केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने दिया था विवादास्पद बयान- विरोध कर रहे लोग पानी से भरे बदबूदार गड्ढे

दो दिन पहले एक कार्यक्रम के दौरान हंगामे के बीच केरल के राज्यपाल आरिफ़ मोहम्मद ख़ान ने एक विवादास्पद बयान दिया है. इतिहास पर एक कार्यक्रम के दौरान वहां मौजूद इतिहासकार इरफ़ान हबीब और कुछ दूसरे लोगों के विरोध के बीच उन्होंने मौलाना आज़ाद के एक बयान का हवाला दिया था.

केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने दिया था विवादास्पद बयान- विरोध कर रहे लोग पानी से भरे बदबूदार गड्ढे

आरिफ मोहम्मद खान का विरोध करने के लिए इरफान हबीब मंच पर चढ़ गए

खास बातें

  • केरल के राज्यपाल हैं आरिफ मोहम्मद खान
  • इतिहासकार इरफान हबीब ने किया था विरोध
  • भारतीय इतिहास कांग्रेस के दौरान हुई थी घटना
नई दिल्ली:

दो दिन पहले एक कार्यक्रम के दौरान हंगामे के बीच केरल के राज्यपाल आरिफ़ मोहम्मद ख़ान ने एक विवादास्पद बयान दिया है. इतिहास पर एक कार्यक्रम के दौरान वहां मौजूद इतिहासकार इरफ़ान हबीब और कुछ दूसरे लोगों के विरोध के बीच उन्होंने मौलाना आज़ाद के एक बयान का हवाला दिया था. विरोध कर रहे लोगों के लिए उन्होंने कहा कि आप लोगों के लिए मौलाना आज़ाद ने पहले कन्वेशन में कहा था,  'देश का बंटवारा गंदगी बहा ले गया लेकिन कुछ गड्ढे बच गए हैं, जिसमें पानी बच गया है और अब उससे बदबू आ रही है'. राज्यपाल के इस बयान को आजकल चल रहे CAA और NRC के विरोध से जोड़ कर देखा जा रहा है. ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्या राज्यपाल महोदय विरोध की आवाज़ को सड़ा हुआ पानी और बदबू बता रहे हैं. अपने बयान पर विवाद के बाद गवर्नर अब भी विरोध करने वालों पर ही निशाना साध रहे हैं. उन्होंने इतिहासकार इरफ़ान हबीब पर बदसलूकी का आरोप लगाया. साथ ही उन्होंने कहा कि राज्यपाल के तौर पर संविधान की रक्षा करने की उन्होंने शपथ ली है और ऐसे में उनका कर्तव्य बनता है कि देश की संसद ने कोई क़ानून बनाया है तो उसका बचाव करें.
 

आरिफ मोहम्मद खान बोले, जम्मू-कश्मीर में Article-370 का प्रयोग आतंकवाद का अड्डा बनाने के लिए किया जा रहा था

आपको बता दें कि केरल के कन्नूर विश्वविद्यालय में आयोजित भारतीय इतिहास कांग्रेस के मंच पर राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से इतिहासकार इरफान हबीब भिड़ गए थे. उन्होंने राज्यपाल पर गुस्से का इजहार किया. आरोप है कि इरफान ने राज्यपाल की सुरक्षा में तैनात कर्मियों से धक्का-मुक्की भी की. केरल के राज्यपाल के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी मंच पर सुरक्षाकर्मियों से उलझे इरफान हबीब की तस्वीर जारी की गई है. केरल गवर्नर के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए ट्वीट में कहा गया है, "इरफान हबीब ने राज्यपाल के उद्घाटन भाषण को बाधित करने की कोशिश की. उन्होंने मौलाना अबुल कलाम आजाद को कोट करने पर राज्यपाल के कहा कि उन्हें गोडसे को कोट करना चाहिए. उन्होंने राज्यपाल के एडीसी और सुरक्षाकर्मी को धक्का भी दिया."  

आरिफ मोहम्मद खान को गवर्नर बनाने पर कांग्रेस की चुटकी, कहा- इस पुरस्कार का तो...

दरअसल, जब राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान भारतीय इतिहास कांग्रेस के 80वें सत्र का उद्घाटन भाषण दे रहे थे, तो उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बोलना शुरू कर दिया, जिसका कुछ लोगों ने विरोध किया. इस दौरान इतिहासकार इरफान हबीब मंच पर चढ़ गए. 

खबरों की खबर : कांग्रेस के पूर्व नेता आरिफ मोहम्मद खान से खास बातचीत​

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com