
 
तब साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज़ एलन डोनाल्ड पहली एकदिवसीय मैच में पांच विकेट लेकर यह साबित कर दिया था कि वह कितने खतरनाक गेंदबाज़ है. तब से दक्षिण अफ्रीका मैदान पर भारत का प्रदर्शन खास नहीं रहा है. अहरुद्दीन से लेकर धोनी तक यहां अपने टीम को सीरीज जिताने में नाकाम रहे हैं. साल 1992 से लेकर अब तक दोनों टीम के बीच 12 टेस्ट सीरीज खेला जा चुका है. इसमें से छह सीरीज साउथ अफ्रीका ने जीती हैं, तो तीन सीरीज भारत ने अपने नाम की हैं. तीन सीरीज ड्रॉ रही हैं लेकिन अभी तक भारत दक्षिणअफ्रीका के मैदान पर एक भी टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाब नहीं हो पाया है।

यह भी पढ़ें : IND VS SA : भारत के खिलाफ दक्षिण अफ्रीका टीम का ऐलान...इस दिग्गज की हुई वापसी

जब अजहरुद्दीन की कप्तानी भारत किया था दक्षिण अफ्रीका का दौरा
भारत ने दक्षिण अफ्रीका के मैदान पर छह टेस्ट सीरीज खेल चुका है जिस में से पांच में हार का सामना करना पड़ा है जबकि एक सीरीज ड्रॉ रही है. साल 1992 में पहली बार टीम इंडिया मोहम्मद अजहरुद्दीन के कप्तानी में चार टेस्ट मैच खेलने के लिए साउथ अफ्रीका का दौरा किया था और इस सीरीज को 0-1 से हार गया था. इस सीरीज के जरिए भारत प्रवीण आमरे और अजय जडेजा जैसे खिलाड़ियों ने टेस्ट करियर का आगाज किया था. आमरे ने पहली टेस्ट मैच शतक जड़ कर सब को हैरान कर दिया था और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत के तरफ से टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए थे.  दूसरे टेस्ट मैच में सचिन तेंदुलकर ने शतक बनाया था, जबकि तीसरे टेस्ट में कपिल देव ने शतक ठोका था.  कपिल देव का टेस्ट करियर का यह आखिरी शतक था. साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत सात एकदिनी मैच भी खेला था लेकिन पांच मैचों में हार का सामना करना पड़ा था. अजहरुद्दीन की कप्तानी में भारत टेस्ट और एकदिनी सीरीज हारकर लौटा था.

यह भी पढ़ें : IND VS SA: इसलिए शिखर धवन का परिवार दुबई हवाई अड्डे पर फंसा...अधिकारियों का खराब बर्ताव

तेंदुलकर, गांगुली और द्रविड़ नहीं कर पाए कमाल :
सचिन तेंदुलकर, सौरभ गांगुली और राहुल द्रविड़ के कप्तानी में भी टीम इंडिया एक भी टेस्ट सीरीज या एकदिवसीय सीरीज साउथ अफ्रीका के मैदान पर साउथ अफ्रीका के खिलाफ नहीं जीत पाया है. तेंदुलकर के कप्तानी में भारत ने 1996 में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने के लिए साउथ अफ्रीका का दौरा किया था और सीरीज को 0-2 से हार गया था। एलन डोनल्ड के गेंदबाज़ी के सामने टीम इंडिया के बल्लेबाज बेबस नज़र आए थे।  डोनाल्ड ने इस सीरीज में कुलमिलाकर 20 विकेट लेकर 'मैन ऑफ़ द सीरीज' बने थे. 2001 में सौरभ गांगुली के कप्तानी में टीम इंडिया दो टेस्ट मैच की सीरीज को 0-1 से हार गया था. 2006 में राहुल द्रविड़ के कप्तानी में पांच एकदिवसीय और तीन टेस्ट सीरीज खेलने के लिए टीम इंडिया साउथ अफ्रीका दौरा किया था और दोनों सीरीज हार गया था. लेकिन द्रविड़ के कप्तानी में साउथ अफ्रीका के मैदान पर टीम इंडिया अपना पहला टेस्ट मैच जीतने में कामयाब रहा था.    

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : अनुष्का का बैग उठाकर होटल पहुंचे विराट कोहली, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो
 
धोनी फेल.. क्या कोहली रचेंगे इतिहास 
साल 2010 में तीन टेस्ट और पांच एकदिनी मैच खेलने के लिए टीम इंडिया साउथ अफ्रीका का दौरा किया था. तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 1-1 में ड्रॉ रहा था. यह पहली बार हुआ था जब साउथ अफ्रीका के मैदान पर भारत कोई टेस्ट सीरीज ड्रा करवाने में कामयाब रहा था. पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज को टीम इंडिया 2-3 से हार गया था. साल 2013 में भी धोनी के कप्तानी में दो टेस्ट मैच और तीन एकदिनी मैच खेलने के लिए टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका का दौरा किया था और दोनों सीरीज हार गया था.  श्रीलंका के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया साउथ अफ्रीका दौरे के लिए रवाना हो गया है. विराट कोहली के कप्तानी में 17 सदस्यों की टीम साउथ अफ्रीका में तीन टेस्ट, छह एकदिवसीय और तीन टी 20 मैच खेलेगी.

VIDEO: प्रैस कॉन्फ्रैंस में विराट कोहली ने क्या-क्या कहा, खुद सुन लीजिए.

विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया पिछले 30 महीने से लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीत चुका है लेकिन टीम इंडिया की लिए यह असली परीक्षा होगी. अगर विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीकी मैदान पर टेस्ट या वनडे सीरीज जीत जाती है, तो टीम विराट ऐसा कारनामा करने वाली पहली टीम होगी.  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement