अक्षय तृतीया के साथ आज से चारधाम यात्रा का हुआ आरंभ, गंगोत्री व यमुनोत्री के खुले पाट

बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन लाल थपलियाल ने कहा कि केदारनाथ मंदिर परिसर के चारों तरफ अभी भी भारी बर्फ जमा है, लेकिन मंदिर की तरफ जाने वाले मार्ग पर बर्फ को साफ किया गया है.

अक्षय तृतीया के साथ आज से चारधाम यात्रा का हुआ आरंभ, गंगोत्री व यमुनोत्री के खुले पाट

चारधाम यात्रा आज से शुरू

देहरादून:

चारधाम यात्रा आज से अक्षय तृतीया के शुभ दिन से शुरू हो रही है. तीर्थयात्रियों का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चार तीर्थों केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री की सफल यात्रा की कामना की.

रावत ने कहा, "उत्तराखंड चारधाम यात्रा के तीर्थयात्रियों के स्वागत के लिए तैयार है."

उन्होंने कहा कि सुरक्षा व तीर्थयात्रियों के लिए दूसरी विभिन्न सुविधाओं का ख्याल रखा जाएगा.

Akshaya Tritiya 2019: सोना असली है या नकली, इस तरह करें पहचान

गंगोत्री व यमुनोत्री तीर्थस्थलों को अक्षय तृतीया को फिर से खोला जा रहा है जबकि केदारनाथ व बद्रीनाथ तीर्थस्थलों को तीर्थयात्रियों के लिए 9 मई व 10 मई को खोला जाएगा.

Akshaya Tritiya 2019: WhatsApp और Facebook पर इन मैसेजेस से दें अक्षय तृतीया की बधाई

बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन लाल थपलियाल ने कहा कि केदारनाथ मंदिर परिसर के चारों तरफ अभी भी भारी बर्फ जमा है, लेकिन मंदिर की तरफ जाने वाले मार्ग पर बर्फ को साफ किया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Akshaya Tritiya 2019: अक्षय तृतीया के दिन खुलेंगे गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर के कपाट, श्रद्धालु यात्रा के लिए तैयार

जनवरी-फरवरी में भारी बर्फबारी में बड़ी संख्या में कुटियों को नुकसान हो जाने के बाद सरकार ने अधिक ऊंचाई पर बर्फ को साफ करने का कार्य लिया है और फिर से कुटियों का निर्माण कर रही है, जो 15-20 फीट भारी बर्फबारी में केदारनाथ इलाके में नष्ट हो गई थी. केदारनाथ, रूद्रप्रयाग जिले में 11,755 फीट की ऊंचाई पर स्थित है.