NDTV Khabar

राफेल को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के खुलासे पर बोले अरुण जेटली- वह अपनी ही बात काट रहे हैं

अरुण जेटली ने कहा, ‘‘फ्रांस सरकार ने कहा है कि दसॉल्ट एविएशन के आफसेट करार पर फैसला कंपनी ने किया है और इसमें सरकार की भूमिका नहीं है.’

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के खुलासे पर बोले अरुण जेटली- वह अपनी ही बात काट रहे हैं

वित्त मंत्री अरुण जेटली ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली:

राफेल सौदे में रिलायंस के लिए लॉबिंग करने के आरोप में घिरी मोदी सरकार के बचाव में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने फेसबुक पर पोस्ट लिखा है. जेटली ने फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रंस्वा ओलांद के उस बयान सवाल उठाए हैं कि जिसमें उन्होंने कहा है कि भारत सरकार ने ही रिलायंस का नाम का प्रस्ताव किया था और उस समय कोई दूसरा विकल्प नहीं था. जेटली ने रविवार को फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि ओलांद ने अब कहा है कि न तो भारत और न ही फ्रांस सरकार की दसॉल्ट द्वारा रिलायंस को भागीदार के रूप में चुनने में कोई भूमिका थी. गौरतलब है कि राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति के बयान के बाद भारी राजनीतिक विवाद पैदा हो गया था.  ओलांद ने कहा था कि राफेल लड़ाकू जेट निर्माता कंपनी दसॉल्ट ने आफसेट भागीदार के रूप में अनिल अंबानी की रिलायंस डिफेंस को इसलिये चुना क्योंकि भारत सरकार ऐसा चाहती थी. हालांकि, फ्रांस सरकार और दसॉल्ट एविएशन ने पूर्व राष्ट्रपति के बयान को गलत ठहराया था.


फ्रांस्वा ओलांद अपने बयान पर कायम, कहा- मोदी सरकार में नए फॉर्मूले के तहत रिलायंस का नाम तय हुआ


जेटली ने कहा, ‘‘फ्रांस सरकार ने कहा है कि दसॉल्ट एविएशन के आफसेट करार पर फैसला कंपनी ने किया है और इसमें सरकार की भूमिका नहीं है.’’ जेटली ने कहा कि दसॉल्ट खुद कह रही है कि उसने आफसेट करार के संदर्भ में कई सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की कंपनियों के साथ अनेक करार किया है और यह उसका खुद का फैसला है.  जेटली ने ‘एक सवाल खड़ा करने वाला बयान जिसमें परिस्थितियां और तथ्य नहीं’ शीर्षक से फेसबुक पोस्ट में कहा कि दसॉल्ट और रिलायंस ने खुद आपसी करार किया, जैसा पूर्व राष्ट्रपति ओलांद अब कह रहे हैं.’’ 

राफेल पर तकरार: फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद कांग्रेस और मोदी सरकार के बीच जुबानी जंग शुरू, 15 प्वाइंट्स में जानें पूरा विवाद


वहीं न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में आज जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से लगाए जा रहे आरोपों पर कहा कि पब्लिक डिस्कोर्स लाफ्टर चैलेंज नहीं है, आप किसी को हग कर लो, आंख मार लो और फिर गलत बयान देते रहो. लोकतंत्र में प्रहार होते हैं, लेकिन शब्दावली ऐसी हो जिसमें बुद्धि दिखाई दे. 

टिप्पणियां

इंडिया 9 बजे: राफेल को लेकर फिर शुरू हुई रार

इनपुट : भाषा से 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement