NDTV Khabar

बाबरी मामला : वेंकैया ने आरोपी नेताओं का बचाव किया, कांग्रेस ने उमा का इस्तीफा मांगा

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि आरोपियों में से एक उमा भारती कैबिनेट मंत्री हैं. आरोप तय किए जाने के बाद उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए.

930 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाबरी मामला : वेंकैया ने आरोपी नेताओं का बचाव किया, कांग्रेस ने उमा का इस्तीफा मांगा

केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू (फाइल तस्वीर)

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में आरोपों का सामना कर रहे भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का जोरदार बचाव करते हुए विश्वास जताया कि वे 'बेदाग' निकलेंगे. वहीं कांग्रेस ने कैबिनेट मंत्री उमा भारती के इस्तीफे की मांग की.

विशेष सीबीआई अदालत ने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं - लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती को मंगलवार को जमानत दे दी, जब वे अदालत के समक्ष बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में उसके समक्ष उपस्थित हुए. अदालत ने मस्जिद को गिराने की कथित साजिश को लेकर उनके खिलाफ आरोप भी तय किए. नायडू ने संवाददाताओं से कहा कि आरोपों का सामना कर रहे भाजपा नेता 'निर्दोष' हैं और वे 'बेदाग' निकलेंगे.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी आडवाणी से मुलाकात की. भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि धरती की कोई ताकत अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं रोक सकती. उमा भारती ने अदालत में पेश होने से पहले कहा कि वह मस्जिद 'किसी आपराधिक षडयंत्र' के तहत नहीं गिराई गई थी, बल्कि वह एक 'खुला आंदोलन' था. उन्होंने कहा, 'मैं 6 दिसंबर, 1992 को अयोध्या में मौजूद थी, जो कोई रहस्य नहीं है. करोड़ों भाजपा कार्यकर्ता, लाखों अधिकारियों और हजारों नेताओं ने भाग लिया.'

उमा ने कहा, 'यह आपातकाल के खिलाफ आंदोलन की तरह एक खुला आंदोलन था. मुझे इसमें कोई साजिश नहीं दिखती.' उधर, कांग्रेस ने कहा कि उमा भारती को हटाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कानून तथा संविधान का पालन करना चाहिए.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि आरोपियों में से एक उमा भारती कैबिनेट मंत्री हैं. आरोप तय किए जाने के बाद उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए. भाजपा नेता और मामले में आरोपी विनय कटियार ने जोर दिया कि कोई साजिश नहीं थी और एक बड़ी भीड़ ने मस्जिद गिरा दी थी. एक समय भाजपा के 'फायरब्रांड' नेता रहे विनय कटियार ने सपा नेता मुलायम सिंह यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि अयोध्या में नब्बे के दशक में कारसेवकों पर गोलीबारी के लिए उनके खिलाफ मामला दर्ज होना चाहिए.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement