Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Women's T20 WC: बारिश से धुला मैच, सेमीफाइनल में एक भी गेंद खेले ब‍िना फाइनल में पहुंची भारतीय टीम

Womens T20 World Cup 2020: सुबह से लगातार बारिश के कारण टॉस भी नहीं हो पाया और आखिर में सेमीफाइनल मैच बिना गेंद फेंके रद्द करना पड़ा. इससे भारतीय टीम खिताबी मुकाबले में प्रवेश कर गई जबक‍ि इंग्लैंड के खेमे में निराशा छा गई. फाइनल मुकाबला रविवार, आठ मार्च को मेलबर्न में खेला जाएगा.

Women's T20 WC: बारिश से धुला मैच, सेमीफाइनल में एक भी गेंद खेले ब‍िना फाइनल में पहुंची भारतीय टीम

Women's T20 WC: भारतीय टीम को ग्रुप में टॉप पर रहने के कारण फाइनल में प्रवेश म‍िल गया

खास बातें

  • लगातार बार‍िश के कारण टॉस भी नहीं हो पाया
  • अपने ग्रुप में अपराजेय रही भारतीय मह‍िला टीम
  • टूर्नामेंट का फाइनल मैच 8 मार्च को खेला जाएगा
स‍िडनी:

India Women vs England Women: भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच बारिश की भेंट चढ़ जाने के बाद ग्रुप चरण में अजेय रहने के कारण पहली बार आईसीसी महिला टी20 वर्ल्‍डकप (ICC Womens T20 World Cup 2020 ) के फाइनल में जगह बना ली. सुबह से लगातार बारिश के कारण टॉस भी नहीं हो पाया और आखिर में सेमीफाइनल मैच बिना गेंद फेंके रद्द करना पड़ा. इससे भारतीय टीम खिताबी मुकाबले में प्रवेश कर गई जबक‍ि इंग्लैंड के खेमे में निराशा छा गई. फाइनल मुकाबला रविवार, आठ मार्च को मेलबर्न में खेला जाएगा. मैच रद्द होने के बाद इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाइट (Heather Knight) ने कहा, ‘यह वास्तव में निराशाजनक है. हम इस तरह से वर्ल्‍डकप का अंत नहीं चाहते थे. मैच के लिए र‍िजर्व डे नहीं है, खेलने का मौका नहीं मिला और आखिर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हार हमें महंगी पड़ गई.'

8 मार्च भारत की कप्तान हरमनप्रीत कौर के लिए होगा बड़ा खास, जानिए क्यों..

भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) ने भी सहमति जताई कि सेमीफाइनल के लिये एक अन्य दिन सुरक्षित होना चाहिए. मेजबान क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ऐसा आग्रह किया था लेकिन आईसीसी ने उसे नामंजूर कर दिया था. हरमनप्रीत ने कहा, ‘यह निराशाजनक है कि हम मैच नहीं खेले, लेकिन कुछ नियम हैं जिनका हमें अनुसरण करना होता है. भविष्य में सुरक्षित दिन रखने का विचार अच्छा होगा.' नाइट ने कहा कि उनकी टीम को टूर्नामेंट की अच्छी शुरुआत नहीं करने का खामियाजा भुगतना पड़ा. उन्होंने कहा, ‘इससे हमें सबक मिला कि हमें पहला मैच भी जीतना चाहिए था. टूर्नामेंट की अच्छी शुरुआत नहीं कर पाना चलन बन गया है और इसका हमें नुकसान हुआ. '

भारतीय टीम ग्रुप ए से शीर्ष पर रही थी. उसने अपने चारों मैच जीते थे जबकि इंग्लैंड ग्रुप बी में तीन जीत और एक हार से दूसरे स्थान पर रहा था. हरमनप्रीत ने कहा, ‘पहले दिन से हम जानते थे कि हमें सभी मैच जीतने होंगे क्योंकि अगर किसी वजह से सेमीफाइनल नहीं हो पाता है तो मुश्किल पैदा हो सकती है. इस लिहाज से श्रेय टीम को जाता है जिसने सभी मैच जीते.' उन्होंने कहा, ‘हर कोई बहुत अच्छी फार्म में दिख रहा है. शैफाली वर्मा और स्मृति मंधाना ने हमें अच्छी शुरुआत दी और इससे हमें मदद मिली. मैं और स्मृति नेट्स पर अधिक समय बिताने की कोशिश कर रहे हैं.' हरमनप्रीत ने कहा, ‘हम अब अधिक सकारात्मक होकर खेल रहे हैं. दुर्भाग्य से हम बड़ी पारियां नहीं खेल पायी लेकिन हमारी साथियों ने खेली और इसलिए यह ‘टीम गेम' है.' इंग्लैंड पिछली बार रनरअप रहा था. इससे पहले सात अवसरों पर भारत कभी फाइनल में नहीं पहुंच पाया था लेकिन इस बार बेहतरीन प्रदर्शन से वह खिताब का प्रबल दावेदार बन चुका है.

वीडियो: 15 साल की लड़की ने तोड़ा तेंदुलकर का रिकॉर्ड