NDTV Khabar

कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी फ्लॉप हुए हैं या हिट?

अगर भारत आखिरी मैच जीत जाता है तो यह पहली बार होगा जब श्रीलंका के मैदान पर भारत 5-0 से सीरीज जीतने का गौरव हासिल करेगा.

316 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी फ्लॉप हुए हैं या हिट?

महेंद्र सिंह धोनी ( फाइल फोटो )

खास बातें

  1. जिम्मेदारी से खेल रहे हैं माही
  2. हर मैच में देते हैं योगदान
  3. श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में बनाए रन
नई दिल्ली: भारत और श्रीलंका के बीच कोलंबो में खेले गए सीरीज के चौथे एकदिवसीय मैच को भारत ने 168 रन से जीतकर पांच मैचों की सीरीज में 4-0 से बढ़त ले लिया है. अगर भारत आखिरी मैच जीत जाता है तो यह पहली बार होगा जब श्रीलंका के मैदान पर भारत 5-0 से सीरीज जीतने का गौरव हासिल करेगा और भारत के एकदिवसीय मैचों की इतिहास में यह दूसरी बार होगा जब विदेशी मैदान पर भारत पांच मैचों के एकदिवसीय सीरीज को क्लीन स्वीप करने में कामयाब होगा. 2013 में विराट कोहली के कप्तानी में भारत ने ज़िम्बाब्वे को उसके घरेलू मैदान पर पांच मैचों की सीरीज में 5-0 से हराया था. विराट कोहली के सिवाए कोई भी कप्तान यह कारनामा नहीं कर पाया. टॉस जीतकर टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में एक 375 रन का एक विशाल स्कोर खड़ा किया था. सबसे बड़ी बात यह है श्रीलंका के मैदान पर भारत का यह सबसे बड़ा स्कोर है. इसे पहले श्रीलंका के मैदान पर भारत का सबसे बड़ा  स्कोर 363 रन का था जो भारत 3 फरवरी 2009 को कोलंबो के मैदान पर बनाया था.

पढ़ें :  धोनी ने तोड़ दिया एक बड़ा रिकॉर्ड, तो विराट ने 'क्रिकेट के भगवान' को पीछे छोड़ा

कोहली अपने परीक्षण में सफल रहे : कल के मैच से पहले पिछले तीन मैचों में भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का निर्णय लेते हुए हर मैच जीता था. पहले मैच में श्रीलंका को 9 विकेट से दूसरे मैच में तीन और तीसरे मैच में 6 विकेट से हराया था. इन तीनों मैच के दौरान भारत को बड़ा स्कोर का पीछा करने का मौका नहीं मिला था. पहला मैच में भारत के सामने 217 रन का लक्ष्य था, दूसरे मैच में 231 रन और तीसरे मैच में 218 रन का टारगेट था. लेकिन कल भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय लिया और एक विकेट गिरने के बाद खुद कप्तान कोहली और रोहित शर्मा ने तेज खेलना शुरू कर दिया. कोहली ने सिर्फ 96 गेंदों पर 131 रन बनाया जब की रोहित शर्मा ने 88 गेंदों पर 104 रन बनाये. भारत के तरफ से मनीष पांडेय भी अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 42 गेंदों पर 50 रन पर नॉट आउट रहे.

पढ़ें :   क्रिकेटर अंबाती रायुडू ने की बुजुर्ग के साथ हाथापाई, कैमरे में कैद हुई वारदात

धोनी की कमाल की बल्लेबाजी  : कल के मैच में महेंद्र सिंह धोनी भी अच्छी बल्लेबाजी की. धोनी ने 42 गेंदों का सामना करते हुए एक छक्के और चार चौके के मदद से 49 रन पर नाबाद रहे. श्रीलंका के खिलाफ इस सीरीज में धोनी ने शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं. सबसे बड़ी बात यह है कि धोनी हर मैच में नॉट आउट रहे है. सीरीज के पहले मैच में धोनी को बल्लेबाजी करने का मौक़ा नहीं मिला था. दूसरे मैच में जब 231 रन का पीछा करते हुए भारत 131 रन पर सात विकेट गंवा दिए थे. तब धोनी और भुवनेश्वर कुमार के बीच 100 रन की साझेदारी हुई थी और भारत इस मैच को तीन विकेट से जीत लिया था. धोनी इस मैच में 45 पर नाबाद थे जब की भुवनेश्वर कुमार ने 53 रन की पारी की खेली थी. तीसरे मैच में भी धोनी अच्छी बल्लेबाजी करते हुए 67 रन पर नाबाद रहे. भारत इस मैच को छह विकेट से जीता.

कप्तानी छोड़ने के बाद कैसा रहा है धोनी प्रदर्शन : महेंद्र सिंह सिंह धोनी दुनिया के सबसे बेहतरीन विकेटकीपर बल्लेबाज हैं. एकदिवसीय मैचों में धोनी का औसत 52 से भी ज्यादा है.  महेंद्र सिंह धोनी कुल मिलाकर 300 एकदिवसीय मैचों में 52.20 औसत से 9657 रन बना चुके हैं. जिस में 10 शतक और 65 अर्धशतक शामिल हैं. कप्तान के रूप में धोनी प्रदर्शन अच्छा रहा है. कप्तान के रूप में धोनी 199 मैच खेलते हुए 53.92 के औसत से 6633 रन बनाए हैं जब की नॉन कप्तान के रूप में 101 मैचों में 48.77 के औसत से 3024 रन बनाए हैं. महेंद्र सिंह धोनी ने जनवरी 2017 में एकदिवसीय और टी 20 की कप्तानी छोड़ दी थी. कप्तानी छोड़ने के बाद धोनी के ऊपर काफी दवाब था. टीम में अपनी जगह बनाए रखने के लिए धोनी को लगातार अच्छा प्रदर्शन की जरूरत थी. युवराज सिंह और सुरेश रैना जैसे खिलाड़ियों की खराब प्रदर्शन के लिए श्रीलंका दौरे के लिए टीम में जगह नहीं मिली थी. 

वीडियो :  अंबाती रायडू पर आरोप
ऐसे में धोनी के लिए भी संदेश है कि अगर वो अच्छा प्रदर्शन नहीं करेंगे तो टीम से बाहर हो सकते हैं लेकिन सिर्फ श्रीलंका के खिलाफ नहीं कप्तान छोड़ने के बाद धोनी का प्रदर्शन अच्छा रहा है.  कप्तानी छोड़ने के बाद धोनी अभी तक 17 मैच खेल चुके हैं. इन 17 में से 12 मैचों में धोनी को बल्लेबाजी करने का मौक़ा मिला है और धोनी 91 औसत से 546 रन बनाए हैं जिस में एक शतक और चार अर्धशतक शामिल है. सबसे बड़ी बात यह है कि 12 में से छह मैचों में धोनी नाबाद रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement