NDTV Khabar

बंटवारे के बाद पाक से पहली बार ननकाना साहिब में मत्था टेककर लौटे 500 भारतीय तीर्थयात्री

गुरु नानक की 550वीं जयंती समारोह से पहले भारत और पाकिस्तान में 4.2 किलोमीटर लंबे गलियारे का निर्माण सितंबर के अंत तक खत्म हो जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बंटवारे के बाद पाक से पहली बार ननकाना साहिब में मत्था टेककर लौटे 500 भारतीय तीर्थयात्री

पाकिस्तान के ननकाना साहिब में मत्था टेक भारत लौटे 500 तीर्थयात्री

अमृतसर:

भारत विभाजन के बाद से पहली बार 500 से अधिक सिख तीर्थयात्री पाकिस्तान स्थित ननकाना साहिब में मत्था टेककर गुरुवार को स्वदेश लौटे. कार्यक्रम के आयोजकों ने बताया कि सिख तीर्थयात्रियों का एक जत्था सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह के उपलक्ष्य में ऐतिहासिक ननकाना साहिब में श्रद्धा सुमन अर्पित करने के बाद गुरुवार की दोपहर सड़क मार्ग से भारत पहुंचा.

ननकाना साहिब में मत्था टेकने के लिए दो दिन पहले ही इन तीर्थयात्रियों ने पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में प्रवेश किया था.

अकाली दल के विधायक मनजिंदर एस. सिरसा ने ट्वीट किया, "मैं ननकाना साहिब से आ रहे नगर कीर्तन का स्वागत करने के लिए संगत को दोपहर 1:30 बजे अटारी बॉर्डर पर आमंत्रित करता हूं."

दिल्ली सिख गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष सिरसा ने भारत के तीर्थयात्रियों का नेतृत्व किया.


Hariyali Teej 2019: 3 अगस्‍त को है हरियाली तीज, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, व्रत कथा और महत्‍व

नई दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग ने एक बयान में कहा, "पाकिस्तान गर्व महसूस करता है कि गुरु नानक की 550वीं जयंती का जश्न ननकाना साहिब से शुरू हो रहा है."

उच्चायोग की ओर से कहा गया कि पाकिस्तान सरकार इस समारोह को यादगार और ऐतिहासिक बनाने के लिए कई पहल कर रही है.

Hariyali Teej 2019: पेड़ों पर झूले, सावन की फुहार, मुबारक हो हरियाली तीज का त्योहार, पढ़ें Teej के खास मैसेजेस

नवंबर में क्रॉस-बॉर्डर करतारपुर गलियारा (कॉरिडोर) का उद्घाटन किया जाएगा. इस दौरान भारत के हजारों तीर्थयात्रियों के सीमा पार स्थित करतारपुर गुरुद्वारा जाने की उम्मीद है. इस स्थान पर गुरु नानक ने अपने अंतिम दिन बिताए थे. गलियारे का एक बड़ा हिस्सा पाकिस्तान के क्षेत्र में पड़ता है.

टिप्पणियां

गुरु नानक की 550वीं जयंती समारोह से पहले भारत और पाकिस्तान में 4.2 किलोमीटर लंबे गलियारे का निर्माण सितंबर के अंत तक खत्म हो जाएगा.

इनपुट-आईएएनएस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement