NDTV Khabar

गोविंदा ने कहा, 'बॉलीवुड के किसी 'कैंप' से नहीं जुड़ना मेरी एक बड़ी गलती थी...'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोविंदा ने कहा, 'बॉलीवुड के किसी 'कैंप' से नहीं जुड़ना मेरी एक बड़ी गलती थी...'

खास बातें

  1. गोविंदा बोले 'बॉलीवुड में कई कैंप्‍स हैं और इनमें रहने से फायदा होता है'
  2. 'मैंने बच्‍चन सर को देखा, लेकिन सोचा नहीं कि यह मेरे साथ होगा': गोविंदा
  3. गोविंदा की फिल्‍म 'आ गया हीरो' 17 मार्च को होने वाली है रिलीज
नई दिल्‍ली: अपनी कॉमेडी और डांसिंग स्‍टाइल के लिए पहचाने जाने वाले और 90 के दशक के सुपरस्‍टार रहे गोविंदा का कहना है कि बॉलीवुड के किसी भी कैंप का हिस्सा नहीं रहना उनकी गलती थी. गोविंदा ने न्‍यूज एजेंसी पीटीआई को बताया कि फिल्म इंडस्ट्री में कई बड़े कैंप हैं और वह महसूस करते हैं कि किसी भी कैंप का हिस्सा नहीं होना एक गलत कदम था. गोविंदा ने पीटीआई को बताया, 'यह आपके करियर को प्रभावित करता है.' हालांकि गोविंदा खुद भी एक तरह से लंबे समय तक डेविड धवन के कैंप का हिस्‍सा रहे थे, जिनके साथ उन्‍होंने 17 हिट फिल्‍में की हैं. लेकिन अब डेविड धवन से गोविंदा के रिश्‍ते उतने अच्‍छे नहीं रहे हैं. गोविंदा का कहना है, 'बॉलीवुड में कई कैंप हैं. मैं कभी इनमें से किसी का हिस्‍सा नहीं रहा, लेकिन मुझे अब लगता है कि वह मेरी गलती थी. मुझे ऐसे कैंप्‍स का हिस्‍सा होना चाहिए था. यह आपको करियर को प्रभावित करता है. यह एक बड़े परिवार की तरह है. अगर आप उस बड़े परिवार का हिस्‍सा हैं और इसमें दोस्‍ती बनाए रखते हैं तो इससे आपको फायदा होता है.'

53 वर्षीय अभिनेता लंबे वक्त तक बॉलीवुड में छाये रहे लेकिन सन 2004 में राजनीति से जुड़ने के बाद उनका एक्टिंग करियर ठंड़ा पड़ने लगा. हालांकि वह 'पार्टनर', 'हैप्पी एंडिंग' और 'किल दिल' जैसी फिल्मों से वापसी करते रहे लेकिन ये फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कोई खास खेल नहीं दिखा सकीं. गोविंदा ने कहा कि उन्हें इस बात का असहास बहुत बाद में हुआ कि किसी एक विशेष कैंप का हिस्सा बने रहने से एक्टर के करियर को ग्रोथ मिलती रहती है.

गोविंदा ने पीटीआई को बताया, 'मैंने बहुत स्ट्रगल किया है, मैं आपको बता दूं, यह आसान नहीं है, जब मैं स्ट्रगल कर रहा था तब लोगों ने मेरा रास्ता आसान नहीं बनाया. मैंने देखा और सुना है कि बच्चन सर के साथ क्या हुआ, लेकिन मुझे नहीं मालूम था कि यह मेरे साथ भी हो सकता है. वह यह कर सके और इससे बाहर आ सके यह बहुत ही प्रेरणादायक था.' गोविंदा ने बताया कि इस गुरे समय में अमिताभ बच्‍चन ने उनकी आर्थिक समस्‍याओं में मदद की.

गोविंदा ने कहा कि उनका आर्थिक दिक्कतों से बाहर आना बहुत परेशानियों से भरा था. लोग बद्तमीजी करते हैं, वह आपके लिए ठीक से फिल्में तक नहीं लिखते, कुछ होते हैं जो बार-बार पैसे की मांगते हैं. वह कहते हैं कि उन्हें टीवी के लिखने का ज्यादा पैसा मिलता है. गोविंदा ने कहा कि इंडस्ट्री हमेशा पैसे से सरोकार रखने वाली थी लेकिन अब यह बहुत महंगी हो गई है. किसी एक्टर के लिए फिल्म बनाना और उसे रिलीज करना बहुत मुश्किल हो गया है.

हाल ही में गोविंदा ने डेविड धवन पर अरोप लगाया कि जब उन्‍हें जरूरत थी तब डेविड धवन ने उनका साथ नहीं दिया था. गोविंदा ने कहा, 'इंडस्‍ट्री में बने दोस्‍त आपकी ज्‍यादा मदद नहीं कर सकते. उन्‍हें अपने खुद के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है, अपना खुद का काम करना पड़ता है. दोस्‍त सिर्फ दोस्‍त रहते हैं, भगवान नहीं बन सकते. तो आपको चीजें अपने आप करनी पड़ती हैं.'

टिप्पणियां
मालूम हो कि गोविंदा की फिल्म 'आ गया हीरो' की शूटिंग पूरी हो चुकी है और इसका ट्रेलर रिलीज किया जा चुका है. यह फिल्म 17 मार्च को सिनेमाघरों में रिलीज होगी.  फिल्म का प्रोडक्शन और कहानी गोविंदा ने खुद लिखी है.

(इनपुट पीटीआई से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement