NDTV Khabar

IND vs SA:रहाणे के लिए फ़ॉर्म तो भुवनेश्वर के लिए हालात बने मुश्किल, अलग खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया में अलग नियम

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट के लिए टीम इंडिया ने तीन बदलाव किए. यही नहीं, बदलाव के नियम भी बदल गए हैं. अब फ़ॉर्म की जगह हालात के अनुसार टीम का चयन किया गया है, लेकिन एक खिलाड़ी अब भी फ़ॉर्म की वजह से बाहर है. यानी कुछ खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया में नियम अलग हैं.

92 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs SA:रहाणे के लिए फ़ॉर्म तो भुवनेश्वर के लिए हालात बने मुश्किल, अलग खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया में अलग नियम

पहले टेस्‍ट में शानदार गेंदबाजी करने वाले भुवनेश्‍वर सेंचुरियन की प्‍लेइंग 11 में जगह नहीं बना पाए हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. केपटाउट टेस्‍ट में भारत के सर्वश्रेष्‍ठ बॉलर साबित हुए थे भुवनेश्‍वर
  2. कोहली बोले, ज्‍यादा उछाल के कारण भुवी की जगह ईशांत को लिया
  3. विदेश में रोहित से अच्‍छा बैटिंग रिकॉर्ड है अजिंक्‍य रहाणे का
नई दिल्‍ली:
टिप्पणियां
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट के लिए टीम इंडिया ने तीन बदलाव किए. यही नहीं, बदलाव के नियम भी बदल गए हैं. अब फ़ॉर्म की जगह हालात के अनुसार टीम का चयन किया गया है, लेकिन एक खिलाड़ी अब भी फ़ॉर्म की वजह से बाहर है. यानी कुछ खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया में नियम अलग हैं. एक बार फिर अजिंक्य रहाणे प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं बना सके. दिग्गजों ने भले ही रहाणे को शामिल न करने को सबसे बड़ी भूल माना हो, लेकिन टीम इंडिया प्रबंधन अपने फ़ैसले पर बरक़रार है. विदेशी मैदानों पर अपने सबसे सफल बल्लेबाज़ों में से एक और टीम के उपकप्तान के लिए फ़िलहाल प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिल पा रही है. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस के बाद बदलावों को लेकर कहा कि  'एक Forced चेंज है. विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा की मांसपेंशियों में खिंचाव है उनकी जगह पार्थिव पटेल आए हैं.बाकी केएल राहुल को शिखर धवन की जगह और ज्यादा उछाल के चलते भुवनेश्‍वर की जगह ईशांत शर्मा टीम में हैं.'यह प्रश्‍न उठना लाजिमी है कि रोहित शर्मा ऐसा क्या कर रहे हैं कि वो बाकियों से पहले मौक़ा पा रहे हैं. केपटाउन की उछाल भरी पिच पर वो असहज दिखे और दोनों पारियों में कुल 21 रन ही जोड़ सके. कप्तान विराट कोहली का कहना है कि चयन मौजूदा फ़ॉर्म पर हुआ. रोहित ने विदेशी मैदानों पर खेले 15 टेस्ट मैचों में 25.11 के औसत से  653 रन बनाए हैं. खासतौर पर दक्षिण अफ़्रीका में प्रदर्शन देखें तो 3 टेस्ट की 6 पारियों में 11 के औसत से महज़ 66 रन ही  जोड़ सके हैं. इसकी तुलना में अजिंक्य रहाणे के रिकॉर्ड को देखें तो  उन्होंने विदेशी ज़मीं पर खेले 24 टेस्ट में 53.44 के औसत से 1817 रन बनाए हैं, इसमें 6 शतक  और 9 अर्धशतक हैं. दक्षिण अफ़्रीका में खेले दो टेस्ट में रहाणे ने 209 रन 69.66 के औसत से बनाए हैं. इसके बावजूद इस प्रदर्शन को लगातार नज़रअंदाज़ किया जा रहा है.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट कोहली की तारीफ
कप्तान कोहली ने रहाणे कि लिए जवाब में कहा कि मौजूदा फ़ॉर्म को ध्यान में रखा गया. श्रीलंका के ख़िलाफ़ अजिंक्‍य रहाणे ने 3 टेस्ट की 5 पारियों में महज़ 17 रन बनाए थे. लेकिन अब पिछले टेस्ट के  सबसे सफल गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार को हालात के आधार पर बाहर कर दिया यानी भुवी के फॉर्म को तरजीह नहीं दी गई. मतलब साफ़ है, कुछ खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया में नियम अलग हैं...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement