Solar Eclipse 2019: अगले महीने 26 तारीख को लगेगा साल का अंतिम सूर्य ग्रहण, इस दौरान इन बातों का रखें ध्यान...

Surya Grahan: 26 दिसंबर के दिन लगने वाला यह सूर्य ग्रहण सुबह करीब 8 बजकर 4 मिनट पर लगेगा और 10 बजकर 56 मिनट तक करेगा. आमतौर पर सूर्य ग्रहण से पहले सूतक माना जाता है. 

Solar Eclipse 2019: अगले महीने 26 तारीख को लगेगा साल का अंतिम सूर्य ग्रहण, इस दौरान इन बातों का रखें ध्यान...

Solar Eclipse 2019: 26 दिसंबर, गुरुवार को साल 2019 का अंतिम सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) होगा.

नई दिल्ली:

Solar Eclipse 2019: 26 दिसंबर, गुरुवार को साल 2019 का अंतिम सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) होगा. यह सूर्य ग्रहण अफ्रीका, एशिया और आस्ट्रेलिया में दिखेगा. भारत में यह ग्रहण दक्षिण भारत के कंकणाकृति में दिखेगा. इस ग्रहण के चलते सबरीमला (Sabarimala) स्थित भगवान अयप्पा मंदिर (Ayyappa Temple) का गर्भ गृह 26 दिसंबर को सूर्यग्रहण चार घंटे तक बंद रहेगा. आमतौर पर सूर्य ग्रहण से पहले सूतक माना जाता है. यह ग्रहण से 12 घंटे पहले शुरू हो जाता है. लेकिन 26 दिसंबर को लगने वाले इस ग्रहण का सूतक उत्तर भारत में नहीं माना जाएगा, क्योंकि यह ग्रहण उत्तर भारत में दिखाई नहीं देगा.

Winter Superfoods: सर्दियों में खाएं ये सुपरफूड्स, होंगे गजब के फायदे!

Cough Home Remedies: लगातार खाँसी आपको परेशान कर रही है? अनानास का जूस दे सकता है जल्द राहत

सूर्य ग्रहण का समय 

26 दिसंबर के दिन लगने वाला यह सूर्य ग्रहण सुबह करीब 8 बजकर 4 मिनट पर लगेगा और 10 बजकर 56 मिनट तक करेगा. आमतौर पर सूर्य ग्रहण से पहले सूतक माना जाता है. 

भारत में कहां दिखेगा सूर्य ग्रहण

साल 2019 में लगने वाला यह अंतिम सूर्य ग्रहण दक्षिण भारत के कुछ हिस्सों में दिखेगा. केरल के चेरुवथुर में इस ग्रहण को देखा जा सकेगा.

बॉलीवुड के इन 5 हीरो ने चुना अपने से आधी उम्र का जीवनसाथी, इनसे सीखें रिश्ता निभाने के गुर

क्या होता है सूर्य ग्रहण

अक्सर हम जानना चाहते हैं कि आखिर सूर्य ग्रहण होता कैसे हैं. वह कौन सी स्थिति होती है जिसे सूर्य ग्रहण कहा जाता है. असल में सूर्य ग्रहण उस खगोलिय स्थिति को कहा जाता है जब पृथ्वी पर चांद की छाया पड़ती है. इस स्थित को सूर्य ग्रहण कहा जाता है. 

सूर्य ग्रहण के दौरान मान्यताएं

माना जाता है कि ग्रहण के दौरान ईश्वर का नाम लेना चाहिए. इस दौरान मंत्र जाप करने की परंपरा रही है.
मंत्र जाप करने की मान्यता के बावजूद ग्रहण के दौरान पूजा-पाठ नहीं करनी चाहिए. 
माना जाता है कि ग्रहण खत्म होने के बाद घर की सफाई की जानी चाहिए.
माना जाता है कि सूतक लगने से पहले ही रसोई की चीजों में तुलसी के पत्ते रख देने चाहिए. 

Belly Fat Diet: 6 आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां, जो घटाएंगी पेट की चर्बी और मोटापा


सूर्य ग्रहण 2019 के दौरान बरतें ये सावधानियां (Solar Eclipse 2019: Precautions To Take)

1. सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ भी नहीं खाने या पीने की सलाह दी जाती है. यह इसलिए हो सकता है, क्योंकि ग्रहण के दौरान चुंबकीय क्षेत्र और पराबैंगनी किरणें काफी तीव्र होती हैं. ग्रहण शुरू होने से पहले ही अपना खाना पूरा कर लेना चाहिए. डॉ. गीता प्रकाश (दिल्ली स्थित पारिवारिक चिकित्सक) का कहना है कि ग्रहण से पहले खाना खा लेना ठीक रहता है हालांकि यह बस एक पुरानी मान्यता है. 
2. ग्रहण के दौरान खुद को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखें, डॉ. गीता प्रकाश सलाह देते हुए कहती हैं कि यह सुनिश्चित करें कि ग्रहण से पहले आप खूब पानी पी चुके हों.
3. डॉ. गीता के अनुसार, व्यक्ति को सीधे ग्रहण देखने से बचना चाहिए. आमतौर पर ग्रहण को देखते हुए खास सावधानियां बरतनी चाहिए. दरअसल, सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) के दौरान सोलर रेडिएशन से आंखों के नाजुक टिशू डैमेज हो सकते हैं. ऐसा करने से आखों में विजन - इशू यानी देखने में दिक्कत हो सकती है. इसे रेटिनल सनबर्न भी कहते हैं. ये परेशानी कुछ वक्त या फिर हमेशा के लिए भी हो सकती है.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

Belly Fat Diet: 6 आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां, जो घटाएंगी पेट की चर्बी और मोटापा

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com