NDTV Khabar

दिल्ली: टाउन हॉल में BJP पार्षद ने AAP पार्षद को मारा घूसा, जमकर मचा बवाल- देखें VIDEO

दिल्ली में टाउन हॉल (Town Hall Meeting) के सदन में बीजेपी और आम आदमी के पार्षद आपस में भिड़ गए. बीजेपी पार्षद सुरेंद्र खर्ब (Surender Khrub) ने आम आदमी पार्टी के विधायक विकास गोयल (Vikas Goel) को घूसा मार दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

दिल्ली में टाउन हॉल के सदन में बीजेपी और आम आदमी के पार्षद आपस में भिड़ गए. नेता विपक्ष अनिल लाकड़ा के भाषण के दौरान बीजेपी पार्षद टोकाटाकी कर रहे थे, जिस पर आम आदमी पार्टी के पार्षद भड़क गए.. इसके बाद मामला बिगड़ गया और हाथापाई तक की नौबत आ गई. इसके बाद बीजेपी पार्षद सुरेंद्र खर्ब ने आम आदमी पार्टी के विधायक विकास गोयल को घूसा मार दिया. दरअसल, सोमवार को ऐतिहासिक टाउन हॉल में उत्तरी दिल्ली नगर निगम की विशेष बैठक बुलाई गई थी. बैठक में उत्तरी दिल्ली नगर निगम के नेता सदन तिलकराज कटारिया ने दिल्ली सरकार से अधिकार वापस लेने का प्रस्ताव रखा. इस प्रस्ताव पर जैसे ही नेता विपक्ष अनिल लाकड़ा ने बोलना शुरू करते हुए BJP पर निशाना साधा तो सत्तापक्ष पार्षदों ने शोर मचाकर बहस करना शुरू कर दिया.

देखें मारपीट का VIDEO...


 

देखते ही देखते एक दूसरे के नेता को चोर बताने और फिर नोक झोंक और हाथापाई तक पहुंच गई. आप पार्षद विकास गोयल को भाजपा पार्षद सुरेंद्र खर्ब ने घूसा मारा जो वीडियो में दिखाई भी दे रहा है. इस घटना से गुस्साए आम आदमी पार्टी के पार्षदों ने महापौर के सामने हंगामा शुरू कर दिया. हंगामा बढ़ता देख महापौर आदेश गुप्ता ने कुछ देर के लिए बैठक को स्थगित किया तो नेता विपक्ष अनिल लाकड़ा पार्षदों के साथ धरने पर बैठकर नारेबाजी करने लग गए. इस दौरान भाजपा के पूर्व नेता सदन जयेंद्र डबास ने अनिल लाकड़ा को मनाने की कोशिश भी की, लेकिन लाकड़ा तैयार नहीं हुए. इसके बाद बाद शोर शराबे के बीच फिर से बैठक हुई और प्रस्ताव पारित करा लिए गए. बैठक के शुरू होने के करीब 45 मिनट के भीतर ही बैठक को स्थगित करना पड़ा. 

तेलंगाना का विरोध : संसदीय इतिहास में काला दिन, हाथापाई, मिर्ची स्प्रे, कंप्यूटर तोड़ा


मारपीट की इस घटना के बाद उत्तरी दिल्ली नगर निगम में नेता विपक्ष अनिल लाकड़ा ने कहा भाजपा सदन में लोकतंत्र की हत्या कर रही है. विपक्ष को बोलने नहीं दिया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक सदन में बुलाई गई बैठक को सत्ता पक्ष ने मारपीट कर कलंकित किया है. उन्होंने कहा कि जब तक महापौर पार्षद को बर्खास्त नहीं करेंगे तब तक वह सदन और स्थायी समिति की बैठक का बहिष्कार करेंगे. वहीं, आरोपित बीजेपी पार्षद सुरेंद्र खर्ब ने दावा किया कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया. सुरेंद्र खर्ब ने कहा, 'मैंने किसी के साथ हाथापाई नहीं की. आप पार्षद भाजपा की महिला पार्षद के ऊपर पैर रख रहे थे, उसके बचाव में मैंने दूसरे पार्षदों को अलग करने की कोशिश की थी. जबकि आप पार्षद गाली-गलौच कर रहे थे.' 

टिप्पणियां

लाइव टीवी शो के दौरान सपा-बीजेपी प्रवक्ता में मारपीट, देखें VIDEO

इस पूरे घटनाक्रम पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मेयर आदेश गुप्ता ने घटना की निंदा करते हुए जांच की बात कही है. आदेश गुप्ता ने कहा कि 'पार्षदों द्वारा की गई घटना निंदनीय है. इस मामले की जांच की जाएगी. इसके बाद ही कार्रवाई का फैसला होगा. सत्ता पक्ष और विपक्ष के पार्षदों को चाहिए कि वह सदन में सकारात्मक तौर से भाग ले और इस तरह की घटनाओं से बचना चाहिए. किसी भी दल के पार्षद हो उन्हें निगम के सदन में मिलने वाले सरकारी कागजों को भी नहीं फाडऩा चाहिए.'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement