बिहार : कन्हैया कुमार ने दुष्यंत की कविता के साथ किया प्रचार का आगाज'...कमल भी अब कुम्हलाने लगे हैं'

"कैसे-कैसे मंज़र सामने आने लगे हैं, गाते-गाते लोग चिल्लाने लगे हैं, अब तो इस तालाब का पानी बदल दो यारों...क्योंकि तालाब के कमल भी अब कुम्हलाने लगे हैं"

बिहार : कन्हैया कुमार ने दुष्यंत की कविता के साथ किया प्रचार का आगाज'...कमल भी अब कुम्हलाने लगे हैं'

पटना:

जेएनयू के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार ने शुक्रवार को बिहार में चुनाव प्रचार का आगाज जोरदार तरीके से करते हुए नीतीश सरकार पर हमला बोला है. खोदावंदपुर में आरजेडी उम्मीदवार राजवंशी महतों के समर्थन में प्रचार करते हुए कन्हैया कुमार ने कहा है कि इस बार आर-पार की लड़ाई है और यह चेहरे की लड़ाई नहीं बल्कि नीति और नियत की लड़ाई है. जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ने कहा कि इस बार महागठबंधन के पांच सहयोगी पांडव सरकार को उखाड़ फेंकने में सक्षम है और जनता सरकार के दोहरी नीति को इस बार पूरी तरह सबक सिखाएगी .

कन्हैया कुमार ने कहा कि इस कोरोना काल मे बाहर रहने वाले मजदूरों को कितनी जिल्लत भरी जिंदगी जीनी पड़ी यह बिहार की जनता अभी तक नहीं भूली है. कन्हैया कुमार ने कहा कि इस बार का चुनाव चुनाव नहीं बल्कि बिहार को बचाने का और अपना भविष्य संवारने का चुनाव है.

यह भी पढ़ें बिहार : चुनावी अखाड़े में उतरे कन्हैया कुमार BJP पर बरसे, बोले- EVM की जगह अब CM हैक हो रहे 

केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि अभी के माहौल में परमिशन और कमीशन का जो खेल चल रहा है उसे जनता पूरी तरह देख रही है. केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि कोरोना काल में केंद्र सरकार के द्वारा बत्तियां बुझाई गई, थाली पीटे गए लेकिन उससे कोई हल नहीं निकलने वाला. आम जनमानस को विकास चाहिए और यही सरकार का नारा भी होना चाहिए .

दुष्यंत की कविता दोहराते हुए कन्हैया कुमार ने कहा, "कैसे-कैसे मंज़र सामने आने लगे हैं, गाते-गाते लोग चिल्लाने लगे हैं, अब तो इस तालाब का पानी बदल दो यारों...क्योंकि तालाब के कमल भी अब कुम्हलाने लगे हैं"

दुष्यंत की कविता कहकर कन्हैया कुमार ने कहा कि बिहार में बदलाव की बयार है और इस बार बदलाव होकर रहेगा. साथ ही साथ कन्हैया कुमार ने कहा कि पूर्व में जिस तरह चुनाव नतीजों के बाद रिजोट रिजोट का खेल खेला जाता है और विधायकों की खरीद-फरोख्त की जाती है वह किसी भी कीमत पर इस बार नहीं करने दी जाएगी और लोकतंत्र की रक्षा की जाएगी .

Newsbeep

देशद्रोह मामले में बोले कन्हैया कुमार- फास्टट्रैक कोर्ट में चले केस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com