अब तो पाकिस्तानी क्रिकेटर भी कोरोनावायरस प्रभावितों की मदद को आगे आ गए, देंगे इतनी रकम, लेकिन...

पीसीबी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि पीसीबी इन सभी फंडों को इकट्ठा करेगा और इसे सरकार के कोरोनावायरस फंड में जमा करेगा

अब तो पाकिस्तानी क्रिकेटर भी कोरोनावायरस प्रभावितों की मदद को आगे आ गए, देंगे इतनी रकम, लेकिन...

खास बातें

  • बीसीसीआई कब करेगा मदद का ऐलान ?
  • सबसे अमीर बोर्ड, कब करेगा ऐलान?
  • जागो टीम इंडिया जागो !
लाहौर:

करीब 27 बांग्लादेशी क्रिकेटरों के बाद अब पाकिस्तानी क्रिकेटर भी अपने देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) प्रभावितों की मदद को आगे आ गए हैं. यह दान राष्ट्रीय सरकार के आपातकालीन कोष में दिया जाएगा। क्रिकेटरों के अलावा पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के स्टाफ भी इसमें अपनी मदद करेंगे। बोर्ड में कर्मचारी से वरिष्ठ प्रबंधक स्तर तक के कर्मचारी एक दिन का वेतन जबकि महाप्रबंधक या उच्च पद पर कार्यरत लोग अपने दो दिन का वेतन सरकार को देंगे, लेकिन हमारे क्रिकेटरों और दुनिया के सबसे अमीर बोर्ड बीसीसीआई अभी भी सोया हुआ है. वहीं, अरबपति विराट कोहली (Virat Kohli) और एमएस धोनी (MS Dhoni) सहित आईपीएल से साल में करोड़ों बटोरने वाले और भी कई खिलाड़ियों के मुंह से कुछ नहीं निकला है. 

यह भी पढ़ें:  बांग्लादेश के 27 क्रिकेटरों ने कोरोनावायरस से लड़ने के लिए दान में दी इतनी रकम, अरबपति भारतीय सितारों पर उठे सवाल

भारत में इरफान पठान व यूसुफ पठान उन चुनिंदा खिलाड़ियों में रहे, जिन्हें सबसे पहले सामाजिक स्तर पर लोगों की मदद करते देखा गया, लेकिन कप्तान विराट कोहली और वर्तमान टीम के सदस्य वीडियो डालने और मैसेज देने तो आगे हैं, लेकिन अभी तक इन्होंने अपनी-अपनी जेब से पैसा  निकालने का मन नहीं बनाया है. वैसे हो सकता है कि इन्हें मोदी सरकार पर ज्यादा भरोसा हो कि सरकार ने तो 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का तो ऐलान कर ही दिया है. ऐसे में वे अब मदद क्यों करें. 

यह भी पढ़ें: IPL 2020: ...तो यह इन युवा खिलाड़ियों के लिए करोड़ों रुपये के नुकसान से कम नहीं होगा

बहरहाल, पाक क्रिकेटरों ने कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में सरकार की मदद करने के लिए 50 लाख पाकिस्तानी रुपये दान करने का फैसला किया है. पीसीबी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि पीसीबी इन सभी फंडों को इकट्ठा करेगा और इसे सरकार के कोरोनावायरस फंड में जमा करेगा. पीसीबी के अध्यक्ष एहसान मनी ने कहा " इस मुश्किल समय में पीसीबी हमेशा पाकिस्तान के लोगों के साथ खड़ा है.

यह सबसे मुश्किल समय है और हमारे लोग, सरकार और स्वास्थ्य कर्मी इसका सामना करना कर रहे हैं. पीसीबी कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में सरकार को अपना सहयोग करना चाहता है." अब देखने की बात होगी कि पीसीबी के इस कदम के बाद बीसीसीआई क्या फैसला लेता है. अभी तक तो एक संस्था के रूप में बोर्ड सोया हुआ ही दिखाई पड़ रहा है. वहीं प्रशंसक चर्चा कर रहे हैं कि अब तक बांग्लादेश के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ी भी अपने देश में मदद को आगे आ गए. आप कब आगे आओगे? घर-घर, गली-गली में युवा, बच्चों पर बड़ों के बीच चर्चा हो रही है कि बांग्लादेश और पाकिस्तान जैसे फक्कड़ क्रिकेट बोर्ड के खिलाड़ी अपने देशवासियों की मदद को आगे आ रहे हैं, लेकिन हमारे सितारे हाथ पर हाथ धरे  बैठे हैं. 


VIDEO: पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी, स्पेशल स्टोरी. 

चलिए देखते हैं कि कब बीसीसीआई और टीम इंडिया के खिलाड़ियों की नींद टूटती है. और कब विराट कोहली और एमएस धोनी सहित बाकी दिग्गज अपने खजाने की बोरी का मुंह खोलते हैं !!
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com