11 दिनों तक 1000 KM साइकिल चला किसानों का समर्थन करने टिकरी बॉर्डर पहुंचे 60 वर्षीय बुजुर्ग

Farmers Protest March: दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर किसान पिछले 23 दिनों से डटे हुए हैं और तीनों नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं.

11 दिनों तक 1000 KM साइकिल चला किसानों का समर्थन करने टिकरी बॉर्डर पहुंचे 60 वर्षीय बुजुर्ग

बिहार के 60 साल के सत्यदेव मांझी 11 दिनों तक साइकिल चलाकर करीब 1000 किलोमीटर दूर दिल्ली-हरियाणा के टिकरी बॉर्डर पहुंचे हैं.

खास बातें

  • बिहार के सीवान से 1000KM साइतिल चला दिल्ली पहुंचे 60 साल के बुजुर्ग
  • ताकि किसानों के आंदोलन को दे सकें समर्थन, कृषि कानून वापसी की अपील की
  • बोले- 'जब तक आंदोलन खत्म नही होता, यहां रहूंगा'
नई दिल्ली:

बिहार (Bihar) के सीवान जिले के रहने वाले 60 साल के बुजुर्ग सत्यदेव मांझी 11 दिनों तक लगातार साइकिल चलाकर करीब 1000 किलोमीटर दूर दिल्ली-हरियाणा के टिकरी बॉर्डर (Delhi-Haryana Border) पर किसानों के विरोध प्रदर्शन (Farmers Protest) को अपना समर्थन देने पहुंचे हैं. समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए मांझी ने केंद्र सरकार से अपील की कि वो किसान हितों को देखते हुए तीनें नए कृषि कानून (Farmers Laws) वापस ले ले.

मांझी ने कहा, "मुझे अपने गृह जिले सीवान से यहां पहुंचने में 11 दिन लग गए. मैंने सरकार से तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का आग्रह किया है. मैं तब तक यहां रहूंगा जब तक कि आंदोलन खत्म नहीं हो जाता."

शिवराज सिंह ने कहा मंडिया बंद नहीं होंगी, लेकिन 70 फीसदी मंडियों में कारोबार लगभग पूरी तरह ठप

बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर किसान 26 नवंबर से लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. वे केंद्र सरकार से तीनों नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हैं. किसान संगठनों और केंद्र सरकार के बीच पांच दौर की बातचीत बेनतीजा रही है.

Newsbeep

SC की सुनवाई पर बोले किसान नेता- 'सरकार कानून होल्ड करे या ना करे, हम वापस कराकर ही जाएंगे'

वीडियो- सुप्रीम कोर्ट ने कहा - प्रदर्शन हो लेकिन रास्ता रोक कर नहीं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com