NDTV Khabar

पी चिदंबरम ने कोर्ट में किया CBI के दावे का खंडन, कहा- ऐसा कोई सवाल नहीं, जिसका मैंने जवाब नहीं दिया

INX Media Case: पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने गुरुवार को कोर्ट में सीबीआई के उस दावे का खंडन किया, जिसमें कहा गया था कि यह आईएनएक्स मीडिया केस की जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पी चिदंबरम ने कोर्ट में किया CBI के दावे का खंडन, कहा- ऐसा कोई सवाल नहीं, जिसका मैंने जवाब नहीं दिया

पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने कोर्ट में किया CBI के दावे का खंडन.

खास बातें

  1. पी चिदंबरम ने कोर्ट में किया CBI के दावे का खंडन
  2. कहा- ऐसा कोई सवाल नहीं, जिसका मैंने जवाब नहीं दिया
  3. चिदंबरम को 26 अगस्त सीबीआई रिमांड पर भेज दिया गया
नई दिल्ली:

INX Media Case: पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने गुरुवार को कोर्ट में सीबीआई के उस दावे का खंडन किया, जिसमें कहा गया था कि यह आईएनएक्स मीडिया केस की जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में चिदंबरम ने कहा, 'कृप्या सवाल और जवाब देखिए. ऐसा कोई सवाल नहीं, जिसका मैंने जवाब नहीं दिया. कृप्या ट्रांसक्रिप्ट पढ़ें. उन्होंने मुझसे पूछा था कि क्या मेरा विदेश में बैंक अकाउंट है, मैंने कहा था नहीं. उन्होंने मुझसे पूछा था कि आपके बेटे का विदेश में अकाउंट है तो मैंने कहा था, हां.' गौरतलब है कि चिदंबरम (P Chidambaram) को गिरफ्तार के बाद गुरुवार को सीबीआई की विशेष कोर्ट में पेश किया गया था, जहां से उन्हें 26 अगस्त सीबीआई रिमांड पर भेज दिया गया. 

कांग्रेस के युवा नेता भावुक होकर बोले- भले ही राहुल जी को मेरी बात पसंद नहीं आए, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि...


गौरतलब है कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम से उनके कार्यकाल में आईएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश के लिए दी गयी मंजूरी में कथित भ्रष्टाचार के सिलसिले में गुरुवार सुबह करीब चार घंटे तक पूछताछ की. सूत्रों ने बताया कि एजेंसी के अधिकारियों के दल ने उनसे मंजूरी दिये जाने की प्रक्रिया, आईएनएक्स मीडिया की कर्ताधर्ता इंद्राणी मुखर्जी से कथित मुलाकातों, कंपनियों चैस मैनेजमेंट और एडवांटेज स्ट्रेटेजिक आदि के संबंध में विभिन्न पहलुओं पर पूछताछ की. 

गुरुवार सुबह करीब चार घंटे तक पूछताछ के बाद चिदंबरम को दिल्ली की एक विशेष अदालत ले जाया गया जिसने उन्हें सोमवार तक सीबीआई की हिरासत में भेज दिया. सूत्रों के अनुसार अदालत से उनकी वापसी के बाद भी एजेंसी द्वारा उनसे सवाल-जवाब किये जाने की संभावना है. अधिकारियों ने बताया कि पुलिस उपाधीक्षक आर पार्थसारथी के नेतृत्व में अधिकारियों की एक टीम वित्त मंत्री के रूप में चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान आईएनएक्स मीडिया में 305 करोड़ रुपये के विदेशी निवेश को मंजूरी दिए जाने में हुए कथित भ्रष्टाचार की जांच कर रही है.

...दूसरे मामले की जांच करते हुए ऐसे सामने आया था INX मीडिया केस, फिर ED ने CBI को लिखा था खत

चिदंबरम ने सीबीआई मुख्यालय में भूतल पर स्थित एजेंसी के अतिथि गृह के सुइट नंबर पांच में रात गुजारी. सीबीआई मुख्यालय को एक तरह से किले में तब्दील कर दिया गया है और दिल्ली पुलिस ने इस ओर आने-जाने वाले यातायात को लेकर पाबंदी लागू कर रखी है. सीबीआई मुख्यालय में पुलिस की बड़ी टुकड़ी सुरक्षा का जिम्मा संभाल रही है जहां चिदंबरम को हिरासत में रखा गया है. पत्रकारों की सघन तलाशी और उन्हें सुरक्षा पास जारी करने के बाद सीबीआई कार्यालय में जाने की इजाजत दी जा रही है.

कांच के पैनल वाले मीडिया कक्ष को गुरुवार को को सील कर दिया गया था क्योंकि पास के गलियारे से आरोपियों की आवाजाही होती है. इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी द्वारा संचालित आईएनएक्स मीडिया को 2007 में (जब चिदंबरम वित्त मंत्री थे) विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने में कथित अनियमितताओं को लेकर सीबीआई ने 15 मई 2017 को मामला दर्ज किया था. सीबीआई ने इंद्राणी और पीटर मुखर्जी के साथ ही पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम, चैस मैनेजमेंट सर्विसेज एंड एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंसल्टिंग लिमिटेड को भी नामजद किया था.

उत्तर प्रदेश: कर्ज से दबे किसान ने पोस्टर लगाकर किया किडनी बेचने का ऐलान

पूर्व वित्त मंत्री को मामले में पूछताछ के लिए पिछले साल ही तलब किया गया था. वह पूछताछ के लिए पेश हुए थे. उनके बेटे कार्ति से भी एजेंसी कई बार पूछताछ कर चुकी है. चिदंबरम को नाटकीय घटनाक्रम के बाद बुधवार रात उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया गया था.

टिप्पणियां

VIDEO: INX मीडिया मामला: कोर्ट में पी चिदंबरम ने अपने बचाव में क्या-क्या कहा?​
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement