Coronavirus: बिहार में तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों की खोज की तो 70 और विदेशी प्रचारक मिल गए

बिहार में मिले अधिकांश विदेशियों का कोरोना वायरस टेस्ट अभी तक निगेटिव आया, उन्हें क्वारंटाइन कर रखा गया

Coronavirus: बिहार में तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों की खोज की तो 70 और विदेशी प्रचारक मिल गए

प्रतीकात्मक फोटो.

पटना:

Coronavirus: बिहार में तब्लीगी जमात और उसके मरकज़ में शामिल लोगों की खोज करते-करते पिछले 36 घंटों में उन 70 विदेशी प्रचारकों का पता चला है जो महीनों से बिहार में रह रहे थे. इनमें राजधानी पटना में 31 लोग मिले जिसमें से किर्गिस्तान के 16, कजाकिस्तान का एक और नेपाल के 14 धर्म प्रचारक मिले. इसके अलावा बक्सर में 11 लोग मिले जिसमें से सात इंडोनेशिया के और चार मलेशिया के धर्म प्रचारक हैं. इसके अलावा किशनगंज में 11 और अररिया में नौ धर्म प्रचारक मिले हैं जो कि इंडोनेशिया, मलेशिया और बांग्लादेश के हैं. समस्तीपुर में भी आठ बांग्लादेशी धर्म प्रचारक मिले. इनमें से अधिकांश का कोरोना वायरस टेस्ट अभी तक निगेटिव आया है, लेकिन उन्हें क्वारंटाइन कर रखा गया है. राज्य सरकार को इतनी बड़ी संख्या में धर्म प्रचारकों के राज्य में होने का अंदाज़ा नहीं था.

हालांकि मरकज में शामिल हुए जिन 86 लोगों की सूची बिहार सरकार को मिली थी उनमें से 74 फ़िलहाल दिल्ली में हैं जहां उन्हें ऑब्ज़र्वेशन में रखा गया है. वहीं एक व्यक्ति अपने घर पर बिहार में है और बाकी की तलाश जारी है. इसके अलावा जिन 57 तब्लीगी जमात से सम्बंधित धर्म प्रचारकों की सूची राज्य सरकर को मिली थी उनमें से 35 का पता तो चला है लेकिन बाकी के पते गलत होने के कारण फिलहाल उनके बारे में कोई सूचना नहीं है. और 35 में से 24 फ़िलहाल दिल्ली वापस जा चुके हैं.

राज्य सरकार का कहना है कि अभी तक इनमें से किसी की रिपोर्ट पॉज़िटिव तो नहीं आई है लेकिन राज्य सरकार सभी को निगरानी में रख रही है और इनकी आने वाले दिनों में भी जांच होगी.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com