NDTV Khabar

भारत के इस युवा तेज गेंदबाज की यॉर्कर फेंकने की क्षमता के कायल हुए ग्‍लेन मैक्‍ग्राथ

यदि किसी तेज गेंदबाज को महान ग्‍लेन मैक्‍ग्राथ की तारीफ हासिल हो तो निश्चित ही उसमें कुछ न कुछ खास बात होगी.

368 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत के इस युवा तेज गेंदबाज की यॉर्कर फेंकने की क्षमता के कायल हुए ग्‍लेन मैक्‍ग्राथ

बासिल थंपी ने इस आईपीएल सीजन में अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मैक्‍ग्राथ बोले, थंपी जैसे खिलाड़ी भविष्‍य में भारतीय टीम की मदद करेंगे
  2. अंकित राजपूत और अनिकेत चौधरी की भी प्रशंसा की
  3. इस आईपीएल सीजन में गुजरात लायंस की ओर से खेले थे थंपी
चेन्नई: यदि किसी तेज गेंदबाज को महान ग्‍लेन मैक्‍ग्राथ की तारीफ हासिल हो तो निश्चित ही उसमें कुछ न कुछ खास बात होगी. ऑस्‍ट्रेलिया के महान तेज गेंदबाजों में से एक मैक्‍ग्राथ ने युवा तेज गेंदबाज बासिल थंपी की यॉर्कर फेंकने में महारत के कारण जमकर प्रशंसा की है. गौरतलब है कि आईपीएल के इस सीजन में केरल के तेज गेंदबाज थंपी ने अपने प्रदर्शन से हर किसी की सराहना हासिल की थी. थंपी 140 किलोमीटर प्रति घंटा के आसपास की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं. टेस्‍ट क्रिकेट में 563 आरैर वनडे में 381 विकेट हासिल कर चुके मैक्‍ग्राथ इस समय एमआरएफ पेस फाउंडेशन के साथ जुड़े हुए हैं. थंपी इस आईपीएल सीजन में गुजरात लायंस की ओर से खेलते हैं.

मैक्‍ग्राथ ने  कहा कि भले ही भारत में तेज गेंदबाजी करना काफी कठिन हो लेकिन हाल के दिनों मे युवा प्रतिभाशाली गेंदबाज जैसे बासिल थम्पी को देखना अच्छा है. उन्होंने यहां एमआरएफ पेस फाउंडेशन और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के बीच जुड़ाव की रजत जयंती के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में कहा, ‘भारतीय आक्रमण में अब काफी अच्छे गेंदबाज हैं और थंपी जैसे खिलाड़ी और अन्य गेंदबाजों के आने से भविष्य में टीम की मदद ही होगी.’

आईपीएल 10 : गुजरात लायंस के सहायक कोच बोले, हमारे 'यॉर्कर मैन' ने बड़ा अंतर पैदा किया

उन्‍होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि पेस फाउंडेशन के तीन ट्रेनी खिलाड़ियों को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भारत ‘ए’ टीम में चुना गया है. थम्पी की प्रशंसा करते हुए कहा, ‘‘वह काफी अच्छा है. इस साल आईपीएल में उसके प्रदर्शन से उसे एमर्जिंग प्लेयर का पुरस्कार मिला. उसने अकादमी में काफी कुछ सीखा है.’ मैक्‍ग्राथ ने थंपी के साथ दो अन्‍य तेज गेंदबाजों अंकित राजपूत और अनिकेत चौधरी के खेल कौशल को भी सराहा. 23 साल के थंपी ने अब तक 11 प्रथम श्रेणी मैच खेलते हैं और 18 विकेट हासिल किए हैं. इससे पहले भारतीय टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले भी नाथू सिंह और बासिल थंपी की गेंदबाजी को प्रशंसा कर चुके हैं. (एजेंसी से इनपुट)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement