Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

नवीन पटनायक द्वारा आयोजित भोज में साथ भोजन करते नजर आए अमित शाह और ममता बनर्जी

देश भर में नागरिकता कानून को लेकर चल रहे राजनीतिक बयानबाजी के बीच अमित शाह और ममता बनर्जी की साथ बैठकर भोजन करने की तस्वीर सामने आयी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नवीन पटनायक द्वारा आयोजित भोज में साथ भोजन करते नजर आए अमित शाह और ममता बनर्जी

नवीन पटनायक के भोज में आमने-सामने हुए अमित शाह और ममता बनर्जी

खास बातें

  1. नवीन पटनायक ने आयोजित किया था भोज
  2. ममता बनर्जी के अलावा नीतीश कुमार ने भी लिया हिस्सा
  3. झारखंड के मुख्यमंत्री नहीं पहुंचे हैं बैठक में
नई दिल्ली :

देश भर में नागरिकता कानून को लेकर चल रही राजनीतिक बयानबाजी के बीच अमित शाह और ममता बनर्जी की साथ बैठ कर भोजन करने की तस्वीर सामने आयी है. तस्वीर को ट्वीट किया है ओडिशा के मुख्यमत्री नवीन पटनायक ने. बता दें कि अमित शाह और ममता बनर्जी अभी ओडिशा के दौरे पर हैं. अमित शाह गृहमंत्री बनने के बाद पहली बार ओडिशा पहुंचे हैं जहां शुक्रवार को उन्होंने भुवनेश्वर में एक रैली को संबोधित किया था. वहीं ममता बनर्जी पूर्वी क्षेत्रीय परिषद (EZC) की बैठक में हिस्सा लेने के लिए ओडिशा आयी हुई हैं.

मेट्रो कॉरिडोर के उद्घाटन में नहीं बुलाए जाने पर ममता बनर्जी नाराज, कहा- 'इस प्रोजेक्ट की मंजूरी के लिए मुझे...'

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद (EZC) की बैठक में ममता बनर्जी के अलावा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी हिस्सा लेने पुहंचे हैं. नवीन पटनायक पूर्वी क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष हैं. नेताओं के सम्मान में ओडिशा के मुख्यमंत्री की तरफ से भोज का आयोजन किया गया था. इस भोज में अमित शाह, नीतीश कुमार, ममता बनर्जी के अलावा धर्मेद्र प्रधान ने भी हिस्सा लिया. हालांकि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस बैठक में भाग नहीं लिया है. 


गौरतलब है कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ओडिशा की राजधानी भुवनेश्‍वर में एक सभा को संबोधित किया और विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला. अमित शाह ने CAA के मुद्दे पर देश भर में चल रहे विरोध पर विपक्षी दलों को आड़े-हाथों लेते हुए कहा, "कांग्रेस, ममता दीदी, सपा, बसपा ये सारे लोग CAA का विरोध कर रहे हैं. ये कह रहे हैं कि इससे अल्पसंख्यकों के नागरिक अधिकार चले जाएंगे... अरे इतना झूठ क्यों बोलते हो? मैं आज फिर से यहां कहना चाहता हूं कि CAA से देश के एक भी मुसलमान, एक भी अल्पसंख्यक का नागरिकता अधिकार नहीं जाने वाला है. CAA नागरिकता लेने का कानून है ही नहीं, बल्कि नागरिकता देने का कानून है."

ओडिशा में गृहमंत्री अमित शाह ने CAA को लेकर विपक्ष पर साधा निशाना, कहा - ...अरे इतना झूठ क्यों बोलते हो

टिप्पणियां

उधर बंगाल के मुख्यमत्री ममता बनर्जी सीएए के मुद्दे पर लगातार केंद्र सरकार पर प्रहार करती रही है. हाल ही में बंगाल सरकार ने CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पेश किया था. नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करने वाला पश्चिम बंगाल देश का चौथा राज्य बन गया था. इससे पहले केरल, पंजाब और राजस्थान में इस कानून के खिलाफ प्रस्ताव लाया जा चुका था. इससे पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विपक्षी माकपा और कांग्रेस से राजनीतिक मतभेदों को दरकिनार करते हुए केंद्र में भाजपा सरकार के खिलाफ मिलकर लड़ने का आह्वान भी किया था. 

VIDEO: CAA के खिलाफ प्रस्ताव पास करने वाला चौथा राज्य होगा पश्चिम बंगाल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... फराह खान को सेलिब्रिटीज के वर्कआउट वीडियो शेयर करने पर आया गुस्सा, बोलीं- हमारे ऊपर रहम करिये...

Advertisement