करतारपुर साहिब: ब्रिटेन से पाकिस्‍तान पहुंचा श्रद्धालुओं का जत्‍था, शनिवार को होगा कॉरिडोर का उद्घाटन

करतारपुर साहिब गुरुद्वारा (Kartarpur Sahib Gurudwara), जिसे मूल रूप से गुरुद्वारा दरबार साहिब (Gurudwara Darbar Sahib) के नाम से जाना जाता है, सिखों का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है, जहां गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev) ने अपने जीवन के अंतिम वर्ष बिताए.

करतारपुर साहिब: ब्रिटेन से पाकिस्‍तान पहुंचा श्रद्धालुओं का जत्‍था, शनिवार को होगा कॉरिडोर का उद्घाटन

Kartarpur Sahib: करतारपुर साहिब में गुरु नानक देव ने अपने जीवन के अंतिम वर्ष बिताए थे

इस्‍लामाबाद:

सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev) की आगामी 550वीं जयंती पर पंजाब प्रांत के करतारपुर साहिब गुरुद्वारा (Kartarpur Sahib Gurudwara) में आयोजित होने वाले समारोह में हिस्सा लेने के लिए 178 सदस्यीय सिख प्रतिनिधिमंडल ब्रिटेन से पाकिस्तान पहुंच गया है. डॉन न्यूज ने सोमवार को बताया कि रविवार को पहुंचने के तुरंत बाद, 178 सदस्यीय समूह गुरुद्वारा जन्म अस्थान ननकाना साहिब (Nankana Sahib) और शेखूपुरा जिले के गुरुद्वारा सच्चा सौदा के लिए रवाना हो गया.

यह भी पढ़ें: इमरान खान बोले- "सिख श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए तैयार है करतारपुर

पाकिस्तान गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने घोषणा की है कि बाबा गुरु नानक की जयंती समारोह पूरे नवंबर जारी रहेगा. भारत के साथ-साथ यूरोप और उत्तरी अमेरिका के सिख तीर्थयात्री इस संबंध में आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे.

'पंजाब इवैक्यूई ट्रस्ट बोर्ड' के प्रवक्ता आमेर हाशमी ने कहा कि मुख्य कार्यक्रम 12 नवंबर को करतारपुर साहिब गुरुद्वारा में होगा. इस बीच, सोने की पालकी के साथ करीब 1,100 सिख तीर्थयात्रियों का पहला जत्था 31 अक्टूबर को वाघा बॉर्डर से होकर यहां पहुंचा. मंगलवार को करतारपुर साहिब गुरुद्वारा में पालकी स्थापित की जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

करतारपुर साहिब गुरुद्वारा, जिसे मूल रूप से गुरुद्वारा दरबार साहिब के नाम से जाना जाता है, सिखों का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है, जहां गुरु नानक देव ने अपने जीवन के अंतिम वर्ष बिताए.

यह भी पढ़ें: इमरान खान ने कहा, करतारपुर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं को पासपोर्ट की जरूरत नहीं

इस बीच, करतारपुर कॉरिडोर, जो भारतीय सिख तीर्थयात्रियों को धर्मस्थल की यात्रा करने के लिए पाकिस्तान जाने की सुविधा प्रदान करेगा, इसका उद्घाटन शनिवार को किया जाएगा.