NDTV Khabar

अनुपम खेर का नसीरुद्दीन शाह पर निशाना, पूछा- आपको और कितनी ज्यादा आजादी चाहिए

अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई थी. साथ ही उन्होंने कहा था कई जगहों पर एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अनुपम खेर का नसीरुद्दीन शाह पर निशाना, पूछा- आपको और कितनी ज्यादा आजादी चाहिए

बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर.

खास बातें

  1. अनुपम खेर का नसीरुद्दीन शाह पर निशाना
  2. पूछा- और कितनी आजादी चाहिए
  3. बोले- यहां सेना को गाली दे सकते हैं.
नई दिल्ली:

बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाहद्वारा देश में कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाने वाले बयानको लेकर शनिवार को भी बहस जारी रही. अभिनेता और भाजपा समर्थक अनुपम खेर ने इस बयान को लेकर नसीरुद्दीन शाह पर निशाना साधा है, उन्होंने शाह से पूछा कि इस देश में एक आदमी सेना को गाली दे सकती है, और कितनी ज्यादा आजादी चाहिए. 

अनुपम खेर ने मीडिया से कहा, 'देश में बहुत आजादी है, यहां आप सेना को गाली दे सकते हैं और सेना पर पत्थर फेंक सकते हैं. आपको एक देश में और कितनी ज्यादा आजादी चाहिए. उन्होंने कहा कि वह ऐसा महसूस करते है तो इसका मतलब यह नहीं है कि यह सच्चाई है.'

नसीरुद्दीन के बयान पर पाक पीएम इमरान बोले- पीएम मोदी को दिखाएंगे कि अल्पसंख्यकों से कैसे व्यवहार करते हैं


नसीरूद्दीन शाह के बयान के बाद भाजपा सरकार के मंत्री भी अपने बचाव में उतरे हैं. केंद्रीय मंत्री मुख्तार नकवी ने शनिवार को कहा कि देश के डीएनए में सहिष्णुता होने के कारण वरिष्ठ अभिनेता के बच्चे को डरने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि तिल का ताड़ बनाया जा रहा है. नकवी ने कहा, ‘मैं समझता हूं कि उनकी भावनाएं सही हो सकती हैं लेकिन उनके शब्दों का संभवत: गलत मतलब निकाला गया और तिल का ताड़ बनाया गया. भारत एक सहिष्णु देश है. सहिष्णुता और भाईचारा देश के डीएनए में है. इस मजबूत विरासत को नष्ट करने में कोई भी सफल नहीं हुआ.'

साथ ही उन्होंने कहा, 'उनको बच्चे (शाह के) डरने की जरूरत नहीं है. देश संविधान के आधार पर आगे बढ़ रहा है और एक लोकतांत्रिक देश में किसी को डरने की जरूरत नहीं है.'

नसीरुद्दीन शाह बोले- गाय की मौत को पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी गई, देखें वीडियो

बता दें, अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने प्रत्यक्ष तौर पर हाल ही में भीड़ द्वारा की गई हिंसा का हवाला देते हुए कहा था कि कई जगहों पर एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी गई. अभिनेता ने अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर भी चिंता जताई. उनका कहना है कि उन्होंने अपने बच्चों को किसी खास धर्म की शिक्षा नहीं दी है. शाह 'कारवां-ए-मोहब्बत इंडिया' द्वारा किए गए वीडियो साक्षात्कार में यह टिप्पणी कर रहे थे. इस संगठन ने सोमवार को यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो पोस्ट किया है. 

अभिनेता का कहना है कि ‘जहर फैलाया जा चुका है' और अब इसे रोक पाना मुश्किल होगा. उन्होंने कहा, ‘इस जिन्न को वापस बोतल में बंद करना मुश्किल होगा. जो कानून को अपने हाथों में ले रहे हैं, उन्हें खुली छूट दे दे गई है. कई क्षेत्रों में हम यह देख रहे हैं कि एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की मौत से ज्यादा तवज्जो दी गई.'

राहुल गांधी ने हरेन पंड्या, जज लोया सहित गिनाए सात नाम, कहा- इन्हें किसी ने नहीं मारा...खुद मर गए

शाह ने कहा कि स्थिति जल्द सुधरने वाली नहीं है. उन्होंने कहा कि वह डरे हुए नहीं हैं बल्कि गुस्से में हैं. उन्होंने कहा, ‘ मैं अपने बच्चों के लिए चिंतित हूं क्योंकि कल को अगर भीड़ उन्हें घेरकर पूछती है, ‘‘ तुम हिंदू हो या मुसलमान?' तो उनके पास इसका कोई जवाब नहीं होगा. यह मुझे चिंतित करता है और मुझे नहीं लगता कि इन हालात में जल्द कोई सुधार होगा.'

(इनपुट-एएनआई)

टिप्पणियां

योगेंद्र यादव का दावा, 2019 में बीजेपी खो सकती है 100 सीटें, पीएम मोदी की लोकप्रियता गिरी

VIDEO- दिग्गज अभिनेता नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर के बीच ज़ुबानी जंग



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement