Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Ranji Trophy Quarterfinal: कर्नाटक को फाइनल में पहुंचने के लिए चौथे दिन बहुत कुछ करना होगा

Ranji Trophy Quarterfinal: इससे पहले बंगाल ने दिन की शुरुआत अपनी दूसरी पारी के स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 72 रनों के साथ की थी.  सुदीप चटर्जी (45) दिन के पहले विकेट के रूप में आउट हुए. अगली गेंद पर श्रीवत्स गोस्वामी भी पवेलियन लौट लिए.

Ranji Trophy Quarterfinal: कर्नाटक को फाइनल में पहुंचने के लिए चौथे दिन बहुत कुछ करना होगा

रणजी ट्रॉफी की फाइल फोटो

कोलकाता/राजकोट:

देवदूत पड्डीकल ने यहां ईडन गार्डन्स स्टेडियम में बंगाल के खिलाफ खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के सेमीफाइनल मैच के तीसरे दिन सोमवार को कर्नाटक का भार अपने कंधों पर ले लिया. बंगाल द्वारा रखे गए 352 रनों के जवाब में कर्नाटक ने दिन का खेल खत्म होने तक अपने तीन विकेट खोकर 98 रन बना लिए हैं, जिसमें से अकेले देवदूत के 50 रन हैं. वह विकेट पर खड़े हुए हैं और चौथे दिन उन्हीं के कंधों पर टीम को लक्ष्य तक ले जाने की जिम्मेदारी होगी. उनके साथ मनीष पांडे भी हैं. पांडे नौ रन बनाकर खड़े हैं. और इस जोड़ी पर कर्नाटक को जीत दिलाने की बड़ी जिम्मेदारी है. यहां से कर्नाटक को जीतने के लिए 254 रन और बनाने हैं और उसके हाथ में सात विकेट हैं. 

यह भी पढ़ें:  सीएसी मंगलवार को करेगी शॉर्टलिस्ट करेगी चयन समिति के संभावितों के नाम, मतलब....

कनार्टक ने अपने स्टार बल्लेबाज लोकेश राहुल को पारी की दूसरी गेंद पर बिना खाता खोले खो दिया था. रविकुमार समर्थ और देवदूत ने स्कोर 57 तक पहुंचाया और यहीं समर्थ, आकाश दीप की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट दे दिए गए. उन्होंने 27 रन बनाए. कप्तान करुण नायर छह रनों से आगे नहीं जा सके. इससे पहले बंगाल ने दिन की शुरुआत अपनी दूसरी पारी के स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 72 रनों के साथ की थी.  सुदीप चटर्जी (45) दिन के पहले विकेट के रूप में आउट हुए. अगली गेंद पर श्रीवत्स गोस्वामी भी पवेलियन लौट लिए. यह दोनों विकेट रोनित मोरे ने 89 के कुल स्कोर पर गिराए.

यह भी पढ़ें:  इस वजह से विराट ने रिद्धिमान साहा पर ऋषभ पंत को तरजीह दी

अनूस्तूप मजूमदार और शाहबाज अहमद ने पहली पारी की तरह की इस पारी में भी साझेदारी की लेकिन दोनों ज्यादा आगे नहीं जा सके. 153 के कुल स्कोर पर कृष्णाप्पा गौतम ने आकाश दीप की 31 रनों की पारी का अंत किया. 155 के कुल स्कोर पर मजमूदार आउट हुए. उन्होंने 41 रन बनाए. गौतम ने ईशान पोरेल को 161 के कुल स्कोर पर आउट कर बंगाल की पारी को समेट दिया.

यह भी पढ़ें:  न्‍यूजीलैंड की सीरीज जीत को मोहम्‍मद कैफ ने इस मायने में बताया जबर्दस्‍त...

गाजा के हरफनमौला खेल से गुजरात मजबूत

राजकोट। चिंतन गाजा के हरफनमौला खेल के दम पर गुजरात ने यहां सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले जा रहे सेमीफाइनल मैच में मेजबान टीम पर अपना कब्जा कस लिया. सौराष्ट्र ने अपनी पहली पारी में 304 रन बनाए थे. गुजरात संकट में थी और ऐसे में गाजा ने अंत में 61 रनों की पारी खेल टीम को कुछ राहत दी और इसी पारी के दम पर टीम 252 के स्कोर तक पहुंच सकी. दूसरी पारी में 50 रनों की बढ़त के साथ उतरी सौराष्ट्र गाजा की मध्य तेज गति की गेंदों में फंस गई और मैच के तीसरे दिन सोमवार का अंत उसने पांच विकेट खोकर 66 रन के साथ किया. यह पांचों विकेट गाजा ने लिए.

दूसरी पारी खेलने उतरी सौराष्ट्र ने 15 रनों तक ही अपने पांच विकेट खो दिए थे. किशन परमार (0), हार्विक देसाई (0), अवि बारोट (1), विश्वराज जडेजा (6) और पहली पारी में शतक लगाने वाले शेल्डन जैक्सन (0) 9.2 ओवरों का खेल होने तक पवेलियन लौट गए. चेतन सकारिया और अर्पित वासवाडा ने किसी तरह पारी को संभाला और टीम को 66 के स्कोर तक पहुंचाया। सकारिया 32 जबकि अर्पित 23 रन बनाकर खेल रहे हैं.

VIDEO: पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी, स्पेशल स्टोरी. 

चूंकि बंगाल ने अपनी पहली पारी में 312 रन बनाए थे और कर्नाटक को पहली पारी में सिर्फ 122 रनों पर ढेर कर दिया था इस लिहाज से वह दूसरी पारी में 190 रनों की बढ़त के साथ उतरी थी इसी कारण कर्नाटक को विशाल लक्ष्य मिला.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)