ये हैं वे दिग्गज जिन्होंने टेस्ट में झटके सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच पुरस्कार, लेकिन सचिन तेंदुलकर...

दूसरे नंबर पर श्रीलंकाई और करिश्माई ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन हैं. उनका कैलिस के आस-पास न पहुंचना हैरानी भरा है क्योंकि मुरलीधरन ने सबसे ज्यादा 800 विकेट चटकाए हैं, लेकिन मैन ऑफ द मैच मुरलीधरन 19 बार ही बन सके. 

ये हैं वे दिग्गज जिन्होंने टेस्ट में झटके सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच पुरस्कार, लेकिन सचिन तेंदुलकर...

सचिन तेंदुलकर के चाहने वाले यहां थोड़े निराश हो सकते हैं

नई दिल्ली:

क्रिकेट इतिहास में किसी ने बल्ले से तूफान मचाया, तो किसी ने गेंद से बड़े-बड़े कारनामे कर डाले. आज हम आपको बताएंगे एक अलग ही रिकॉर्ड के बारे में. टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच जीतने वाले शीर्ष पांच खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे, लेकिन यह थोड़ा चौंकाने वाला है कि इसमें किसी भारतीय बल्लेबाज का नाम शामिल नहीं है. टेस्ट इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले सचिन तेंदुलकर भी टॉप फाइव में जगह बनाने में कामयाब रहे, लेकिन वह इस नंबर पर संयुक्त रूप से तीन खिलाड़ियों के साथ हैं. साथ ही, यहां सचिन के मामले में एक और खास बात नजर आती है. 

इस मामले में बादशाह हैं दक्षिण अफ्रीका के बैटिंग ऑलराउंडर जैक्स कैलिस. कैलिस ने साल 1995 से 2013 तक दक्षिण अफ्रीका के लिए 166 टेस्ट मैच खेले और इन मैचों में कैलिस ने 23 बार मैन ऑफ द मैच झटकने में कामयाब रहे. इसमें योगदान उनकी गेंदबाजी का भी रहा. कैलिस ने 166 टेस्ट में 292 विकेट भी लिए 

दूसरे नंबर पर श्रीलंकाई और करिश्माई ऑफ स्पिनर मुथैया मुरलीधरन हैं. उनका कैलिस के आस-पास न पहुंचना हैरानी भरा है क्योंकि मुरलीधरन ने सबसे ज्यादा 800 विकेट चटकाए हैं, लेकिन मैन ऑफ द मैच मुरलीधरन 19 बार ही बन सके. 

वहीं, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम और शेन वॉर्न 17-17 बार मैन ऑफ द मैच लेकर संयुक्त रूप से तीसरे और कुमार संगाकारा और रिकी पॉन्टिंग 16-16 बार मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार लेकर संयुक्त रूप से चौथे नंबर पर हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पांचवें नंबर पर संयुक्त रूप से तीन लोग हैं. विंडीज के पूर्व घातक तेज गेंदबाज कर्टली एंब्रोस, ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ और सचिन तेंदुलकर 14-14 मैन ऑफ द मैच के साथ संयुक्त रूप से पांचवें नंबर पर है. यहां हैरानी की बात यह जरूर है कि टेस्ट में सबसे ज्यादा शतक बनाने और सबसे ज्यादा रन बनाने के बावूजद सचिन के खाते में अनुपातिक लिहाज से उतने मैन ऑफ द मैच नहीं हैं, जितने होने चाहिए थे. 

VIDEO: कुछ समय पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.