NDTV Khabar

'बाबूमोशाय बंदूकबाज' ने दिया नवाजुद्दीन सिद्दीकी को अपनी जड़ों से जुड़ने का मौका

अगर काम के साथ अपनी जड़ों को लौटना मिले तो कौन ऐसा काम नहीं करना चाहेगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'बाबूमोशाय बंदूकबाज' ने दिया नवाजुद्दीन सिद्दीकी को अपनी जड़ों से जुड़ने का मौका

खास बातें

  1. 25 अगस्त को हो रही है रिलीज
  2. शूटर बने हैं नवाजुद्दीन सिद्दीकी
  3. ए जेंटलमैन से है मुकाबला
नई दिल्ली:
टिप्पणियां
काम के बहाने अगर अपने अतीत से जुड़ने का मौका मिल जाए तो कहने ही क्या. बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ भी ऐसा ही हुआ. ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ के जरिये ‘डार्क एंड हैंडसम हीरो’ का कॉन्सेप्ट लाने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी की इस फिल्म की शूटिंग उत्तर प्रदेश की रियल लोकेशंस पर हुई है. नवाजुद्दीन उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं, ऐसे में अपने राज्य में पहुंचना किसे अतीत के झरोखों में नहीं ले जाएगा.
 
nawaz

कुछ दिन पहले वे फिल्म के प्रमोशन के लिए लखनऊ में प्रो कबड्डी लीग में पहुंचे. उन्होंने वहां मौजूद दर्शकों के साथ अपने अतीत के बारे में बातें की. बाबूमोशाय बंदूकबाज के प्रोड्यूसर अश्मित कुंदेर कहते हैं, “नवाज आज भी अपने जडों से जुड़े हैं. यहां के लोगों को भी नवाज की सादगी पसंद आती है. नवाज सफलता के शिखर तक पहुंचने के बावजूद भी डाऊन टू अर्थ हैं. नवाज की बातें सुनकर वहां मौजूद लोग भावुक हो गए थे.” 

बाबूमोशाय बंदूकबाज को कुषाण नंदी ने डायरेक्ट किया है और फिल्म 25 अगस्त को रिलीज हो रही है. फिल्म का मुकाबला सिद्धार्थ मल्होत्री की ए जेंटलमैन से है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement