NDTV Khabar

Atal Bihari Vajpayee health LIVE updates: पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी का निधन

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Critical) की हालत बेहद नाज़ुक है. एम्स (AIIMS) ने मेडिकल बुलेटिन जारी कर अटल बिहारी वाजयेपी की तबियत के बारे में यह जानकारी दी है. अटल बिहारी वाजयेपी (Atal Bihari Vajpayee Health) 11 जून से एम्स में भर्ती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Atal Bihari Vajpayee health LIVE updates: पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी का निधन

Atal Bihari Vajpayee Health Update: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी 11 जून से एम्स में भर्ती हैं.

खास बातें

  1. 11 जून से एम्स में भर्ती हैं अटल बिहारी वाजपेयी
  2. एम्स ने मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया हालत बेहद नाजुक
  3. पीएम नरेंद्र मोदी सहित कई केंद्रीय मंत्री एम्स पहुंचे
नई दिल्ली:

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Critical) की हालत बेहद नाज़ुक है. AIIMS (एम्स) ने मेडिकल बुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी. बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटे में उनकी हालत बिगड़ी है. इससे पहले बुधवार को PM नरेंद्र मोदी (PM Modi), केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, पीयूष गोयल और मीनाक्षी लेखी उन्हें देखने एम्स पहुंचे थे. अटल बिहारी वाजपेयी लगभग दो महीने से AIIMS में भर्ती हैं. उन्हें (Atal Bihari Vajpayee) लाइफ़ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है. PM नरेंद्र मोदी बुधवार शाम करीब सवा सात बजे एम्स पहुंचे थे और वहां करीब 50 मिनट तक रुके. इससे पहले एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा था कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की तबियत स्थिर है. उन्हें इंजेक्शन द्वारा एंटिबॉयटिक्स दिए जा रहे हैं. गुरुवार को कई केंद्रीय मंत्री, BJP प्रमुख अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा कई मुख्यमंत्री उन्हें देखने अस्पताल पहुंचे.

अटल बिहारी वाजपेयी झींगा मछली और चाइनीज़ फूड के हैं शौकीन, जानिए मीठे में क्या है पसंद


पूर्व प्रधानमंत्री एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया की निगरानी में हैं. अटल बिहारी वाजपेयी  की सेहत (Atal Bihari Vajpayee Health) पर कुछ दिन पहले एम्स की ओर से मेडिकल बुलेटिन जारी किया गया था जिसमें उनकी सेहत स्थिर बताई गई थी.

Atal Bihari Vajpayee Health LIVE Updates :

- नहीं रहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, गुरुवार शाम 5:05 बजे दिल्‍ली स्थित एम्‍स में ली अंतिम सांस.

- बसपा प्रमुख मायावती भी एम्‍स पहुंचीं.

- पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का हाल जानने एम्‍स पहुंचे छत्तीगढ़ के मुख्‍यमंत्री रमन सिंह.
 


- मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अटल बिहारी वाजपेयी को देखने एम्‍स पहुंचे.
 
- अटल बिहारी वाजपेयी के बिगड़ती तबियत पर छत्तीसगढ़ कें मुख्‍यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा, राज्‍य और पूरा देश उनके लिए प्रार्थना कर रहा है. हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि उन्‍हें जल्‍द से जल्‍द ठीक कर दें और उन्‍हें लंबी उम्र प्रदान करें.'
 
- केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने कहा, अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बेहद नाजुक. 5 बजे के बाद जारी होगा एम्‍स का मेडिकल बुलेटिन.

- बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी अटल बिहारी वाजपेयी का हाल जानने एम्‍स पहुंचे.
 


- पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी को देखने AIIMS पहुंचे नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी
 

- कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी एम्‍स पहुंचे जहां पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को लाइफ सपोर्ट सिस्‍टम पर रखा गया है.
 

- बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह भी एम्‍स से निकले.
 

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के स्वास्थ्य का हालचाल जानने के लिए एम्स पहुंचे. वाजपेयी की हालत नाजुक बनी हुई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एम्स से निकल चुके हैं. वह करीब 45 मिनट तक एम्स में रुके थे.

- एम्स जल्द ही अटल बिहारी वाजपेयी को लेकर बयान जारी कर सकता है. 

- पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह एम्स पहुंचे. 

- पीएम मोदी एम्स के लिए निकल चुके हैं. अमित शाह भी कुछ देर में पहुंचेंगे. 

- ओडिशा के मुख्यमंत्री तथा बीजू जनता दल (BJD) प्रमुख नवीन पटनायक ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत गंभीर होने की ख़बर पर कहा, "मैं दो साल तक उनके मंत्रिमंडल में रहा हूं, और उनके स्वास्थ्य के बारे में मिली ख़बर दुःखी करती है... वह महान नेता थे, और उनके नीचे काम करना बहुत अच्छा अनुभव रहा... मैं आज ही दिल्ली जाऊंगा..."

-जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला ने AIIMS पहुंचकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बारे में बात करते हुए कहा, "हम सभी को उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रार्थना करनी चाहिए... हमें नहीं भूलना चाहिए कि वह ऐसे नेता था, जो देश को मज़बूत बनाना चाहते थे... वह सिर्फ हमारे देश में नहीं, सारे विश्व में शांति लाना चाहते थे..."

- कई राज्यों के मुख्यमंत्री दिल्ली पहुंच रहे हैं.

- अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया भी एम्स पहुंचे. 

- दिल्ली में AIIMS की तरफ आने वाले अरविंद मार्ग पर भारी ट्रैफिक, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की सलाह - अगस्त क्रांति मार्ग का इस्तेमाल करें, AIIMS जाने वाली सड़कों से बचें.

-  अटल जी के घर के बाहर धारा 144 लगाई गई.

-  राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली के लिए रवाना हुए.

- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी AIIMS पहुंचे.

- दिल्ली के सीएम के मीडिया सलाहकार ने कहा, अटल जी की सेहत ठीक नहीं होने के चलते मुख्‍यमंत्री केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को कहा कि उनका जन्‍मदिन ना मनाएं

- दिल्ली में AIIMS की तरफ आने वाले अरविंद मार्ग पर भारी ट्रैफिक, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की सलाह - अगस्त क्रांति मार्ग का इस्तेमाल करें, AIIMS जाने वाली सड़कों से बचें.

- एम्स ने नया बुलेटिन जारी किया है, जिसके मुताबिक, उनकी स्थिति पहले की तरह ही नाजुक बनी हुई है. 
 

- पूर्व पीएम अटल जी का पूरा परिवार एम्स पहुंच चुका है. 

- पूर्व पीएम प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सभी रिश्तेदारों को एम्स बुला लिया गया है. 

- केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह भी एम्स पहुंच चुके हैं. 
 

- विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी एम्स पहुंचीं. -  PM नरेंद्र मोदी फिर से कुछ ही देर में पहुंच सकते हैं AIIMS. इससे पहले राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा समेत कई नेता पिछले एक घंटे से एम्स में भर्ती हैं. 

- पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को देखने अब बीजेपी के सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी बेटी प्रतिभा आडवाणी के साथ एम्स पहुंचे. बता दें कि पूर्व पीएम की हालत काफी नाजुक है और वह लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखे गये हैं.

- कुछ देर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को देखने एम्स जाएंगे. 

-  पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को देखने गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी एम्स पहुंचे. 

- पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी कांति मिश्रा ने कहा, "मैं परमात्मा से प्रार्थना करती रही हूं कि एक बार मैं उन्हें फिर भाषण देते हुए देख पाऊं... हमारा परिवार उनकी वह छवि कभी अपने दिमाग से निकाल नहीं पाएगा... मैं चाहती हूं कि वह जल्द ही स्वस्थ हो जाएं..." - अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Health) की स्वास्थ्य को लेकर 10.30 बजे एम्स जारी करेगा नया हेल्थ बुलेटिन जारी. 

-पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को देखने AIIMS पहुंचे BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह.

- उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से मिलने एम्स पहुंचे. पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की हालत काफी नाजुक है. वहां उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है. इससे पहले भी पीएम मोदी सहित कई लोग देखने पहुंच चुके हैं. - मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की.
 
- वाजयेपी की हालत बेहद गंभीर होने के बाद केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह और अश्विनी चौबे भी एम्स पहुंचे.
 
- केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और शहनवाज हुसैन भी पूर्व पीएम से मिलने देर रात एम्स पहुंचे.
 
- केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु भी देर रात एम्स पहुंचे.
 
-  एम्स ने देर रात मेडिकल बुलेटिन जारी कर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बेहद नाजुक होने की जानकारी दी. 

9robm17o

 


 
इससे पहले केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत के बारे में जानने के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) गईं थी.

 


इससे पहले गृह मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार (11 अगस्त) को एम्स जाकर वाजपेयी की सेहत के बारे में जानकारी ली थी. वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था. मधुमेह के शिकार 93 वर्षीय भाजपा नेता का एक ही गुर्दा काम करता है.

VIDEO : अटल बिहारी वाजयेपी की हालत बेहद नाजुक

टिप्पणियां

पूर्व प्रधानमंत्री एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया की निगरानी में हैं. वाजपेयी की सेहत पर कुछ दिन पहले एम्स की ओर से मेडिकल बुलेटिन जारी किया गया था जिसमें उनकी सेहत स्थिर बताई गई थी.

अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के रूप में तीन बार देश का नेतृत्व किया है. वे पहली बार साल 1996 में 16 मई से 1 जून तक, 19 मार्च 1998 से 26 अप्रैल 1999 तक और फिर 13 अक्टूबर 1999 से 22 मई 2004 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं. अटल बिहारी वाजपेयी हिन्दी के कवि, पत्रकार और प्रखर वक्ता भी हैं. भारतीय जनसंघ की स्थापना में भी उनकी अहम भूमिका रही है. वे 1968 से 1973 तक जनसंघ के अध्यक्ष भी रहे. आजीवन राजनीति में सक्रिय रहे अटल बिहारी वजपेयी लम्बे समय तक राष्ट्रधर्म, पाञ्चजन्य और वीर अर्जुन आदि पत्र-पत्रिकाओं के सम्पादन भी करते रहे हैं. वाजपेयी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के समर्पित प्रचारक रहे हैं और इसी निष्ठा के कारण उन्होंने आजीवन अविवाहित रहने का संकल्प लिया था. सर्वोच्च पद पर पहुंचने तक उन्होंने अपने संकल्प को पूरी निष्ठा से निभाया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement