डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर शिवसेना का मोदी सरकार पर तंज- यात्रा की तैयारी दिखा रही गुलाम मानसिकता

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) 24 और 25 फरवरी को भारत दौरे पर होंगे. बीते मंगलवार व्हाइट हाउस ने इसकी घोषणा की थी. ट्रंप दिल्ली के अलावा गुजरात के अहमदाबाद भी जाएंगे.

डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर शिवसेना का मोदी सरकार पर तंज- यात्रा की तैयारी दिखा रही गुलाम मानसिकता

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • भारत आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप
  • डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी को पहुंचेंगे भारत
  • ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप भी होंगी साथ
नई दिल्ली:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) 24 और 25 फरवरी को भारत दौरे पर होंगे. बीते मंगलवार व्हाइट हाउस ने इसकी घोषणा की थी. ट्रंप दिल्ली के अलावा गुजरात के अहमदाबाद भी जाएंगे. ट्रंप के दौरे को लेकर हाल ही में एक विवाद भी सामने आया था. अहमदाबाद में ट्रंप को झुग्गी-झोपड़ियां न दिखें, इसके लिए झोपड़ियों के आगे दीवार खड़ी कर दी गई. जिसके बाद तमाम विपक्षी दलों ने मोदी सरकार पर हमला बोला. अब शिवसेना (Shiv Sena) ने पार्टी के मुखपत्र 'सामना' के जरिए मोदी सरकार पर निशाना साधा है. शिवसेना ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बहुप्रतीक्षित भारत यात्रा के लिए हो रही तैयारी भारतीयों की गुलाम मानसिकता को प्रदर्शित करती है.

'सामना' के संपादकीय में कहा गया कि ट्रंप की भारत यात्रा किसी बादशाह की यात्रा की तरह है. अहमदाबाद में एक भूखंड पर कथित तौर पर दीवार बनाए जाने की आलोचना करते हुए शिवसेना ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति की यात्रा से न तो विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपये के गिरते मूल्य में सुधार होगा और न ही दीवार के पीछे झुग्गियों में रहने वालों की हालत सुधरेगी. ट्रंप की यात्रा से पहले, अहमदाबाद में उस भूखंड पर दीवार बनाई जा रही है जिसमें कई झुग्गियां हैं. 'सामना' में कहा गया, 'स्वतंत्रता से पहले ब्रिटेन के राजा और रानी भी अपने गुलाम देश में जाते थे. ट्रंप की यात्रा के लिए करदाताओं के पैसे से इसी प्रकार की तैयारियां हो रही हैं. यह भारतीयों की गुलाम मानसिकता का परिचायक है.'

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी को भारत का दौरा करेंगे : व्हाइट हाउस

अहमदाबाद में झुग्गी-झोपड़ियों वाले भूखंड पर झुग्गियां छिपाने के लिए अहमदाबाद नगर निगम द्वारा दीवार बनाने के निर्णय को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की आलोचना करते हुए शिवसेना ने कहा कि ट्रंप के काफिले की नजर से झुग्गियों को छुपाने के लिए दीवार बनाई जा रही है. मराठी प्रकाशन ने अपने संपादकीय में कहा है 'कभी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 'गरीबी हटाओ' का नारा दिया था जिसका लंबे समय तक मजाक उड़ाया गया था. ऐसा लगता है कि अब मोदी की योजना 'गरीब छुपाओ' की है.' संपादकीय में सवाल किए गए हैं कि क्या अहमदाबाद में इस तरह की दीवार बनाने के लिए कोई वित्तीय आवंटन किया गया है. क्या देशभर में ऐसी दीवार बनाने के लिए अमेरिका भारत को लोन की कोई पेशकश करने जा रहा है. पार्टी ने संपादकीय में कहा है 'हमने सुना है कि ट्रंप अहमदाबाद में केवल तीन घंटे ही रहेंगे लेकिन दीवार के निर्माण से राजकोष पर करीब 100 करोड़ रुपये का भार पड़ रहा है.' (इनपुट भाषा से भी)

Newsbeep

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : दीवार के पीछे झुग्गी और जेल में सत्याग्रही

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com