सचिन तेंदुलकर ने दिया भारतीय तेज आक्रमण को लेकर यह 'बड़ा बयान'

सचिन तेंदुलकर ने दिया भारतीय तेज आक्रमण को लेकर यह 'बड़ा बयान'

सचिन तेंदुलकर की फाइल फोटो

खास बातें

  • पिछले कुछ सालों का भारत का संभवत: सर्वश्रेष्ठ आक्रमण-सचिन
  • मेरे करियर के 24 साल में ऐसा पेस अटैक नहीं रहा
  • इतनी विविधता पहले कभी नहीं थी
नई दिल्ली:

इंग्लैंड दौरे पर गई विराट कोहली एंड कंपनी को लेकर सचिन तेंदुलकर ने बहुत ही बड़ा बयान दिया है. सचिन तेंदुलकर का यह बयान ऐसे समय आया है, जब टीम इंडिया ने लंदन पहुंचने के बाद सोमवार को अपने पहले नेट सेशन में हिस्सा लिया. और निश्चित तौर पर यह बयान भारतीय तेज गेंदबाजों को दौरे में बेहतर करने की प्रेरणा देगा.  भारतीय टीम इस दौरे की शुरुआत 27 जून से टी-20 मुकाबले के साथ कर रही है. बहरहाल, टीम इंडिया इंग्लैंड में अपना पहला टेस्ट मैच 1 अगस्त से खेलेगी.

सचिन ने कहा कि विराट कोहली की टीम का तेज गेंदबाजी अटैक पिछले कुछ सालों का भारत का संभवत: सर्वश्रेष्ठ आक्रमण है. उन्होंने कहा कि उनके 24 साल के करियर में टीम इंडिया के पास ऐसा तेज गेंदबाजी आक्रमण कभी नहीं है. मेरे हिसाब से यह भारत का सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजी आक्रमण बनेगा. सचिन ने कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं कि भारत के पास बहुत ही उच्च स्तरीय तेज गेंदबाज रहे हैं, लेकिन इतना समृद्ध अटैक पहले कभी नहीं रहा. 

यह भी पढ़ें:  VIDEO: कौवे कर रहे थे चील पर हमला, Sachin Tendulkar ने ऐसे बचाई जान

सचिन ने कहा कि हमारे पास स्विंग गेंदबाज के रूप में भुवनेश्वर कुमार हैं, तो लंबी कद-काठी के ईशांत शर्मा हैं. वहीं जसप्रीत बुमराह हैं, जो अलग तरह के बॉलर हैं. इनके अलावा उमेश यादव के रूप में हमारे पास वास्तविक रूप से तेज गेंदबाज मौजूद हैं. यह विविधता प्रदान करने के लिहाज से एक अच्छा मिश्रित आक्रमण है. बहरहाल, तेंदलुकर ने इस बार में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया कि भारत को किन गेंदबाजों के साथ मैदान पर उतरना चाहिए. सचिन ने कहा कि टीम मैनेजमेंट को यह आंकलन करना चाहिए कि इंग्लिश टीम का कौन सा बल्लेबाज किसी तरह की गेंदबाजी के खिलाफ सहज है. इंग्लैंड टीम में कई बल्लेबाज ऐसे होंगे, जो स्विंग गेंदबाजी को अच्छा खेलेंगे, तो वहीं कुछ ऐसे बल्लेबाज होंगे, जो पिच से सीम लेने वाली गेंदों से अच्छी तरह निपटते हैं. ऐसे में टीम मैनेजमेंट को इसी हिसाब से रणनीति बनानी चाहिए. 

VIDEO: जब सचिन ने कार से उतरकर मजदूरों के साथ क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया.

वैसे सचिन के इस बयान में बहुत हद तक सच्चाई है. निश्चित ही मास्टर ब्लास्टर के ये शब्द भारतीय पेसरों को बेहतर करने की प्रेरणा देंगे. कितना बेहतर गेंदबाज करेंगे, यह आने वाले कुछ ही दिनों में साफ हो जाएगा. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com