NDTV Khabar

दीपावली के पहले वीरेंद्र सहवाग ने आम लोगों से जुड़ा यह मुद्दा उठाया, किया यह ट्वीट...

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग सोशल मीडिया पर रोचक अंदाज में अपनी बात कहने के अलावा सामाजिक सरोकार से जुड़े विषय उठाने के लिए भी जाने जाते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दीपावली के पहले वीरेंद्र सहवाग ने आम लोगों से जुड़ा यह मुद्दा उठाया, किया यह ट्वीट...

वीरेंद्र सहवाग ने प्रदूषण और स्‍मोग की समस्‍या के प्रति लोगों का ध्‍यान आकर्षित किया है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सहवाग ने स्‍मोग और प्रदूषण से जुड़ा फोटो ट्वीट किया
  2. कहा-इस समस्‍या से निजात पाने के लिए उपाय की जरूरत
  3. देश में एक बड़ी समस्‍या बनता जा रहा है प्रदूषण
नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग सोशल मीडिया पर रोचक अंदाज में अपनी बात कहने के अलावा सामाजिक सरोकार से जुड़े विषय उठाने के लिए भी जाने जाते हैं. सहवाग ने मंगलवार को एक ऐसे ही ट्वीट में 'स्‍मोग' और प्रदूषण से संबंधित एक फोटो ट्वीट कर इस दिशा में पर्याप्‍त उपाय किए जाने की जरूरत बताई. सहवाग ने अपने यह फोटो पोस्‍ट करते हुए लिखा, 'इसे (स्‍मोग और प्रदूषण) देखकर दुख होता है. पंजाब और हरियाणा में तो ऐसे दृश्‍य आम है. इस समस्‍या से निजात पाने के लिए उपाय करने की जरूरत है. हमें स्‍मोग और प्रदूषण को रोकना ही होगा. गौरतलब है कि उत्तर भारत सहित पूरे देश में प्रदूषण खतरनाक स्‍तर तक पहुंचने लगा है. प्रकाश पर्व दीपावली पर आतिशबाजी के बाद तो यह समस्‍या बहुत बढ़ जाती है. पिछले साल ही दीपावली के बाद दिल्‍ली और इसके आसपास वातावरण में इतनी धुंध छा गई थी कि स्‍कूलों की छुट्टी करनी पड़ी थी.

यह भी पढ़ें : चंडीगढ़ के हाईप्रोफाइल छेड़छाड़ मामले में सहवाग ने जारी की यह चेतावनी...

टिप्पणियां
प्रदूषण वैसे तो हर किसी को स्‍वास्‍थ्‍य पर विपरीत असर डालता है लेकिन इसके कारण सबसे ज्‍यादा प्रभावित बच्‍चे और बुजुर्ग होते हैं.इससे पहले वीरेंद्र सहवाग, चंडीगढ़ में छेड़छाड़ के मामले की शिकार 29 वर्षीय वर्णिका कुंडू के समर्थन में भी ट्वीट कर चुके हैं.

वीडियो: प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में प्रदूषण का स्‍तर बढ़ा
हरियाणा बीजेपी प्रमुख सुभाष बराला के पुत्र विकास पर लगे आरोपों के बाद वीरू ने अपने ट्वीट में इस युवती के समर्थन में आवाज बुलंद की थी. उन्‍होंने इस हाईप्रोफाइल केस की स्‍वतंत्र और निष्‍पक्ष जांच की मांग उठाई थी.  सहवाग ने अपने ट्वीट में लिखा था, 'चंडीगढ़ की छेड़छाड़ की यह घटना बेहद शर्मनाक है. इस मामले में किसी के प्रभाव में आए बगैर निष्‍पक्ष जांच की जानी चाहिए.' सहवाग ने लिखा था, 'चाहे कोई भी हो, कायदे में रहोगे तो फायदे में रहोगे.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement