NDTV Khabar

युवराज के छह छक्कों का रिकॉर्ड तोड़ना चाहता है यह भारतीय बल्लेबाज

अपने पहले टेस्ट में 49 गेंद में 50 रन बनाकर प्रशंसा बटोरने वाले भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज हार्दिक पांड्या युवराज के एक खास रिकॉर्ड की बराबरी करना चाहते हैं.

221 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
युवराज के छह छक्कों का रिकॉर्ड तोड़ना चाहता है यह भारतीय बल्लेबाज

युवा बल्लेबाज हार्दिक पांड्या युवराज के एक खास रिकॉर्ड की बराबरी करना चाहते हैं....

खास बातें

  1. हार्दिक पांड्या ने पहले टेस्ट को वनडे की तरह खेला था
  2. हार्दिक ने 49 गेंद में 50 रन बनाकर प्रशंसा बटोरी थी
  3. पुजारा ने भी जताया हार्दिक की काबिलियत पर भरोसा
नई दिल्ली: अपने पहले टेस्ट में 49 गेंद में 50 रन बनाकर प्रशंसा बटोरने वाले भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज हार्दिक पांड्या युवराज के एक खास रिकॉर्ड की बराबरी करना चाहते हैं. पांड्या भी युवराज की तरह एक ओवर में छह छक्के लगाना चाहते हैं.

हालांकि पहले टेस्ट में कई खिलाड़ियों पर दबाव हावी हो जाता है लेकिन हार्दिक पांड्या को देखकर ऐसा बिल्कुल नहीं लगता. उन्होंने बताया कि लंबे प्रारूप में अपनी पहली पारी के दौरान 'वनडे मैच में खेल रहे' थे.  पांड्या के सीनियर चेतेश्वर पुजारा को लगता है कि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय बन सकते हैं.

ये भी पढ़ें
जानिए अपने पहले टेस्‍ट मैच के अनुभव के विषय में क्‍या बोले हार्दिक पांड्या...

पुजारा ने पांड्या से ‘बीसीसीआई डाट टीवी’ पर मजाकिया अंदाज में किये गये साक्षात्कार में पूछा कि क्या उन्होंने कभी इस पर विचार किया है तो उन्होंने कहा, "मैंने एक ओवर में छह छक्के लगाने के बारे में नहीं सोचा. मैंने तीन गेंद में तीन छक्के लगाये थे लेकिन चौथा छक्का लगाने का प्रयास नहीं किया क्योंकि इसकी जरूरत नहीं थी. अगर किसी दिन ऐसी स्थिति आती है जहां मैं सभी छह गेंद पर छक्के लगा सकता हूं तो मैं ऐसा जरूर करूंगा."

पुजारा ने फिर इसके बाद उनके पुल शाट के बारे में पूछा तो पांड्याने उनकी ही तारीफ करते हुए कहा, "पुजारा भाई, आपका पुल शाट 100 मीटर तक जाता है." पांड्या ने कहा कि वह इस बात से वाकिफ हैं कि जब भारत उप महाद्वीप से बाहर जैसे दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड का दौरा करे तो उन्हें अच्छी तैयारी की जरूरत है.

ये भी पढ़ें
विराट कोहली को हार्दिक पांड्या में दिखती है इस दिग्गज ऑलराउंडर की झलक

उन्होंने कहा, "मैं जानता हूं कि मुझे दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिये अलग तरह से तैयारी की जरूरत होगी जो इतना आसान नहीं होगा. गेंद सीम करेगी और आपको इसी के हिसाब से तैयारी की जरूरत होगी."

VIDEO : पांड्या बंधुओं में बेहतर कौन है ये भविष्य तय करेगा : सुनील गावस्कर



पांड्या से उनके पहले टेस्ट से पहले की तैयारियों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, "यहां तक कि जब मैं बल्लेबाजी कर रहा था तो मुझे लग रहा था कि मैं वनडे में बल्लेबाजी कर रहा हूं. मेरे लिये परिस्थितियां बिलकुल परफेक्ट थीं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर के तौर पर आपको तैयारियों के मामले में थोड़ा स्मार्ट बनने की जरूरत होती है. प्रारूप में बदलाव करते हुए मानसिकता में बदलाव की जरूरत होती है, लेकिन आमतौर पर कौशल में कोई परिवर्तन नहीं होता."


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
221 Shares
(यह भी पढ़ें)... क्‍या दिखावे के लिए है आदर्श आचार संहिता?

Advertisement