पिता की तरह क्रिकेट के मैदान पर नहीं कर पाया कोई कमाल, 29 साल की उम्र में लेना पड़ा संन्यास

लिस्टेयर मैकडरमोट (Alister McDermott) ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर लिया है. अपने फर्स्ट क्लास करियर में  20 मैच खेले और इस दौरान  75 विकेट लेने में सफल रहे.

पिता की तरह क्रिकेट के मैदान पर नहीं कर पाया कोई कमाल, 29 साल की उम्र में लेना पड़ा संन्यास

एलिस्टेयर मैकडरमोट ने किया संन्यास का ऐलान

ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज एलिस्टेयर मैकडरमोट (Alister McDermott) ने संन्यास का ऐलान कर लिया है.  Alister McDermott ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में  20 मैच खेले और इस दौरान  75 विकेट लेने में सफल रहे. बता दें कि एलिस्टेयर के पिता का नाम क्रेग मैकडरमॉट है. क्रेग मैकडरमॉट (Craig McDermott) का करियर शानदार रहा था और ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए 71 टेस्ट मैच खेले और 291 विकेट लेने में सफल रहे थे. इसके अलावा क्रेग ने 138 वनडे मैचों में 203 विकेट लेने में सफल रहे. वहीं. उनके बेटे एलिस्टेयर मैकडरमोट (Alister McDermott) ने केवल 18 साल की उम्र में फर्स्ट क्लास में डेब्यू किया था लेकिन अपने करियर के दौरान ज्यादातर चोटिल ही रहे. यही वजह रही की उन्होंने बेहद जल्द ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया.

जब क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों से भरा जहाज भयानक समुद्री तूफान में डूब गया, हो गई थी क्रिकेटरों की मौत

चोट के कारण लिया संन्यास

एलिस्टेयर मैकडरमोट (Alister McDermott) बिग बैश के दूसरे सीजन में ब्रिसबेन हीट टीम के सदस्य रहे हैं तो वहीं क्वींसलैंड टीम की ओर से खेलते हुे शेफील्ड शील्ड और वनडे खिताब भी जीतने में सफलता पाी है.बता दें कि साल 2011 में उन्होंने घरेलू क्रिकेट में शानदार परफॉमेंस किया लेकिन करियर के अहम समय में चोटिल होने से उनका चयन ऑस्ट्रेलिया की नेशनल टीम में नहीं हो पाया. एलिस्टेयर ने करियर में 25 टी-20 मैच खेले हैं,  इस दौरान 29 विकेट लेने में सफल रहें.

रिटायरमेंट के बाद करेंगे यह काम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एलिस्टेयर मैकडरमोट (Alister McDermott) ने रिटायरमेंट के ऐलान के बाद कहा कि यह मेरे करियर के लिए सबसे मुश्किल समय है. मैं लगातार चोटों से जूझता रहा हूं. अब वो खुद को क्रिकेट से अलग करके परिवार के साथ समय गुजारेंगे और साथ ही आगे चलकर क्रिकेट कोचिंग करते हुए भी नजर आएंगे.

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.