NDTV Khabar

बिहार और असम में बाढ़ का सितम जारी, अभी तक 97 लोगों की गई जान

असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार राज्य में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 27 तक पहुंच गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार और असम में बाढ़ का सितम जारी, अभी तक 97 लोगों की गई जान

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

बिहार और असम के लोगों को बाढ़ से बुधवार को भी कोई राहत नहीं मिली है. दोनों राज्यों में  44 और लोगों की मौत हो गई. वहीं उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर जिले के बिलासपुर गांव में भारी बारिश की वजह से एक घर की छत गिरने से एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत हो गई और तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार राज्य में बाढ़ से मरने वालों की संख्या 27 तक पहुंच गई. प्राधिकरण के अनुसार मोरीगांव में चार, सोनितपुर और उदालगिरी में दो-दो जबकि कामरूप (महानगर) और नौगांव जिलों में एक-एक व्यक्ति की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 27 हो गई है.

अक्षय कुमार ने असम बाढ़ और काजीरंगा पार्क के बचाव के लिए दिए 1 करोड़ रुपये


प्राधिकरण ने बताया कि काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में एक गैंडे की मौत हो गई जबकि ब्रह्मपुत्र और उसकी सहायक नदियां गुवाहाटी समेत कई इलाकों में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. बिहार के 12 जिलों में आई बाढ़ से अब तक 67 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 46 लाख 83 हजार से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. आपदा प्रबंधन विभाग से बुधवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार के 12 जिलों - शिवहर, सीतामढी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया एवं कटिहार - में अब तक 67 लोगों की मौत हुई है जबकि 46 लाख 83 हजार से अधिक की आबादी प्रभावित हुई है.

असम में आई बाढ़ से 52 लाख लोग प्रभावित, अभी तक 20 की मौत

एक अधिकारी ने बताया कि नेपाल में पिछले दो दिन में बारिश की कमी होने से अब यहां संक्रमित बीमारियों को फैलने से रोकने पर ध्यान केंद्रित होगा. वहीं मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा ने वेस्ट गारो हिल्स जिला और खासी हिल्स क्षेत्र के कुछ हिस्सों में आई बाढ़ से निपटने के लिए केंद्र सरकार से सहायता मांगी है. बाढ़ की वजह से राज्य में 1.3 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. मिजोरम में 5,000 से ज्यादा लोग राहत शिविरों में रह रहे हैं और पिछले सात दिन में हुई भारी बारिश की वजह से बनी बाढ़ की स्थिति के बाद 4,000 लोगों को खाली कराया जा रहा है.

टिप्पणियां

बिहार में बाढ़ की वजह से अब तक 26 लाख लोग हुए प्रभावित, 33 की मौत 

राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को कुछ हिस्सों में भारी बारिश के बाद न्यूनतम तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई. वहीं, हवा में आर्द्रता का स्तर भी 100 प्रतिशत रहा. सफदरजंग वेधशाला में बारिश 21.6 मिमी और पालम वेधशाला में 16.8 मिमी दर्ज की गई. वहीं रिज, लोधी रोड और आया नगर वेधशाला में क्रमश: 15.1 मिमी, 18.2 मिमी और 12.1 मिमी बारिश दर्ज की गई. (इनपुट भाषा से)     



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement