सीएम केजरीवाल ने किया दिल्ली में प्लाज्मा बैंक बनाने का ऐलान, डॉ. असीम गुप्ता के परिवार को 1 करोड़ की सहायता राशि देनी की भी घोषणा

सीएम ने कहा, ''डॉ. असीम गुप्ता लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में बहुत ही सीनियर डॉक्टर थे. वह कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहे थे और उनकी ड्यूटी आईसीयू में थी''.

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कुछ देर पहले लाइव प्रेस कॉन्फ्रेंस की. अपनी इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने डॉ. असीम गुप्ता की मौत के बारे में बात की. उन्होंने कहा, ''डॉ. असीम गुप्ता लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में बहुत ही सीनियर डॉक्टर थे. वह कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहे थे और उनकी ड्यूटी आईसीयू में थी.'' सीएम केजरीवाल ने आगे कहा, ''उनके साथी बताते हैं कि वह अपना काम बेहद ही लगन से करते थे और हमेशा मरीजों की सेवा किया करते थे''. 

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा, ''हालांकि, 3 जून को डॉ. असीम गुप्ता खुद कोरोना से पीड़ित हो गए और उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया और अंत में वह कोरोना से लड़ते हुए हम सबको छोड़ कर चले गए. उनकी पत्नी को भी कोरोना हुआ था लेकिन वह अब पूरी तरह से ठीक हैं''. सीएम केजरीवाल ने कहा, ''ऐसे लोगों की वजह से ही हम सब कोरोना से लड़ पा रहे हैं''. 

उन्होंने कहा, ''डॉ. असीम गुप्ता हम सबके लिए एक प्रेरणा है और हम सब दिल्लीवासी उनकी इस सेवा को नमन करते हैं. दिल्ली सरकार उनके सम्मान में उनके परिवार को 1 करोड़ रुपए की सम्मान राशि देगी. यह एक छोटी सी राशि है, जो देश और दिल्ली के लोगों की तरफ से उनके परिवार को दी जाएगी''. 

इसके अलावा सीएम केजरीवाल ने कहा कि ''दिल्ली देश का पहला राज्य है, जहां प्लाजमा थेरेपी की शुरुआत की गई थी. ढाई महीने पहले दिल्ली में 29 मरीजों के ऊपर ट्रायल हुआ था और इसके उत्साहवर्धक नतीजे देखे गए थे. उन्होंने कहा, कोरोना के कारण दो समस्याएं होती हैं. पहली, मरीज का ऑक्सीजन लेवल गिर जाता है. दूसरी, रेस्पिरेशन का लेवल बहुत बढ़ जाता है. 29 मरीजों को हमने प्लाज्मा दिया, जिसके अच्छे नतीजे आए. हमने रिपोर्ट को केंद्र सरकार को सौंपा और उसके आधार पर केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार और प्राइवेट अस्पतालों में प्लाज्मा थेरेपी की इजाजत दी''.

उन्होंने कहा, ''प्लाज्मा केवल वही लोग दे सकते हैं जो कोरोना ग्रस्त हुए और अब ठीक हो गए हैं. इस समय लोग प्लाज्मा लेने के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं. दिल्ली सरकार ने तय किया है कि हम दिल्ली में प्लाज्मा बैंक बनाएंगे. यह पूरे देश में शायद पहला प्लाज्मा बैंक होगा. हमारा मकसद है कि जो अभी कोशिशें चल रही हैं उसको मजबूत किया जाए. पिछले दो-तीन दिन में इसकी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं. इस प्लाज्मा बैंक से सभी को प्लाज्मा मिलेगा चाहे वह सरकारी अस्पताल में हो या प्राइवेट अस्पताल में. यह प्लाजमा बैंक ILBS हॉस्पिटल में बनाया जाएगा. प्लाज्मा के लिए डॉक्टर की सिफारिश जरूरी होगी.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा, ''डॉक्टर आईएलबीएस अस्पताल को अप्रोच करेंगे और अस्पताल उनको प्लाज्मा दे देगा. जो लोग ठीक हो गए हैं, उनको सामने आकर प्लाज्मा डोनेट करना होगा, यह सबसे जरूरी है. लोग अभी भी कर रहे हैं लेकिन इसके लिए कोई व्यवस्था नहीं है इसलिए अब व्यवस्था बना दी जाएगी. जो लोग भी कोरोना से ठीक हुए हैं, उनसे प्रार्थना कि आप  प्लाज्मा डोनेट करें. यही सच्ची भगवान की भक्ति है लोकनायक अस्पताल में पिछले दिनों 35 लोगों को दिय्या प्लाज्मा और इससे 34 मरीजों की जान बचाई गई''.

उन्होंने कहा, ''एक प्राइवेट अस्पताल में कोरोना से ठीक हुए 49 लोगों ने प्लाज्मा दिए गए और 46 लोग बच गए. अगले कुछ दिनों में हम लोग नंबर जारी कर देंगे, जो लोग भी प्लाज्मा डोनेट करना चाहते हैं वह उस पर फोन करके संपर्क करें सारा इंतजाम हो जाएगा. जो मरीज अब ठीक हो रहे हैं उनको भी मनाया जाएगा और प्रेरित किया जाएगा कि वह प्लाज्मा डोनेट करें''.