करतारपुर कॉरिडोर को लेकर अभिषेक सिंघवी ने रखी अपनी मांग, कहा - पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के नेतृत्व में ही...

बता दें कि पाकिस्तान ने इस कार्यक्रम के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित किया है.पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि उनके देश ने सिंह को करतारपुर गलियारा के उद्घाटन समारोह में आमंत्रित करने का निर्णय लिया है.

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर अभिषेक सिंघवी ने रखी अपनी मांग, कहा - पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के नेतृत्व में ही...

करतारपु कॉरिडोर पर बोले अभिषेक सिंघवी

नई दिल्ली:

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक सिंघवी ने एक सलाह दी है. उन्होंने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल का गठन करके उसे मनमोहन सिंह के नेतृत्व में करतारपुर गलियारा के उद्घाटन समारोह के लिए भेजा जा सकता है. बता दें कि पाकिस्तान ने इस कार्यक्रम के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित किया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि उनके देश ने सिंह को करतारपुर गलियारा के उद्घाटन समारोह में आमंत्रित करने का निर्णय लिया है. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए सिंघवी ने एक ट्वीट में कहा कि वह भारत सरकार को डॉक्टर मनमोहन सिंह को पाकिस्तान द्वारा आमंत्रित किये जाने पर सलाह देते हैं कि प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को एक सर्वदलीय प्रतिनिधि मंडल पाकिस्तान भेजना चाहिए.

पूर्व PM मनमोहन सिंह स्वीकार नहीं करेंगे पाक का न्योता, करतारपुर कॉरिडोर के लिए मिलने वाला था निमंत्रण

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को निजी तौर पर इस तरह के चुनिंदा लोगों का प्रतिनिधिमंडल भेजना चाहिए. यह पी वी नरसिंह राव द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी को संयुक्त राष्ट्र के प्रतिनिधिमंडल का प्रमुख चुने से भी ज्यादा महत्वपूर्ण होगा. कांग्रेस प्रवक्ता ने एक और ट्वीट में कहा कि उनका आशय है कि प्रधानमंत्री मोदी को सिंह से इस प्रतिनिधिमंडल का प्रतिनिधित्व करने का आग्रह करना चाहिए. 

करतारपुर कॉरिडोर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के अधिकारियों के बीच बनी ये सहमति

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही खबर आई थी कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के उद्धाटन समारोह में शामिल होने के पाकिस्तान (Pakistan) के न्योते को स्वीकार नहीं करेंगे. न्यूज एजेंसी ANI  ने कांग्रेस (Congress) सूत्रों के हवाले से बताया था कि मनमोहन सिंह पाकिस्तान का न्योता स्वीकार नहीं. बता दें कि पाकिस्तान ने नवंबर में होने वाले करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित करने का फैसला किया था. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने सोमवार को इसकी जानकारी दी.

करतारपुर गलियारे को लेकर भारत-पाकिस्तान के अधिकारियों  के बीच हुई बैठक, हुआ बड़ा फैसला

यह कॉरिडोर करतारपुर स्थित दरबार साहिब को पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक से जोड़ेगा, जिससे भारतीय श्रद्धालु वीजा मुक्त आवाजाही कर सकेंगे. करतारपुर जाने वाले श्रद्धालुओं को केवल परमिट लेना होगा. भारतीय सिख श्रद्धालुओं के लिए पाकिस्तान इस कॉरिडोर को 9 नवंबर को खोलेगा.

विवाद के बीच पाक से आई अच्छी खबर, 9 नवंबर से सिख श्रद्धालुओं के लिये खुल जाएगा करतारपुर कॉरिडोर

शाह महमूद कुरैशी ने एक टीवी चैनल को बताया, 'करतारपुर गलियारे का उद्घाटन एक बड़ा कार्यक्रम है और पाकिस्तान इसकी जोर-शोर से तैयारी कर रहा है. हमने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को इसमें बुलाने का निर्णय किया है. हम जल्दी ही इस बारे में उन्हें एक औपचारिक पत्र भेजेंगे.' उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह सिख समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं. कुरैशी ने बताया, 'सिख श्रद्धालुओं का स्वागत करके हमें प्रसन्नता होगी, जो गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर करतारपुर आने वाले हैं.' 

VIDEO: भारत-पाकिस्तान के बीच मीटिंग में करतारपुर कॉरिडोर पर बनी बात



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com