NDTV Khabar

जानें, सुनील गावस्‍कर ने क्‍यों कहा, 'टीम इंडिया के टॉप 3 बल्‍लेबाजों से दुनिया को जलन होती है'

भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान सुनील गावस्‍कर ने टीम इंडिया के टॉप ऑर्डर की जमकर प्रशंसा की है. NDTV से बात करते हुए उहोंने कहा कि चाहे धवन-रोहित हों या रहाणे-रोहित या फिर एक विकेट गिरने के बाद बैटिंग के आने वाले विराट कोहली, टीम इंडिया के टॉप 3 बल्‍लेबाजों से दुनिया को ईर्ष्‍या होती है.

235 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानें, सुनील गावस्‍कर ने क्‍यों कहा, 'टीम इंडिया के टॉप 3 बल्‍लेबाजों से दुनिया को जलन होती है'

सुनील गावस्‍कर ने टीम इंडिया की बल्‍लेबाजी को बेहतरीन बताया है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा -लगातार रनों का अंबार लगा रहे हमारे शीर्ष 3 बल्‍लेबाज
  2. रोहित-रहाणे की जोड़ी ने तीन शतकीय साझेदारी निभाईं
  3. कप्‍तान विराट कोहली ने भी सीरीज में 180 रन बनाए
नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के लिए इस समय सबसे बड़ी उलझन बैटिंग ऑर्डर को चुनना है. ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में यह साफ तौर पर देखने में आया. नियमित ओपनर शिखर धवन की गैरमौजूदगी में अजिंक्‍य रहाणे ने रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत की और तीन शतकीय साझेदारियां कर डालीं. ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों की इन दोनों ने जमकर खबर ली. इसके बाद बैटिंग के लिए आने वाले विराट कोहली को तो मौजूदा समय का दुनिया का सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाज माना जा सकता है. भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान सुनील गावस्‍कर ने टीम इंडिया के टॉप ऑर्डर की जमकर प्रशंसा की है. NDTV से बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि चाहे धवन-रोहित हों या रहाणे-रोहित या फिर एक विकेट गिरने के बाद बैटिंग के लिए आने वाले विराट कोहली, टीम इंडिया के टॉप 3 बल्‍लेबाजों से दुनिया को ईर्ष्‍या होती है.

ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पांच वनडे की सीरीज में रोहित शर्मा सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज रहे. उन्‍होंने 59.20 के औसत और 104.22 के स्‍ट्राइक रेट से 296 रन बनाए. इसी तरह रहाणे ने सीरीज में 48.80 के औसत से 244 रन बना डाले, इसमें चार अर्धशतक शामिल रहे. इससे पहले शिखर धवन ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज के चार मैचों में 63.33 के औसत से 190 रन बना डाले थे. सीरीज के अंतिम वनडे में शिखर नहीं खेले थे. भारतीय बैटिंग ऑर्डर की चर्चा करते हुए सुनील गावस्‍कर  (सनी) ने कहा, मुझे लगता है कि हमारे पास जिस तरह के टॉप 3 बल्‍लेबाज हैं, उससे दुनिया को जलन होती होगी. टॉप-3 बल्‍लेबाज इन दिनों लगातार रन बना रहे हैं. ऐसे में चौथे नंबर पर आने वाले बल्‍लेबाज को 30 से 40 ओवर के बीच ही क्रीज पर आने का मौका मिल पाता है. स्‍वाभाविक रूप से ऐसे में उसके पास ज्‍यादा समय नहीं होता.

वीडियो: टीम इंडिया की सीरीज जीत में रोहित शर्मा चमके

टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली पांच मैचों की सीरीज में कोई शतक तो नहीं बना पाए, लेकिन उन्‍होंने 36 के औसत से 180 रन बनाए. इसमें 92 रन उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर रहा. एक  बार 0 पर आउट होने क बावजूदा सीरीज में रनों के मामले में वे छठे स्‍थान पर रहे. नागपुर वनडे में कोहली की 55गेंदों पर 39 रन की पारी के बारे में सनी ने कहा, 'यह बैटिंग के लिहाज से आसान पिच नहीं थी. इस पिच पर कुछ समय गुजारने के बाद ही आप इसके अभ्‍यस्‍त हो पा रहे थे. बॉल अच्‍छी तरह से बैट पर नहीं आ रही थी. इसलिए शुरुआत में अपनी टाइमिंग को लेकर विराट कुछ संघर्ष करते दिखे. वैसे भी रोहित और रहाणे ने टीम इंडिया को जिस तरह की शुरुआत दी थी, उस स्थिति में विराट के लिए करने को बहुत कुछ नहीं था. '


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement