NDTV Khabar

तेल की बढ़ती कीमतों पर बीजेपी का राहुल गांधी पर पलटवार, कहा- ननिहाल में पेट्रोल की कीमत पता कर लें

बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को चुनौती देते हुए सलाह दी कि पेट्रोल पर झूठ की राजनीति बंद कर वह पहले अपने ननिहाल इटली में पेट्रोल का मूल्य पता कर लें, जहां भारत के डेढ़ गुणा से भी ज्यादा कीमत पर पेट्रोल बिक रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेल की बढ़ती कीमतों पर बीजेपी का राहुल गांधी पर पलटवार, कहा- ननिहाल में पेट्रोल की कीमत पता कर लें

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कांग्रेस देश की जनता को बरगला कर राजनीति करना चाहती है
  2. पेट्रोल पर झूठ की राजनीति बंद करें राहुल गांधी
  3. वह पहले अपने ननिहाल इटली में पेट्रोल का मूल्य पता कर लें
नई दिल्ली: पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर कांग्रेस के 'भारत बंद' के बाद बीजेपी ने अब कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को निशान पर लिया है. झारखंड प्रदेश बीजेपी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस देश की जनता को बरगला कर राजनीति करना चाहती है. बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को चुनौती देते हुए सलाह दी कि पेट्रोल पर झूठ की राजनीति बंद कर वह पहले अपने ननिहाल इटली में पेट्रोल का मूल्य पता कर लें, जहां भारत के डेढ़ गुणा से भी ज्यादा कीमत पर पेट्रोल बिक रहा है. 

10 साल में UPA से ज़्यादा 4 साल में NDA ने उत्पाद शुल्क चूस लिया...

प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर ने कहा कि भाजपा के शासन में पेट्रोल के दाम कम हुए थे. लेकिन अंतरराष्ट्रीय कारणों से विश्व में तेल का उत्पादन घटा है, जिससे कच्चे तेल की कीमतों में अभूतपूर्व उछाल आया है. कच्चा तेल 80 डॉलर प्रति बैरल बिक रहा है. सऊदी अरब, तुर्की, ईरान, रूस, वेनेजुएला जैसे बड़े तेल उत्पादक देशों ने उत्पादन घटा दिया है, जिससे कीमतें बढ़ी हैं. प्रभाकर ने कहा कि हांगकांग में पेट्रोल की कीमत 157 रुपये प्रति लीटर एवं इटली में 137.38 रुपये प्रति लीटर है, जबकि इंग्लैंड और जर्मनी में 125 रुपये प्रति लीटर है. विश्व के ज्यादातर देशों में पेट्रोल के मूल्य भारत से ज्यादा हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन में पेट्रोल की कीमत आज से ज्यादा थी. कांग्रेस कुंठित और हताश हो चुकी है तथा पेट्रोल के मुद्दे पर झूठ की राजनीति कर रही है. 

राजस्थान, आंध्र प्रदेश के बाद पश्चिम बंगाल में भी पेट्रोल-डीजल के दाम कम हुए, ममता ने केंद्र से की यह 'गुजारिश'

कांग्रेस के काल में सितंबर 2013 में पेट्रोल की कीमत कोलकाता में 83.63 रुपये थी, जबकि आज इसी कीमत उससे कम 83.39 रुपये है. उन्होंने ने कहा कि केंद्र सरकार चाहती है कि तेल के दामों में नियंत्रण रखा जाए, लेकिन कोई राज्य यहां तक कि गैर भाजपा शासित राज्य भी पेट्रोल पर जीएसटी लागू करने को तैयार नहीं और न ही अपना कर घटाने को तैयार हैं. प्रभाकर ने कहा कि कांग्रेस अब गांधीवाद का रास्ता छोड़ चुकी है और आतंकवाद तथा नक्सलवाद से प्रेरित होकर हिंसा के सहारे सत्ता पाना चाहती है. 

सरकार पेट्रोल-डीजल पर नहीं घटाएगी एक्साइज़ ड्यूटी: सूत्र

टिप्पणियां
वहीं कांग्रेस के भारत बंद के दौरान जिले के महू कस्बे के पेट्रोल पम्प परिसर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर पर कालिख पोतने वाले समूह में कथित तौर पर शामिल तीन कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया. यह बंद पेट्रोलियम उत्पादों की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार को बुलाया था. 

VIDEO: क्या पेट्रोल-डीजल पर जरूरत से ज्यादा टैक्स?

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement