नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्‍तान के आतंकी लॉन्चिंग पैड पर 450-500 आतंकी हैं मौजूद : सेना के सूत्र

पाकिस्‍तान की कोशिश अभी किसी भी तरह इन आतंकियों की घुसपैठ कराने की है क्योंकि बाद में बर्फ पड़ने की वजह से घुसपैठ कराना मुश्किल हो जाएगा.

नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्‍तान के आतंकी लॉन्चिंग पैड पर 450-500 आतंकी हैं मौजूद : सेना के सूत्र

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली:

नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्‍तान के आतंकी लॉन्चिंग पैड पर 450-500 आतंकी मौजूद हैं जो भारत में घुसपैठ करने की फिराक में हैं. सेना के सूत्रों ने यह जानकारी दी है. सूत्रों ने बताया कि पहले 200-250 आतंकी होते थे लेकिन इस बार इनकी संख्‍या दोगुनी है. पाकिस्‍तान की कोशिश अभी किसी भी तरह इन आतंकियों की घुसपैठ कराने की है क्योंकि बाद में बर्फ पड़ने की वजह से घुसपैठ कराना मुश्किल हो जाएगा.

सूत्रों ने बताया कि त्योहारों के मद्देनजर इस समय और सचेत रहने की जरूरत है क्योंकि आतंकी बड़ी घटना को अंजाम दे सकते हैं. चार दिन पहले बालाकोट में आतंकियों के फिर से सक्रिय होने की खुफिया रिपोर्ट मिली है. पिछले 2 महीने में नियंत्रण रेखा (एलओसी) और अंतरराष्‍ट्रीय सीमा (आईबी) से 60 आतंकी घुसपैठ कर दाखिल हुए. सूत्रों के अनुसार 4 से 5 लांच पैड से आतंकी घुसपैठ की तैयारी में हैं और इसको देखते हुए सेना व सुरक्षा बल एलओसी और आईबी पर हाई अलर्ट पर हैं. सेना अब सरहद पर बचाव नहीं बल्कि आक्रमक भूमिका में है.

सोमवार को ही सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने कहा कि पाकिस्तान ने हाल ही में बालाकोट को फिर सक्रिय कर दिया है और करीब 500 घुसपैठिए भारत में घुसने की फिराक में हैं. अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी में उन्होंने मीडिया से कहा, ‘पाकिस्तान ने हाल ही में बालाकोट को फिर सक्रिय कर दिया है. इससे पता चलता है कि बालाकोट प्रभावित हुआ था. वह क्षतिग्रस्त और नष्ट हुआ था. इसलिए लोग वहां से चले गए थे और अब वह फिर से सक्रिय हो गया है.'

उन्होंने कहा कि करीब 500 घुसपैठिए भारत में घुसने की फिराक में है. साथ ही जनरल रावत ने कहा, "आतंकवादियों की हमारे इलाके में घुसपैठ करवाने के लिए पाकिस्तान संघर्षविराम उल्लंघन करता है... हम जानते हैं कि संघर्षविराम उल्लंघन से कैसे निपटना है... हमारी फौज जानती है कि खुद को कैसे पोज़िशन करें, और कैसे कार्रवाई करें... हम सतर्क हैं, और सुनिश्चित करेंगे कि घुसपैठ की ज़्यादा से ज़्यादा कोशिशें नाकाम हों..."

इसके अलावा उन्होंने कहा कि "कश्मीर घाटी में आतंकवादियों और पाकिस्तान में बैठे उनके हैंडलरों के बीच कम्युनिकेशन ब्रेकडाउन हुआ है, लेकिन लोगों से लोगों के बीच कोई कम्युनिकेशन ब्रेकडाउन नहीं हुआ है..." बता दें, फरवरी में पुलवामा में सीआरपीएफ कर्मियों को निशाना बनाकर किए गए आतंकवादी हमले के जवाब में भारतीय वायु सेना ने बालाकोट स्थित आतंकवादी ठिकानों पर हवाई हमले किए थे.

Newsbeep

VIDEO: सेना प्रमुख बिपिन रावत बोले- हम सीजफायर के उल्लंघन से निपटना जानते हैं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com