NDTV Khabar

Nidahas Trophy Final: दिनेश कार्तिक ने काटी रोहित शर्मा की बात, बोले नाराज नहीं था लेकिन...

दिनेश कार्तिक का यह बयान बताता है कि जिस हालात से वह गुजरे, वह खिलाड़ी ही समझ सकता है, कप्तान नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Nidahas Trophy Final: दिनेश कार्तिक ने काटी रोहित शर्मा की बात, बोले नाराज नहीं था लेकिन...

दिनेश कार्तिक

खास बातें

  1. रोहित भाई सच यह है जो कार्तिक ने कहा है!
  2. खिलाड़ी के दर्द को समझिए कप्तान साहब!
  3. कप्तान के अंदाज पर मैदान ही नहीं, बाहर भी जवाब!
नई दिल्ली:

निधास टी20 ट्रॉफी के फाइनल मुकाबला खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने कहा था कि दिनेश कार्तिक खुद को नंबर-7 पर भेज जाने से नाराज थे, लेकिन दिनेश कार्तिक ने अब रोहित शर्मा की बात का खंडन किया है. और यह खंडन बताता है कि खिलाड़ी के दिल पर क्या बीतती है, यह वह खिलाड़ी ही जान सकता है, कप्तान या टीम मैनेजमेंट नहीं.


आपको बता दें कि अभी भी क्रिकेटप्रेमियों और पंडितों के बीच यह चर्चा नहीं ही थमी है कि आखिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक भी मुकाबले में बैटिंग न करने वाले विजय शंकर को दिनेश कार्तिक से पहले बल्लेबाजी के लिए क्यों भेजा गया. भले ही रोहित शर्मा इसे रणनीति बताएं, लेकिन वास्तव में यह एक ब्लंडर ही था. हां यह बात अलग है कि जीत के बाद टीम मैनेजेंट को मुंह छिपाने की वजह मिल गई है. 
 
यह भी पढ़ें :  Nidas Trophy Final: इस बात से खफा थे दिनेश कार्तिक, रोहित शर्मा का जवाब क्रिकेटप्रेमियों को हजम नहीं हो रहा

रोहित शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि मैंने कार्तिक से कहा था कि जिस तरह का टैलेंट तुम्हारे पास है, उसे देखते हुए हमें तुम्हारी आखिरी तीन ओवरों में जरुरत है. रोहित बोले थे कि कार्तिक इस बात से नाराज थे कि उन्हें नंबर सात पर बैटिंग के लिए काफी नीचे भेजा गया, लेकिन कार्तिक बोले इस पर कुछ नहीं. पर दिनेश कार्तिक ने अब रोहित शर्मा की इस बात को गलत बताया है. 
 


कार्तिक ने रोहित शर्मा और टीम मैनेजमेंट की गलत रणनीति को 8 गेंदों पर नाबाद 29 रन बनाकर सही में तब्दील कर दिया. लेकिन अब आप यह समझ सकते हैं कि टीम इंडिया ने कितना जोखिम लिया. ऐसे में कोई भी बल्लेबाज नाराज और खफा हो सकता है. लेकिन रोहित शर्मा के उलट कार्तिक नाराज उन्हें नंबर सात पर भेजे जाने से नाराज नहीं थे.

VIDEO: मोहम्मद शमी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत करार दिया है. 
दिनेश कार्तिक ने कहा कि वह नाराज नहीं बल्कि हैरान थे. उन्होंने कहा नाराज थोड़ा भारी शब्द है. मैंने पूरे टूर्नामेंट में नंबर-6 बल्लेबाजी की थी, लेकिन देखा कि विजय शंकर को ऊपर भेजा जा गया. ऐसे में मैं इस फैसले पर थोड़ा हैरान रह गया. वास्तव में मैं हैरान था. और हां थोड़ा निराश भी था. 

टिप्पणियां

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement