Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ट्रंप की यात्रा से पहले अहमदाबाद नगर निगम ने झुग्गीवासियों को जगह खाली करने का नोटिस दिया

दीवार खत्म करने के बाद अब अहमदाबाद नगर निगम झुग्गीवासियों को जगह खाली करने का नोटिस जारी किया.

ट्रंप की यात्रा से पहले अहमदाबाद नगर निगम ने झुग्गीवासियों को जगह खाली करने का नोटिस दिया

डोनाल्ड ट्रंप अहमदाबाद के दौरे पर आने वाले हैं (फाइल फोट)

अहमदाबाद:

गुजरात के अहमदाबाद नगर निगम (AMC) ने नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम के समीप झुग्गियों में रह रहे कम से कम 45 परिवारों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की 24 फरवरी को निर्धारित यात्रा से पहले उस जगह को खाली करने का नोटिस दिया है.हालांकि अधिकारियों ने इस प्रस्तावित हाईप्रोफाइल यात्रा और नोटिस जारी किये जाने के बीच किसी तरह के संबंध से इनकार किया है लेकिन झुग्गीवासियों ने इस कदम के समय को लेकर सवाल उठाया है. यह कदम ऐसे समय उठाया गया है, जब महज कुछ दिन पहले एएमसी ने उस मार्ग पर पड़ने वाली झुग्गियों को कथित रूप से ढ़कने के लिए एक दीवार खड़ी करनी शुरू की जिस मार्ग से अमेरिकी राष्ट्रपति के गुजरने की संभावना है.

डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर शिवसेना का मोदी सरकार पर तंज- यात्रा की तैयारी दिखा रही गुलाम मानसिकता

नोटिस में कहा गया है, ‘‘आपने एएमसी की जमीन का अतिक्रमण किया है. अगले सात दिनों में अपने सारे सामानों के साथ यह जगह खाली करिए वरना खाली कराने के लिए विभागीय कार्रवाई की जाएगी. यदि आपको कोई आवेदन देना है तो आप 19 फरवरी की अपराह्र तीन बजे तक दें.'' ये झुग्गियां अहमदाबाद और गांधीनगर को जोड़ने वाली सड़क के साथ लगी हुई हैं और मोटेरा स्टेडियम से करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर हैं. झुग्गीवासी शैलेष बिलवा ने मंगलवार को दावा किया कि एएमसी के अधिकारी पिछले सात दिनों में कई बार यहां आ चुके हैं. दिहाड़ी मजदूर दिनेश अद्रवानी ने सवाल किया, ‘‘ हम एक दशक से भी अधिक समय से यहां रह रहे हैं. हमें अतीत में कभी भी इस जगह को खाली करने का नोटिस नहीं मिला. अब हमें क्यों नोटिस दिया गया है.''

भारत आने से पहले डोनाल्ड ट्रंप का ट्वीट, लिखा- मैं फेसबुक पर नंबर 1 और PM नरेंद्र मोदी नंबर 2

अद्रवानी ने कहा कि उसे 18 फरवरी तक झुग्गी खाली करने को कहा गया है. बिलवा ने हा, ‘‘हम खाली करने को तैयार हैं लेकिन हमें वैकल्पिक आवास की जरूरत है, अन्यथा हम फुटपाथ पर आने को मजबूर हो जायेंगे. हम यहां महिलाओं और बच्चों समेत परिवार के सदस्यों के साथ रहते हैं. हम सरकार से हमें वैकल्पिक जमीन देने की प्रार्थना करते हैं जहां हम रह सकें.'' इस बीच एएमसी के उप संपदा अधिकारी (पश्चिम क्षेत्र) चैतन्य शाह ने कहा कि इस नोटिस का निर्धारित ‘नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम से कोई लेना देना नहीं है. मोदी और ट्रंप 24 फरवरी को ‘नमस्ते ट्रंप' के तहत मोटेरा के सरदार पटेल स्टेडियम में एक लाख से अधिक लोगों को संबोधित करने वाले हैं. ट्रंप का अहमदाबाद में रोडशो में हिस्सा लेने का भी कार्यक्रम है.

VIDEO: सिटी सेंटर: ताकि ट्रंप को न दिखे झुग्गियां?



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)