NDTV Khabar

अयोध्या मामला: देशभर की मस्जिदों में मुस्लिमों से अपील- फैसला चाहे जो हो, अमन को रखें कायम

देशभर की तमाम मस्जिदों में शुक्रवार को जुमे की नमाज़ में मुसलमानों से अपील की गई कि अयोध्या मामले का चाहे जो फैसला हो वो अमन कायम रखें.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अयोध्या मामला: देशभर की मस्जिदों में मुस्लिमों से अपील- फैसला चाहे जो हो, अमन को रखें कायम

देशभर की मस्जिदों में मुस्लिमों से अपील की गई

खास बातें

  1. देशभर की मस्जिदों में मुस्लिमों से अपील
  2. 'फैसला चाहे जो हो, अमन को रखें कायम'
  3. 'मुस्लिम किसी तरह के प्रदर्शन में शामिल ना हों'
नई दिल्ली:

देशभर की तमाम मस्जिदों में शुक्रवार को जुमे की नमाज़ में मुसलमानों से अपील की गई कि अयोध्या मामले का चाहे जो फैसला हो वो अमन कायम रखें. वो ना तो खुशियां मनाएं और ना ही गम और ना ही किसी तरह के प्रदर्शन में शामिल हों. अपील में कहा गया कि इसी महीने में पैगंबर मोहम्‍म्‍द साहब पैदा हुए हैं. इसलिए इस महीने की पवित्रता बरकरार रखें. इसके लिए मशहूर धर्म गुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगीमहली ने अपील की थी. लखनऊ की जामा मस्जिद ईदगाह में नमाजी खुदा की इबादत में मशगूल रहे लेकिन अयोध्‍या मसले के फैसले को लेकर वे तमाम तरह के अंदेशों से घिरे हैं. ऐसे में पेश इमाम उन्‍हें समझाते हैं कि वो डरें नहीं. वे भी इस मुल्‍क में बराबर के शाहिर हैं और फैसला आने पर एक अच्‍छे मुसलमान का फर्ज निभाएं.

अयोध्या केस में फैसले से पहले RSS ने बनाई अग्रिम रणनीति, BJP के संगठन मंत्री बीएल संतोष भी बैठक में पहुंचे


पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्‍य मौलाना खालिद रशीद फिरंगीमहली ने कहा, 'जो भी सुप्रीम कोर्ट का फैसला आए हम उसका एहतराम करें और इस सिलसिले में ना कोई जश्‍न मनाएं और न उसमें कोई एहतेजाज करें. ना नारेबाजी करें और ना कोई ऐसी बात कहें जो किसी भी कौम के लिए या किसी भी कौम की धार्मिक भावनाओं या किसी भी कौम के मजहबी जज्‍बात को मजरूह करने वाला हो.'

मौलाना मुसलमानों को याद दिलाते हैं कि ये महीना पैगंबर मोहम्‍मद साहब की पैदाइश का महीना है इसलिए और भी जरूरी है कि उनकी तालीम याद रखी जाए. वो कहते हैं, 'अल्‍लाह ने खुद कुरान में फरमाया है कि अल्‍लाह जमीन पर फसाद और बिगाड़ पैदा करने वालों को हरगिज पसंद नहीं करता है. और एक दूसरी आयत में अल्‍लाह ने फरमाया जिसका आसान जुबान में तर्जुमा यह है कि 'जो शख्‍स भी किसी भी इंसान का नाहक कत्‍ल करता है वो ऐसा है जैसे उसने पूरी इंसानियत का कत्‍ल कर दिया हो. और जो इंसान किसी भी इंसान की जान बचाता है तो वो ऐसा है जैसे उसने पूरी इंसानियत की जान बचा ली.'

टिप्पणियां

NDTV से बातचीत में बोले देश के अगले CJI एसए बोबडे- अयोध्या पर फैसला मेरे और सबके लिए महत्वपूर्ण

कुरान और पैगंबर के हवाले से मौलानाओं की अपील का आवा पर अच्‍छा असर नजर आता है. अयोध्‍या में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर खास तैयारी है. एहतियातन बड़े पैमाने पर सुरक्षाबलों की तैनाती की जा रही है. प्रशासन लगातार अलग-अलग मठ-मंदिरों के साधु संतों से बैठक कर हर हाल में शांति बनाए रखने की अपील कर रहा है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement