NDTV Khabar

Ind vs Aus: भारतीय खिलाड़ि‍यों पर टिप्‍पणी करने वाले ओकीफी और मार्क वॉ को विराट कोहली ने यूं दिया जवाब..

विराट कोहली (Virat Kohli) ने मेलबर्न टेस्‍ट की जीत के बाद ऑस्‍ट्र‍ेलिया के कैरी ओकीफी और मॉर्क वॉ जैसे कमेंटेटरों को उनकी कथित अपमानजनक टिप्‍पणियों को लेकर करारा जवाब दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. कहा, शानदार घरेलू क्रिकेट ढांचे के कारण हमें मिल रही जीत
  2. ओकीफी ने मयंक के प्रथम श्रेणी के तिहरे शतक का बनाया था मजाक
  3. मार्क वॉ ने भी बल्‍लेबाजों के घरेलू क्रिकेट के औसत पर टिप्‍पणी की थी
मेलबर्न:

टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने मेलबर्न टेस्‍ट की शानदार जीत के बाद ऑस्‍ट्र‍ेलिया के कैरी ओकीफी और मॉर्क वॉ जैसे कमेंटेटरों को उनकी कथित अपमानजनक टिप्‍पणियों को लेकर करारा जवाब दिया है. विराट ने जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) जैसे खतरनाक गेंदबाज के उभरने का श्रेय भारत के ‘शानदार घरेलू क्रिकेट ढांचे' को दिया है जो आस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटरों कैरी ओकीफी (Kerry O'Keefe) और मार्क वॉ (Mark Waugh) को माकूल जवाब है जिन्होंने कमेंटरी करते हुए अपमानजनक टिप्पणियां की थी. कैरी ओकीफी ने मेलबर्न टेस्‍ट में डेब्‍यू करने वाले मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) के प्रथम श्रेणी में रेलवे के खिलाफ तिहरे शतक पर टिप्पणी करके की थी. ऑस्ट्रेलिया के लिए 24 टेस्ट में 53 विकेट चटकाने वाले ओकीफी ने फाक्स स्पोर्ट्स पर कमेंटरी करते हुए कहा था, ‘संभवत: उसने रेलवे के कैंटीन स्टाफ के खिलाफ शतक जड़ा.' ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व बल्‍लेबाज मार्क वॉ ने भी बताया था कि किस तरह भारत में घरेलू क्रिकेट में 50 रन का औसत ऑस्ट्रेलिया में 40 के औसत के बराबर है.

जसप्रीत बुमराह, शमी और ईशांत शर्मा की तिकड़ी ने तोड़ा 34 साल पुराना रिकॉर्ड....


भारतीय कप्तान कोहली (Virat Kohli) ने किसी का नाम लिए बगैर कहा, ‘हमारा प्रथम श्रेणी ढांचा बेहतरीन है और यही कारण है कि हम जीत रहे हैं. इसका श्रेय भारत में प्रथम श्रेणी ढांचे को जाता है जो भारत में हमारे तेज गेंदबाजों को चुनौती देता है और इससे उन्हें विदेशों में अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिलती है.'यह स्पष्ट था कि कोहली की प्रतिक्रिया पूर्व लेग स्पिनर ओकीफी के लिए थी. मेलबर्न टेस्‍ट में मैन ऑफ द मैच रहे जसप्रीत बुमराह (मैच में 86 रन देकर नौ विकेट) ने भी टेस्ट क्रिकेट में अपनी सफलता में रणजी ट्रॉफी के योगदान का जिक्र किया. बुमराह ने कहा, ‘हम कड़ी ट्रेनिंग करते हैं और हमें रणजी ट्रॉफी में काफी ओवर गेंदबाजी करने की आदत है इसलिए शरीर इसके लिए तैयार रहता है.'

Ind vs Aus 3rd Test: ऑस्‍ट्रेलिया को फॉलोआन नहीं देने के मुद्दे पर यह बोले कोहली..

टिप्पणियां

भारत के क्रिकेटरों के खिलाफ टिप्‍पणी की शुरुआत ओकीफी ने पदार्पण कर रहे मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal)के प्रथम श्रेणी में रेलवे के खिलाफ तिहरे शतक पर टिप्पणी करके की थी. ओकीफी ने फाक्स स्पोर्ट्स पर कमेंटरी करते हुए कहा था, ‘‘संभवत: उसने रेलवे के कैंटीन स्टाफ के खिलाफ शतक जड़ा.' मार्क वॉ यह कहने से नहीं चूके थे कि भारत में घरेलू क्रिकेट में 50 रन का औसत ऑस्ट्रेलिया में 40 के औसत के बराबर है. ओकीफी ने हालांकि बाद में अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगी थी लेकिन टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri)ने भी पदार्पण पारी में अग्रवाल के 76 रन बनाने के बाद माकूल जवाब दिया.

ओकीफी की मौजूदगी में फाक्स स्पोर्ट्स को दिए इंटरव्‍यू में शास्त्री ने कहा था, ‘उसके (अग्रवाल) पास कैरी के लिए संदेश है... ‘जब आप अपनी कैंटीन खोलो तो वह कॉफी को सूंघने के लिए आना चाहता है. वह भारत की कॉफी से तुलना करना चाहता है.... यहां की कॉफी बेहतर है या भारत की।'' ओकीफी ने हालांकि मैच के चौथे दिन भी गैरजरूरी टिप्पणी की जब उन्होंने चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara)और रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के नाम नहीं बोल पाने का मजाक बनाया. ओकीफी ने कहा, ‘‘आप अपने बच्चों का नाम चेतेश्वर, जडेजा क्यों रखते हो.'(इनपुट: भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement