NDTV Khabar

कर्नाटक विधान सभा चुनाव में आम आदमी पार्टी भी कूदी

आम आदमी पार्टी भले ही दक्षिण के इस राज्य में अपना वजूद तलाशने की कोशिश कर रही हो लेकिन हकीकत ये है कि पार्टी में अरविंद केजरीवाल जैसा कोई करिश्माई नेता नही है और फिलहाल न ही इसका कोई जनाधार दिख रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक विधान सभा चुनाव में आम आदमी पार्टी भी कूदी

अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी इस बार कर्नाटक विधान सभा चुनावों में अपनी किस्मत आज़माएगी. आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पंकज गुप्ता ने गरुवार को बेंगलुरु में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एलान किया कि 'हमने अपने सर्वे में पाया कि कर्नाटक के लोगों को आम आदमी पार्टी से उम्मीद है और वो हमें एक भरोसेमंद विकल्प के तौर पर देख रहे हैं. इस लिए पार्टी ने विधान सभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है. लेकिन कितनी और कौन सी सीटों पर ये अभी तय होना बाक़ी है'. कर्नाटक में विधान सभा चुनाव अप्रैल-मई के महीने में होने हैं. 2013 में हुए विधान सभा चुनावों में कांग्रेस ने 123 सीटें जीतकर सिद्धारमैय्या के नेतृत्व में सरकार  बनाई थी.

बीजेपी के कद्दावर लिंगायत नेता बी एस येद्दयुरप्पा की बगावत की वजह से बीजेपी 40 सीटों पर सिमट गई थी और पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा की पार्टी को  भी 40 सीटें ही मिली थी. एक एंग्लो इंडियन मनोनीत सदस्य सहित कर्नाटक विधान सभा में 225 सीटें हैं.

यह भी पढ़ें : दिल्ली में 23 मार्च से आंदोलन करेंगे अन्ना हजारे, कहा- मेरे आंदोलन से अब कोई केजरीवाल पैदा नहीं होगा 

आम आदमी पार्टी भले ही दक्षिण के इस राज्य में अपना वजूद तलाशने की कोशिश कर रही हो लेकिन हकीकत ये है कि पार्टी में अरविंद केजरीवाल जैसा कोई करिश्माई नेता नही है और फिलहाल न ही इसका कोई जनाधार दिख रहा है. आम आदमी पार्टी के अलावा 2 और पार्टियां इस बार कर्नाटक विधान सभा चुनावों में अपनी किस्मत आजमाएंगी. असाउद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन और हैदराबद की ही डॉ नव्हेर शेख की महिला एम्पावरमेंट पार्टी.

असाउद्दीन ओवैसी पहले ही एलान कर चुके हैं कि उनकी पार्टी इस बार कर्नाटक में चुनाव लड़ेगी. ऐसा माना जाता है कि जिन सीटों पर पिछले चुनावों में मुस्लिम उम्मीदवार जीते हैं उसके साथ-साथ जिन चुनाव छेत्रों में मुस्लिम वोटर्स ज्यादा हैं वहां ओवैसी अपने उम्मीदवार उतारेंगे.

VIDEO : बुजुर्गों को मुफ्त में तीर्थयात्रा कराएगी दिल्ली सरकार​
महिला एम्पावरमेंट पार्टी की अध्यक्ष डॉ नव्हेरा शेख गयदेरबाद की जानी मानी मानवाधिकार कार्यकर्ता है और उन्होंने एनडीटीवी को बताया कि काफी सारे उम्मीदवार सामने आ रहे हैं लेकिन अभी यह तय नही है कि कितनी जगहों से चुनाव लड़ा जाएगा. ट्रिपल तलाक़ पर रोक की हिमायती रही डॉ नव्हेरा शेख हालांकि दोषियों के खिलाफ जेल के प्रावधान की पक्षधर नही हैं. इसके इलावा हाल ही में डीएसपी का पद छोड़ने वाली अनुपम शेनॉय की पार्टी भारतीय जनशक्ति कांग्रेस, सिनेस्टार उपेंद्र की पार्टी प्रजावन्ता जनता पक्ष के साथ साथ कोलार के विधायक वरतूर प्रकाश की पार्टी नम्मा कांग्रेस भी मैदान में है. इन सब के बावजूद मुकाबला बीजेपी सत्तारूढ़ कांग्रेस और देवेगौड़ा की पार्टी जेडीएस के बीच है.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement