NDTV Khabar

हनीप्रीत का पति विश्वास गुप्ता बोला - 'वह गुरमीत राम रहीम की बेटी नहीं सपनों की रानी थी'

उसने यह भी दावा किया कि किसी भी प्रकार से बाबा राम रहीम ने कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जिससे वह हनीप्रीत को गोद लेने की बात साबित करे.

676 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
हनीप्रीत का पति विश्वास गुप्ता बोला - 'वह गुरमीत राम रहीम की बेटी नहीं सपनों की रानी थी'

हनीप्रीत है गुरमीत राम रहीम की सबसे बड़ी राजदार

नई दिल्ली: दो साध्वियों से बलात्कार के दोषी गुरमीत राम रहीम सिंह रोहतक जेल में बंद है. उसे 20 साल कैद की सजा कोर्ट ने सुनाई है. उसकी सबसे करीबी हनीप्रीत फरार चल रही है. पुलिस उसे खोजने के लिए कई स्थानों पर तलाश जारी रखे हुए है. कभी जानकारी आ रही है कि वह नेपाल भाग गई है. कभी कहा जाने लगता है कि वह चीन चली गई है तो कभी खबरें आती हैं कि वह राजस्थान या पंजाब में कहीं छिपी बैठी है. बोला तो यह भी जा रहा है कि वह भेष बदल कर ठिकाना बदल रही है ताकि पुलिस की गिरफ्त से बाहर रह सके. 

टिप्पणियां
एएनआई के अनुसार हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने शुक्रवार को मीडिया के सामने आकर कहा कि हनीप्रीत बाबा की बेटी नहीं बल्कि उसके सपनों की रानी थी. उसने यह भी दावा किया कि किसी भी प्रकार से बाबा राम रहीम ने कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जिससे वह हनीप्रीत को गोद लेने की बात साबित करे.
 
vishwas gupta

हनीप्रीत के पति विश्वास गुप्ता ने किए चौंकाने वाले खुलासे
 

यह भी पढ़ें : बाबा राम रहीम की करीबी हनीप्रीत पर एक लाख का इनाम, शहर में लगे पोस्टर!

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार विश्वास गुप्ता ने कहा कि उसने अपनी आंखों से बाबा राम रहीम को हनीप्रीत के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा था. गुप्ता ने कहा कि बाबा ने पूरी दुनिया की आंखों में धूल झोंकने के लिए कहा था कि उसने हनीप्रीत को गोद लिया है. 
 
रिपोर्ट के अनुसार विश्वास गुप्ता ने राम रहीम और हनीप्रीत के बारे कई और चौंकाने वाले खुलासे किए. उसने कहा कि बाबा हनीप्रीत को अपने बेड पर सुलाता था. उसने कहा कि पूरी दुनिया को राम रहीम बताता था कि हनीप्रीत उसकी मंझली बेटी है लेकिन उसका बर्ताव बीवी जैसा था. उसने बताया कि जब उन दोनों की शादी हुई थी तो उसकी पहली रात भी हनीप्रीत राम रहीम सिंह के साथ गुफा में थी. विश्वास गुप्ता ने बताया कि साल 1999 से लेकर साल 2009 तक उसकी पत्नी हनीप्रीत गुफा के अंदर बाबा के बेड पर उसके साथ सोती थी और वो गुफा के बाहर रहता था.
VIDEO: बाबा की गिरफ्तारी के बाद से फरार हो गई हनीप्रीत

उल्लेखनीय है कि गुप्ता पहले भी यह कह चुका है कि जब-जब वो हनीप्रीत को बुलाता था तो कहा जाता था कि हनीप्रीत बाबा की सेवा कर रही है. उसने कहा कि इससे तंग होकर डेरे के साधु ने उसे पिस्तौल दिखाई थी. गुप्ता के मुताबिक बाद में राम रहीम सिंह के इशारे पर उसके और पूरे परिवार के ऊपर दहेज का झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया गया था. विश्वास गुप्ता ने बताया कि इससे डर कर उसने बाबा से माफी मांग ली थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement