NDTV Khabar

असम के नौगांव में दो लोगों की पीट-पीटकर हत्‍या, कथित रूप से चुरा रहे थे मवेशी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
असम के नौगांव में दो लोगों की पीट-पीटकर हत्‍या, कथित रूप से चुरा रहे थे मवेशी
गुवाहाटी: असम के नौगांव जिले में उग्र भीड़ ने रविवार को दो लोगों की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी. इन दोनों पर मवेशी चोर होने का संदेह था. असम में गोरक्षा के नाम पर हत्या का यह पहला मामला है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दोनों व्यक्तियों की उग्र भीड़ ने जमकर पिटाई की. इन दोनों की आयु 20 से 25 साल के बीच थी. भीड़ ने आरोप लगाया कि ये दोनों गाय की चोरी में शामिल थे. नौगांव के पुलिस अधीक्षक देवराज उपाध्याय ने बताया, ‘जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो उसने देखा कि दोनों व्यक्तियों की नौगांव थाने के अंतर्गत कासामारी चारागाह क्षेत्र के निकट उग्र ग्रामीणों की भीड़ पिटाई कर रही थी.’ उन्होंने बताया, ‘टीम तुरंत लोगों को अस्पताल ले गई, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.’

उन्होंने बताया कि उग्र भीड़ ने उनका नौगांव थाना क्षेत्र में करारमरी से जाजोरी थाना क्षेत्र के अंतर्गत तकरीबन डेढ़ किलोमीटर तक पीछा किया और उनकी लाठियों से पिटाई की. उपाध्याय ने बताया कि दोनों व्यक्तियों की पहचान की गई है और उनके माता-पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज की गई है और जांच चल रही है. अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है. यह पूछे जाने पर कि क्या यह गो रक्षकों का मामला है तो वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नौगांव में मवेशी चोरी की काफी घटनाएं हुई हैं.

टिप्पणियां
उन्होंने कहा, ‘इस मामले में मुझे खबर मिली कि कुछ लोगों ने देखा कि दो लोग खेत से गायों को लेकर जा रहे हैं और उन्होंने गांव से और लोगों को बुलाया. जब बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए तो उन्होंने उनकी बुरी तरह पिटाई शुरू कर दी.’ पुलिस अधीक्षक ने प्रकरण की ‘निष्पक्ष जांच’ का आश्वासन दिया. यद्यपि असम से पहले भी मवेशी चोरों की उग्र भीड़ द्वारा पिटाई किए जाने की खबरें आई हैं, लेकिन गोरक्षा के नाम पर असम में हत्या का यह पहला मामला है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement